For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    NEET- JEE एग्जाम टालने के समर्थन में उतरे सोनू सूद, सरकार से की खास अपील

    |

    कोरोना वायरस की महामारी के बीच देश में एनईईटी और जेईई परीक्षा हो चुकी है। ऐसे में लाखों छात्र परीक्षा को स्थगित करने की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर देश के कई राजनेताओं ने भी केंद्र सरकार से अपील की है। वहीं, अब अभिनेता सोनू सूद भी इस मुहिम में शामिल हो गए हैं। उन्होंने भारत सरकार से अपील की है कि देश की वर्तमान स्थिति को देखते हुए एग्जाम पोस्टपोन किए जाएं।

    कोरोना काल में सोनू सूद लगातार छात्रों, प्रवासी मजदूरों, बेरोजगारों की मदद के लिए आगे आते दिखे हैं। हजारों प्रवासी मजदूरों को अपने अपने घरों तक पहुंचने में मदद देने के बाद सोनू सूद ने लाखों लोगों को नौकरी देने की जिम्मेदारी भी निभाई है।

    वहीं, अब वो छात्रों का समर्थन करने नजर आ रहे हैं। सोनू सूद ने लिखा, 'मेरा भारत सरकार से अनुरोध है कि देश में कोविड-19 के माहौल को देखते हुए नीट और जेईई परीक्षा को स्थगित कर देना चाहिए। हमें काफी सावधानी बरतनी चाहिए और छात्रों की जिंदगी के साथ कोई जोखिम नहीं उठाना चाहिए।'

    युवा पीढ़ी है देश की ताकत

    युवा पीढ़ी है देश की ताकत

    साथ ही उन्होंने लिखा- "युवा पीढ़ी की ताकत पर हमारा कल है। हमारी जिम्मेदारी है कि इनके जोश को होश के साथ आगे बढ़ा सके। सकारात्मक ताकतों पर लगा सके। अगर युवापन सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने की कोशिश कर रहा है तो क्या गलत कर रहा है। विश्वास है कि संवाद बनेगा और स्टूडेंट के हित में फैसला होगा।"

    बच्चों के समर्थन में सोनू सूद

    बच्चों के समर्थन में सोनू सूद

    अभिनेता ने लिखा- "NEET और JEE परीक्षा में बैठने वाले बच्चे सुदूर इलाकों से आते हैं। बिहार के किसी गांव में बाढ़ है तो किसी जिले में पूरी बंदी। हां,परीक्षा जरूरी है लेकिन उन युवा कंधो की हिफ़ाज़त भी उतनी ही जरूरी है। पूरे विश्व में सबकुछ प्रकृति के सामने ठहर गया तो परीक्षा को कुछ वक्त के लिए टालना चाहिए.."

    सरकार की भी परीक्षा है

    सरकार की भी परीक्षा है

    उन्होंने अगले ट्विट में लिखा- यह परीक्षा सिर्फ छात्रों के लिए ही नहीं है, बल्कि सरकार की भी है। सरकार के पास 60 दिनों तक एग्जाम टालने का अवसर है। बच्चों को राहत मिलेगी और सरकार को उचित तैयारी के लिए समय।

    बच्चों को फोन बांट रहे हैं सोनू सूद

    बच्चों को फोन बांट रहे हैं सोनू सूद

    इतना ही नहीं, बल्कि इस बीच सोनू सूद ने पंचकूला के मोरनी इलाके के एक गांव के बच्चों की उनकी पढ़ाई में भी मदद की है। सोनू सूद ने इन बच्चों को मोबाइल फोन भेंट किए हैं ताकि यह बच्चे अपने घर रहकर ऑनलाइन पढ़ाई कर सकें।

    बहुत बच्चों को 4 से 5 किलोमीटर हर रोज चलकर दूसरे बच्चों को घरों में जाना पड़ता था। लेकिन अब उनकी परेशानी कम हो गई है।

    हजारों लोगों को दिलाई नौकरी

    हजारों लोगों को दिलाई नौकरी

    सोनू सूद ने एक ऐप की शुरुआत की है, जिसके जरीए प्रवासी मजदूरों को नौकरी मिल सकेगी। ऐप का नाम है 'प्रवासी रोजगार'। इससे लोगों को रोजगार ढूढ़ने में मदद मिल रही है।

    20 हजार मजदूरों की व्यवस्था

    20 हजार मजदूरों की व्यवस्था

    एक्टर ने अब 20 हजार प्रवासी मजदूरों के रहने की व्यवस्था करने का ऐलान किया है। सोनू सूद ने कहा है कि वो उन 20 हजार श्रमिकों के लिए रहने की व्यवस्था करने वाले हैं, जिन्हें उनकी एप्लीकेशन 'प्रवासी रोजगार' के माध्यम से नोएडा में एक कपड़ा यूनिट में काम दिया है।

    सलमान खान की डेब्यू एक्ट्रेस- हिट फिल्में, लेकिन सिर्फ 4 सालों का रहा करियर, अचानक हुईं गुमनाम

    English summary
    Sonu Sood requests government to postpone JEE, NEET exams amid COVID-19 pandemic. He extended support to students who have been demanding this from a long time.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X