For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    'सुशांत सिंह राजपूत विफलता और निराशा से ग्रस्त था, वह चरित्रहीन था'- शिवसेना की विवादित टिप्पणी

    |

    सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में हत्या की आशंका को एम्स की रिपोर्ट में खारिज किए जाने के बाद शिवसेना ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। अपने मुखपत्र 'सामना' के संपादकीय में शिवसेना ने सुशांत सिंह राजपूत को चरित्रहीन तक कह दिया। सिर्फ सुशांत ही नहीं, बल्कि शिवसेना ने कंगना रनौत पर भी तीखी टिप्पणी की है।

    एम्स के मेडिकल बोर्ड ने अभिनेता की हत्या की आशंका को खारिज करते हुए इसे फंदे से लटककर खुदकुशी करने का मामला बताया है। जिसका जिक्र करते हुए संपादकीय में लिखा गया कि, "अब अंधे भक्त सुशांत की मौत के मामले में एम्स की रिपोर्ट को भी खारिज करेंगे? सुशांत की दुर्भाग्यपूर्ण मौत को 110 दिन गुजर गए.."

    शिवसेना के संपादकीय में लिखा गया, "सत्य को कभी छुपाया नहीं जा सकता। सुशांत सिंह मामले में आखिर यह सच सामने आ चुका है। इस मामले में जिन्होंने महाराष्ट्र को बदनाम किया, उनका वस्त्रहरण हो चुका है। ठाकरी भाषा में कहें तो सुशांत आत्महत्या प्रकरण के बाद कई गुप्तेश्वरों को महाराष्ट्र द्वेष का गुप्तरोग हो गया था; लेकिन 100 दिन खुजाने के बाद भी हाथ क्या लगा? एम्स ने सच्चाई बाहर लाई है। सुशांत सिंह राजपूत ने फांसी लगाकर आत्महत्या ही की है। उसका खून नहीं हुआ है।"

    अंधभक्त एम्स की रिपोर्ट भी नकारेंगे!

    अंधभक्त एम्स की रिपोर्ट भी नकारेंगे!

    "सबूतों के साथ ऐसा सच एम्स के डॉक्टर सुधीर गुप्ता सामने लाए हैं। डॉक्टर गुप्ता शिवसेना के स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख नहीं हैं। उनका मुंबई से संबंध भी नहीं है। डॉ. गुप्ता एम्स के फॉरेंसिक विभाग के प्रमुख हैं। अब इस रिपोर्ट को भी अंधभक्त नकारेंगे क्या? इस दौरान मुंबई पुलिस की खूब बदनामी की गई, मुंबई पुलिस की जांच पर जिन्होंने सवाल उठाए उन राजनेताओं को और कुत्तों की तरह भौंकनेवाले चैनलों को महाराष्ट्र से माफी मांगनी चाहिए।"

    सुशांत विफलता और निराशा से ग्रस्त था

    सुशांत विफलता और निराशा से ग्रस्त था

    मीडिया पर तीखी टिप्पणी करते हुए लिखा गया, "इन सभी ने जान-बूझकर महाराष्ट्र पर कलंक लगाने का प्रयास किया है। यह एक षड्यंत्र ही था। महाराष्ट्र सरकार को चाहिए कि वो उनपर मानहानि का दावा करे। किसी युवक की इस प्रकार से मौत होना बिल्कुल अच्छा नहीं है। सुशांत विफलता और निराशा से ग्रस्त था। जीवन में असफलता से वह अपने आपको संभाल नहीं पाया। इसी कशमकश में उसने मादक पदार्थों का सेवन करना शुरू कर दिया और एक दिन फांसी लगाकर अपनी जान ले ली।"

    मुंबई पुलिस बारीकी से जांच कर ही रही थी

    मुंबई पुलिस बारीकी से जांच कर ही रही थी

    आगे लिखा गया, "मुंबई पुलिस इस मामले की बड़ी बारीकी से जांच कर ही रही थी। मुंबई पुलिस दुनिया का सर्वोत्तम पुलिस दल है। सुशांत के पटना निवासी परिवार का उपयोग स्वार्थी और लंपट राजनीति के लिए करके केंद्र ने इसकी जांच जिस जल्दबाजी से सीबीआई को दी, उसे देखते हुए बुलेट ट्रेन की गति भी मंद पड़ गई होगी। मुंबई पुलिस ने इस मामले में जिस नैतिकता और गुप्त तरीके से जांच की, वह केवल इसीलिए कि यह केस तमाशा न बने।"

    सुशांत एक चरित्रहीन कलाकार था

    सुशांत एक चरित्रहीन कलाकार था

    "सीबीआई ने मुंबई आकर जब जांच शुरू की तब पहले 24 घंटे में ही सुशांत का गांजा और चरस प्रकरण सामने आ गया। सीबीआई जांच में पता चला कि सुशांत एक चरित्रहीन कलाकार था। बिहार की पुलिस को हस्तक्षेप करने दिया गया होता तो शायद सुशांत और उसके परिवार की रोज बेइज्जती होती। बिहार राज्य और सुशांत के परिवार को इसके लिए मुंबई पुलिस का आभार मानना चाहिए।"

    बिहार चुनाव के लिए किया इस्तेमाल

    बिहार चुनाव के लिए किया इस्तेमाल

    संपादकीय में आगे लिखा गया, "बिहार चुनाव में प्रचार के लिए कोई मुद्दा न होने के कारण नीतीश कुमार और वहां के नेताओं ने इस मुद्दे को उठाया। मुंबई पुलिस सुशांत की जांच नहीं कर सकती इसलिए सीबीआई को बुलाओ, ऐसा चिल्लानेवाले एक सीधा-सा सवाल नहीं पूछ पाए कि गत 40-50 दिनों से सीबीआई क्या कर रही है?"

    कंगना रनौत अब किस बिल में छिपी हैं?

    कंगना रनौत अब किस बिल में छिपी हैं?

    सुशांत और ड्रग्स को लेकर आगे लिखा गया, "रिया चक्रवर्ती ने सुशांत को जहर देकर मार दिया का नाटक भी नहीं चला। लेकिन सुशांत ड्रग्स लेता था और उसे रिया ने ड्रग्स पहुंचाई इसीलिए रिया को जेल में डाल दिया। सुशांत पर मृत्यु के पश्चात मामला चलाने की कानूनी व्यवस्था होती तो ड्रग्स मामले में सुशांत पर मादक पदार्थ सेवन का मुकदमा चलता। सुशांत की मौत को जिन्होंने भुनाया, मुंबई को पाकिस्तान और बाबर की उपमा दी, वह अभिनेत्री अब किस बिल में छिपी है?"

    सुशांत सिंह राजपूत AIIMS रिपोर्ट- कंगना रनौत ने महेश भट्ट पर उठाए सवाल, आया सोनी राजदान का जवाब

    English summary
    Shiv Sena’s mouthpiece Saamana has called late actor Sushant Singh Rajput characterless and said that he could not handle failure, hence committing suicide.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X