नोबलमैन कहानी

    नोबलमैन एक आगामी बाॅलीवुड फिल्म है जिका निर्देशन वन्दना कटारिया ने किया है। फिल्म में कुणाल कपूर, सोनी राजदान और मोहम्मद अली मीर मुख्य भूमिका में हैं। नोबलमैन एक साइकोलॉजिकल ड्रामा फिल्म है। फिल्म में कुणाल कपूर लीड रोल में हैं। वंदना कटारिया निर्देशित फिल्म किशोरों के वर्षों के संघर्ष के बारे में बात करती है और बदमाशी (बुलिंग) के प्रासंगिक विषय से संबंधित है, जो उच्च विद्यालयों में व्याप्त है।

    फिल्‍म की कहानी
    पॉश बोर्डिंग स्कूल माउंट नोबल हाई में दसवीं कक्षा में पढ़नेवाला शाय (अली हाजी) अपने मोटे और क्यूट दोस्त गणेश (हार्दिक ठक्कर) और सहेली पिया (मुस्कान जाफरी) के साथ खुश है, मगर उसे जब ड्रामा टीचर मुरली (कुणाल कपूर) शेक्सपियर के नाटक 'द मर्चेंट ऑफ वेनिस' के मुख्य पात्र के लिए चुनता है, तो उसकी जिंदगी में हादसों का सिलसिला शुरू हो जाता है। बोर्डिंग स्कूल के सबसे पावरफुल गैंग का मुखिया अर्जुन (मोहम्मद अली मीर) जो फुटबॉल चैंपियन है अपने दोस्त बादल (शान ग्रोवर) के साथ मिलकर शाय को हर तरह से प्रताड़ित करता है।
     
    असल में वह चाहता है कि शाय नाटक का लीड रोल छोड़ दे और वह रोल बादल को मिल जाए, मगर शाय अपना पसंदीदा अभिनय और पात्र छोड़ने को राजी नहीं है। शाय का साथ देने की कीमत उसके दोस्तों पिया और गणेश को भी चुकानी पड़ती है। यहां अर्जुन के गैंग का मुकाबला करने के साथ शाय अपनी होमो सेक्शुएलिटी को लेकर भी जूझता है। जैसे-जैसे कहानी आगे बढ़ती जाती है, बदमाश गैंग की बदमाशी बढ़ती जाती है और एक वक्त ऐसा आता है, जब वे अपनी सारी हदें पार कर जाते हैं। 
     
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X