खिलाड़ी 786 कहानी

    खिलाड़ी 786 वर्ष 2012 में आई एक हिंदी-पंजाबी कॉमेडी एक्शन फिल्म है, जिसका निर्देशन आशीष आर मोहन ने किया है। फिल्म में अक्षय कुमार, असिन मुख्य भूमिका में हैं, तो वहीं सहायक भूमिका में हिमेश रेशमियां, मिथुन चक्रवर्ती, राज बब्बर, मुकेश ऋषि,भारती सिंह नजर आये।

    कहानी 
    फिल्म की कहानी शुरु होती है बहत्तर सिंह (अक्षय कुमार) से जो कि पंजाब पुलिस की चोरों को पकड़ने में मदद करता है साथ ही स्मगलर्स से जुड़ी जानकारियां भी पुलिस तक पहुंचाता है। उसका पूरा परिवार सट्टार सिंह (राज बब्बर), इख्तार सिंह (मुकेश ऋषि) भी यही काम करते हैं और साथ में अपना खुद का अखाड़ा भी चलाते हैं। इनके परिवार की हरकतों को देखते हुए कोई भी इनके परिवार में अपनी बेटी की शादी नहीं करना चाहते। 

    दूसरी तरफ तात्या तुकाराम तेंदुलकर (मिथुन चक्रवर्ती) एक बहुत ही मशहूर गैंगस्टर है जिसकी एक बहन है इंदु (आसिन) जो कि तुकाराम द्वारा पसंद किये गये हर एक लड़के के साथ शादी करने से मना कर देती है। मनसुख (हिमेश रेशमिया) एक मैचमेकर है। उसके पिता उससे हमेशा नाराज रहते हैं क्योंकि वो कोई भी काम ठीक से नहीं करता। आखिरकार वो ये ठान लेता है कि अपने पिता को कुछ करके दिखाएगा। 

    मनसुख तुकाराम की बहन की शादी बहत्तर सिंह से कराने का फैसला करता है और उसके बाद शुरु होता है झूठ का सिलसिला। वो तुकाराम को इस बात के लिए राजी कर लेता है कि वो बहत्तर सिंह से कहे कि वो खुद पुलिस में है। तुकाराम भी तैयार हो जाता है। फिर इंदु और बहत्तर सिंह की शादी को लेकर कई ऐसी परिस्थितियां बनती हैं जो कि हास्यप्रद हैं।
     
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X