जीवनी
एकता कपूर भारतीय टीवी और फिल्मों की निर्माता हैं। वे अपनी प्रोडक्शन कंपनी बालाजी टेलीफिल्मस की ज्वाइंट मैनेजिंग डायरेक्टर और क्रिएटिव डायरेक्टर हैं। उन्हें 2012 में एशिया के सोशल इंपावरमेंट अवार्ड-फ्रीडम थ्रु एजुकेशन से सम्मानित किया जा चुका है। 

पृष्ठभूमि-
एकता का जन्म मुंबई में हुआ था। उनके पिता का नाम जीतेंद्र है जो कि अपने समय के मशहूर अभिनेता रहे हैं। उनकी मां का नाम शोभा कपूर है। उनके एक छोटे भाई भी हैं जिनका नाम तुषार कपूर है और वे भी बाॅलीवुड फिल्मों के अभिनेता हं। 

पढ़ाई-
कपूर ने अपनी स्कूली पढ़ाई बांबे स्काटिश स्कूल, माहिम से की है। इसके बाद काॅलेज की पढ़ाई उन्होंने मीठीबाई काॅलेज से की। 

करियर-
उन्होंने कई सोप ओपेरा, टेलीविजन सीरीज और फिल्मों को प्रोड्यूस किया है। उनके सोप ओपेरा जिनमें हम पांच, क्योंकि सांस भी कभी बहू थी, कहानी घर घर की, कसौटी जिंदगी की, काव्यंजलि, कभी सौतन कभी सहेली, कहीं तो होगा, किस देश में है मेरा दिल, कसम से, कुसुम, कुटुंब, बंदिनी, कितनी मोहब्बत है, तेरे लिए, प्यार की ये एक कहानी, परिचय-नई जिंदगी के सपनों का, गुमराह, एंड आॅफ इनोसेंस, क्या हुआ तेरा वादा, पवित्र रिश्ता, बड़े अच्छे लगते हैं आदि। वे अभी जोधा अकबर, पवित्र बंधन, मेरी आशिकी तुमसे ही, इतना करो ना मुझे प्यार, कलश-एक विश्वास, कुमकुम भाग्य और ये हैं मोहब्बतें जैसे सीरियल्स की निर्माता हैं। 

बाॅलीवुड में भी है एकता कर जलवा-
उन्होंने बाॅलीवुड फिल्मों के प्रोडक्शन में 2001 में आई फिल्म क्योंकि मैं झूठ नहीं बोलता से कदम रखा। इसके बाद उन्होंने 2003 और 2004 में क्रमशः कुछ तो है और सुपरनैचुरल थीम पर आधारित कृष्णा काॅटेज में काम किया। इसके बाद उन्होंने क्या कूल हैं हम के लिए काम किया जिसमें उनकंे भाई तुषार कपूर ही हीरो थे। इसके बाद संजय गुप्ता की फिल्म शूटआउट एट लोखंडवाला की वे को-प्रोड्यूसर रहीं। मिशन इंस्तांबुल और ईएमआईःलेना है तो चुकाना पड़ेगा में भी काम किया। 
2010 से 2014 के बीच में उन्होंने उनकी लव सेक्स और धोखा, वन्स अपाॅन ए टाइम इन मुंबई, शोर इन द सिटी, रागिनी एमएमएस, क्या सुपर कूल हैं हम, द डर्टी पिक्चर, एक थी डायन, शूटआउट एट वडाला, लुटेरा, वन्स अपाॅन ए टाइम इन मुंबई दोबारा, कुकु माथुर की झंड हो गई, रागिनी एमएमएस2, शादी के साइड एफेक्टस, मिलन टाकीज, मैं तेरा हीरो जैसी फिल्मों के लिए काम किया। 
Buy Movie Tickets