For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुशांत सिंह राजपूत केस- बनाए 80 हजार फर्जी अकाउंट, मुंबई पुलिस की जांच को लेकर रची गई साजिश

    |

    सुशांत सिंह राजपूत केस पर मुंबई पुलिस ने छानबीन शुरु की थी। लेकिन बीच में केस को उनके लेकर पहले बिहार पुलिस और फिर सीबीआई को दे दिया गया। साथ ही मुंबई पुलिस की विश्वनीयता और नीयत पर भी सवाल उठाए गए। बहरहाल, रिपोर्ट्स की मानें तो सुशांत की मौत के बाद सोशल मीडिया के अलग अलग मंचों पर 80 हजार से ज्यादा फर्जी अकाउंट्स बनाए गए हैं।

    इन अकाउंट्स द्वारा मुंबई पुलिस को बदनाम करने की कोशिश की गई है। कई तरह के निगेटिव कैंपेन चलाए गए हैं। मुंबई पुलिस कमिश्नर ने साइबर सेल से कहा है कि इस मामले को आईटी एक्ट के तहत दर्ज कर उसकी जांच करे।

    लिहाजा, मुंबई पुलिस के साइबर सेल यूनिट ने एक रिपोर्ट बनाई है, जिसमें वह पाया कि इन पोस्ट्स को सोशल मीडिया के मंचों पर दुनिया के विभिन्न देशों जैसे- इटली, जापान, पोलैंड, स्लोवेनिया, इंडोनेशिया, तुर्की, थाईलैंड, रोमानिया और फ्रांस से पोस्ट किए गए हैं।

    सुशांत के नाम पर फर्जी अकाउंट

    सुशांत के नाम पर फर्जी अकाउंट

    सीनियर आईपीएस अधिकारी ने बताया कि, "हमने विदेशी भाषा में पोस्ट की पहचान की है। इसमें #justiceforsushant #sushantsinghrajput और #SSR हैशटैग का इस्तेमाल किया गया। हम इन अकाउंट्स के बारे में ज्यादा जानकारी जुटाने की कोशिश में हैं।"

    कोरोना काल जैसे गंभीर समय में चलाया गया कैंपेन

    कोरोना काल जैसे गंभीर समय में चलाया गया कैंपेन

    मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा, "यह कैंपेन ऐसे वक्त पर हमारे मनोबल को गिराने के लिए चलाया गया जब कोरोना वायरस के चलते 84 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी और करीब 6 हजार से ज्यादा जवान कोरोना संक्रमित थे। यह जानबूझकर चलाया गया कैंपेन था ताकि मुंबई पुलिस की छवि और जांच दोनों को बिगाड़ा जा सके।"

    साइबर सेल कर रहा है जांच

    साइबर सेल कर रहा है जांच

    पुलिस कमिश्नर ने कहा, "सोशल मीडिया पर कई फर्जी अकाउंट्स बनाए गए थे जिसमें मुंबई पुलिस के लिए असभ्य भाषा का इस्तेमाल किया गया। हमारा साइबर सेल विस्तार से जांच कर रहा है। जो भी कानून के उल्लंघन का दोषी पाया जाएगा उस पर आईटी एक्ट के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी।"

    एम्स की रिपोर्ट

    एम्स की रिपोर्ट

    हाल ही में एम्स के मेडिकल बोर्ड ने सुशांत सिंह राजपूत की हत्या की आशंका को खारिज करते हुए इसे 'फंदे से लटक कर खुदकुशी' करने का मामला बताया है।

    एम्स रिपोर्ट पर मुंबई पुलिस

    एम्स रिपोर्ट पर मुंबई पुलिस

    इस रिपोर्ट पर पुलिस कमिश्‍नर ने कहा कि सीबीआई एक प्रोफेशनल एजेंसी है और उन्‍हें उनकी जांच पर पूरा भरोसा है। इस पूरे मामले में मैं सिर्फ यह कहना चाहूंगा कि हमारी जांच पूरी तरह प्रोफेशनल थी। कूपर अस्‍पताल ने भी प्रोफेशनल तरीके से पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट तैयार की थी।

    मुंबई पुलिस की जांच

    मुंबई पुलिस की जांच

    जब पुलिस कमिश्‍नर ने पूछा गया कि क्‍या मामले में मुबई पुलिस और कोई सबूत मिले हैं, इस पर परमबीर सिंह ने कहा, "हमने अपनी जांच होल्‍ड पर रख दी है, क्‍योंक‍ि सीबीआई इसकी जांच कर रही है।"

    'सुशांत सिंह राजपूत विफलता और निराशा से ग्रस्त था, वह चरित्रहीन था'- शिवसेना की विवादित टिप्पणी

    English summary
    Over 80k fake accounts created to discredit Mumbai police probe in Sushant Singh Rajput death case. Mumbai police’s cyber unit investigating on this.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X