»   »  साथ निभाना साथिया: इस परिवार में अहम को छोड़कर बाकियों की PROBLEM क्या है?

साथ निभाना साथिया: इस परिवार में अहम को छोड़कर बाकियों की PROBLEM क्या है?

Posted by:
Subscribe to Filmibeat Hindi

[टेलीविजन] साथ निभाना साथिया में भई कुछ तो बात है। वरना बिना किसी लॉजिक के कोई सीरियल इतना समय चले तो भी समझ आए। लेकिन पिछले हफ्ते भी ये सीरियल टीआरपी रेटिंग में काफी ऊपर था। क्यों था हमारी समझ के परे है क्योंकि हमारी मानिए तो ये मोदी परिवार को एक ब्रेक लेकर छुट्टियों पर जाना चाहिए क्योंकि इस फैमिली में अहम को छोड़कर कोई भी दिमाग वाला इंसान हमें नहीं दिख रहा!

सीरियल में फिलहाल कई ट्रैक एक साथ चल रहे हैं और दर्शक काफी कन्फ्यूज़ हैं कि बॉस चल क्या रहा है। तो आइये हम शॉर्ट में समझाते हैं क्योंकि सीरियल में तो हर कोई अपना फेवरिट बना हुआ है -

गोपी

इन्हें लग रहा है कि ये सब सही कर रही हैं। पहले तो अपने बच्चों की देखभाल छोड़कर इन्हें राधा राशि से निपटना था। अब इन्हें अपने बच्चे चाहिए। हालांकि अहम ने समझाया था कि पचड़े में मत पड़ो बॉस!

किंजल

अब यहां एक और अकड़ू ज़िद्दी लड़की जिसने जीवन भर नखरे छोड़कर कुछ नहीं किया। अपने बेटे और पति से ज़्यादा इन्हें गोपी का प्लान बिगाड़ने में इंटरेस्ट है। ईश्वर भला करे!

कोकिला

उन्होंने तो कौन सा जादू काढ़ा पिया की शेरनी से बदली तो सीधा बिल्ली में। पहले इन्हें अपनी बेटी पर चीखने से फुर्सत नहीं थी और अब अपनी बेटी की चाकरी से!

हेतल

ये तो खैर पहले भी रोती थीं और आज भी रोती हैं। बीच बीच में बा की देखभाल कर लेती हैं।

आदमी

खैर मोदी परिवार के आदमियों को शायद बोलना नहीं आता है या कुछ तो प्रॉब्लम है कि इतना कुछ हो रहा है और सारे आदमी चुप!

एक तू ही भरोसा

तो जैसा कि हम कह रहे थे कि इस परिवार में अहम को छोड़कर बाकी सब का ऊपर वाला माला तो ढह गया। ईश्वर इस सीरियल को और टीआरपी दे!

English summary
Saath Nibhaana Saathiya story in Hindi: Except Ahem, why does everyone in the Modi family is simply insane.
Please Wait while comments are loading...