जीवनी
प्रकाश राज एक बेहद ही मंझे हुए भारतीय कलाकार,निर्माता, टीवी होस्ट हैं।  दक्षिण भारतीय सिनेमा से कमल हासन के बाद प्रकाश राज पहले ऎसे कलाकार है जिन्होंने हिन्दी सिनेमा में अपनी छाप छोड़ी। कन्नड़ और तेलुगु सिनेमा के अभिनेता प्रकाश राज ने "सिंघम", "वान्टेड" और "दबंग-2" के जरिए बॉलीवुड में खलनायक की खाली जगह को भरने का काम किया।

पृष्ठभूमि
प्रकाश राज का जन्म 26 मार्च 1965 को बैंगलोर में हुआ था। प्रकाश राज का असली नाम प्रकाश राय है, जिसे उन्होंने तमिल डायरेक्टर के. बालाचंदर के कहने पर बदला था। प्रकाश बैंगलोर एक बेहद निम्न मध्यमवर्गीय परिवार से हैं। प्रकाश के पिता का नाम मंजुनाथ राय और माता का नाम स्वर्णलता राय है।  प्रकाश ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई बैंगलोर के सेंट जोसफ स्कूल से की है। अपने स्कूल समय में वह एक प्रतिभाशाली छात्र माने जाते थे। उसके बाद स्नातक की पढ़ाई सेंट जोसफ कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स से की।

शादी
प्रकाश राज की शादी अभिनेत्री ललित कुमारी से 1994 में हुई थीं।  इनकी दो बेटी और एक बेटा भी है। किन्ही कारणों से 2009 में इनका अलगाव हो गया।

करियर
प्रकाश राज ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत दूरदर्शन के धारावाहिक "बिसिलु कुदुरे" से की। प्रकाश राज ने अपने फिल्मीं करियर में कई फ़िल्में की।  इस दौरान उन्हें राष्ट्रीय पुरूस्कार से भी नवाजा गया। प्रकाश राज ने अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत साल 1998 में फिल्म हिटलर से की थी।  लेकिन पहचान उन्हें वांटेड के किरदार घनी भाई से मिली।  

प्रकाश राज की प्रसिद्ध फ़िल्में:
इंद्रप्रस्थम, बन्धनम,वीआईपी, नंदनी,शांति शांति शांति,वन्नावली, आज़ाद,गीता ,ऋषि, दोस्त, सिंघम, वांटेड, बुड्ढा होगा तेरा बाप, हीरोपंती, एंटरटेनमेंट,मुरारी,इंद्रा, इडियट,शक्ति द पावर, फूल्स, गंगोत्री,स्मार्ट द चैलेंज ,पोकरी,राणा,लायन, रुद्रमादेवी।

प्रकाश राज से जुडी अनसुनी बातें:
1- प्रकाश राज का असली नाम प्रकाश राय है।   जिसे उन्होंने तमिल डायरेक्टर के. बालाचंदर के कहने पर बदला था।
2- प्रकाश राज ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत दूरदर्शन के धारावाहिक "बिसिलु कुदुरे" से की। 
3-प्रकाश राज बॉलीवुड में एक नए विलेन के रूप में उभरें हैं।  वह अब तक हिंदी फिल्मों में बतौर विलेन कई फिल्मों में नज़र आ चुकें हैं। जिनमे शामिल है- सिंघम,दबंग 2, बुड्ढा होगा तेरा बाप, सिंह साहब द ग्रेट, वांटेड,जंजीर। 
4-प्रकाश राज एक सफल अभिनेता होने के साथ-साथ सफल निर्देशक भी हैं , वह अब तक कई तेलगु, तमिल, कन्नड़ फिल्मों को निर्देशित कर चुके हैं। 
5- दक्षिण भारतीय सिनेमा से कमल हासन के बाद प्रकाश राज पहले ऎसे कलाकार है जिन्होंने हिन्दी सिनेमा में अपनी छाप छोड़ी।
6- प्रकाश राज ने पहला प्ले अपने स्कूल में किया था।  वह अब तक तकरीबन 2000 प्ले कर चुके हैं।  वह आज जिस मुकाम पर वह उसका सारा श्रेय तमिल निर्देशक के बालाचंद्र को देतें हैं। 
7- प्रकाश राज को हिंदी सिनेमा में पहचान सलमान खान स्टारर फिल्म वांटेड से मिली।  
8-  प्रकाश राज को उनके 29 साल के करियर में अब 5 बार राष्ट्रिय पुरूस्कार से नवाजा जा चूका है। 
9- प्रकाश राज जितने बड़े साउथ और बॉलीवुड के विलेन हैं, उतने ही उनके विवाद हैं। यहां है उनसे जुड़े विवादों की सूची

-प्रकाश राज के गुस्से से तो सभी वाकिफ वह कभी-कभी बिना किसी बात के लोगों पर विफर जाते हैं, जिस कारण से उन्हें तेलगु सिनेमा अब तक 6 बार प्रतिबंधित कर चूका है। 
-फिल्म सिंघम के डाइलॉग को लेकर भी प्रकाश राज काफी विवादों में आ गए थे।  
फिल्म में प्रकाश राज अजय को डराते हुए कहता है कि वह उसके खात्मे के लिए 1000 लोगो को कर्नाटका बॉर्डर से बुला लेगा, इस पर अजय ( बाजीराव सिंघम) कहता है कि एक शेर को हज़ार (शू)कुत्ते क्या मारेंगें।  इस डाइलॉग को कन्नड़ फिल्म एसोसिएशन ने फिल्म में पोस्टर तक जला दिए थे।  इसके बाद फिल्म की पूरी टीम ने और प्रकाश राज ने कन्नड़ फिल्म एसोसिएशन से माफ़ी मांगी। प्रकाश राज ने कहा कि मै खुद कन्नडियन हूँ, मै किसी की भावना आहत नहीं करना चाहता।  

Buy Movie Tickets