अंधाधुन कहानी

    अंधाधुन 2018 में रिलीज हुई बॉलीवुड की एक थ्रिलर फिल्म है, जिसका निर्देशन श्रीराम राघवन ने किया है। फिल्म में आयुष्मान खुरानातब्बूराधिका आप्टे प्रमुख किरदारों मे हैं। फिल्म में आयुष्मान खुराना एक पियानो प्लेयर की भूमिका में है। फिल्म 31 अगस्त 2018 को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। 

    फिल्‍म की कहानी
    फिल्म की शुरूआत ही बेचैन कर देने वाले सीन से होती है। जहां एक गोभी के खेत में खरगोश इधर-उधर दौड़ता हुआ नजर आ रहा है और एक शिकारी लगाता उसपर निशाना लगा रहा है लेकिन उसका निशाना बार-बार चूक रहा है। फिर जोर से बंदूक की आवाज आती है और स्क्रीन ब्लैक हो जाती है। ये तो सिर्फ शुरूआत है अंधाधुन ऐसे कई सरप्राइजेज से भरी पड़ी है। 

    आकाश (आयुष्मान खुराना) एक अंधे व्यक्ति का किरदार निभा रहे हैं जो पियोनो बजाता है और वो एक परफेक्ट धुन की तलाश कर रहा है। उसके पास एक ब्लैक एंड व्हाइट बिल्ली है जो उसकी एकलौती साथी है और म्यूजिक पार्टनर भी। फिर एक दिन आकाश एक एक्सिंडेट के जरिए टकराता है सोफी (राधिका आप्टे) से जो कि एक आकर्षक लड़की है। दोनों के बीच में एक स्पार्क मालूम होता है। इसी बीच ऑडिएंस को कुछ ट्रैफिक नियमों का ज्ञान भी दिया जाता है। दूसरी तरफ, प्रमोद सिन्हा aka पम्मी (अनिल धवन) हैं जो कि गुजरे जमाने के बॉलीवुड स्टार हैं। 

    वे अपने कमरे में उनकी फिल्मों के पुराने पोस्टर्स लगा कर रखते हैं। इसके अलावा वे यू-ट्यूब पर अपनी फिल्मों के वीडियोज और उनपर मिले तारीफों वाले कमेंट्स देखते रहते हैं। उनकी एक बीवी है सिमि (तब्बू) जो उनसे काफी छोटी है और उसकी खुद की कुछ ख्वाहिशे हैं। वहीं आगे की कहानी में आकाश खुद को एक कमरे में पियानो बजाते हुए पाता है। इसी कमरे में पड़ी है एक डेड बॉडी। जितना वो इससे दूर जाने की कोशिश करता है उतना ही फंस जाता है। विश्वासघात और चालबाजी के चलते नैतिकता दांव पर लग जाती है।
     
    पुरस्‍कार
    अंधाधुन को 66 वें राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कारों में बेस्‍ट हिंदी फिल्‍म कटेगरी के अंतर्गत राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार दिया गया है।
     
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X