ड्रीम गर्ल कहानी

    ड्रीम गर्ल एक बॉलीवुड कॉमेडी रोमांस ड्रामा है, जिसका निर्देशन राज शांडिल्य ने किया है। फिल्म में आयुष्मान खुरानानुशरत भरुचा, सुमोना चक्रवर्ती, विजय राज, मंजोत सिंह और अन्‍नू कपूर आदि कलाकार मुख्‍य भूमिका में हैं। फिल्‍म को सचिन-जिगर ने संगीत दिया है। इसके अलावा अगर फिल्‍म के प्रोडक्‍शन की बात करें तो एकता कपूर के साथ, शोभा कपूर और आशीष सिंह ने इस फिल्‍म को प्रोड्यूस किया है।

    कहानी विस्‍तार से
    बचपन से ही करमवीर सिंह (आयुष्मान खुराना) महिलाओं की आवाज में बात करने में माहिर है। वह मोहल्ले की रामलीला में सीता बनता है और जन्माष्टमी में कृष्ण की राधा। उसकी कला से सभी इतने प्रभावित रहते हैं कि मोहल्ले के लोग उसे आम तौर पर देखते ही सीता मैया कहकर चरण स्पर्श करने लगते हैं। लेकिन उसके पिता (अन्नू कपूर) के सिर पर लोन का भार है और उसे चुकाने के लिए करम लंबे समय से नौकरी की तलाश में है।
     
    उसकी तलाश जाकर खत्म होती है एक 'फ्रैंडशिप कॉल सेंटर' पर, जहां उसे लड़की की आवाज़ में ग्राहकों को फोन पर इंटरटेन करना होता है। कॉल सेंटर के मालिक (राजेश शर्मा) भी करम की आवाज सुनकर हैरान रह जाते हैं.. और उसे फौरन नौकरी पर रख लेते हैं। यहां से करम बन जाता है पूजा.. पूजा की आवाज़ का जादू पूरे शहर में इस तरह चलता है कि क्या इंस्पेक्टर और क्या ऑटो ड्राइवर, सभी पूजा- पूजा की माला जपने लगते हैं।
     
    पूजा सभी की तन्हानियां दूर करती है। लेकिन पूजा के अंदर बैठा करम खुद को इस जंजाल से बाहर निकालना चाहता है। वह अपनी मंगेतर माही (नुसरत भरूचा) को चाहकर भी सब सच नहीं बता पाता। इस सब के बीच करम को अहसास होता है कि दुनिया में लोग कितने अकेले हैं.. कि उन्हें अपनी बातों को शेयर करने के लिए भी एक पूजा की जरूरत पड़ती है। खैर, जब पूजा के सभी चाहने वाले उससे शादी करना चाहते हैं और एक एक कर उससे मिलने की ज़िद ठानने लगते हैं, तो पूजा की मुसीबत शुरु होती है। अब करम इस मुसीबत से कैसे निकलता है और उसकी जिंदगी क्या मोड़ लेती है, यह देखने के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना होगा।
     
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X