For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुशांत सिंह राजपूत के परिवार को पहले दिन किसी पर शक नहीं था - सुशांत के परिवार पर भड़की मुंबई पुलिस

    |

    सुशांत सिंह राजपूत केस पर अब मुंबई पुलिस और सुशांत का परिवार भी आमने सामने आ चुका है। सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने एक वीडियो रिलीज़ कर पटना पुलिस की सहायता करने की अपील की। साथ ही उन्होंने मुंबई पुलिस के खिलाफ रिया का नाम बताने के बावजूद कोई एक्शन ना लेने की बात कही।

    वहीं मुंबई पुलिस का कहना है कि जब हमने सुशांत के परिवार से 16 जून को पूछताछ की और बयान दर्ज किए तो उन लोगों ने साफ कहा था कि उन्हें किसी पर कोई शक नहीं है। सुशांत के परिवार ने किसी के खिलाफ कोई बयान नहीं दिया।

    सुशांत के पिता का कहना है कि हमने मुंबई पुलिस को 25 फरवरी को इत्तिला की थी कि सुशांत की जान को खतरा है। फिर 14 को मेरे बेटे की जान चली गई। हमने मुंबई पुलिस को कहा कि जिन लोगों का नाम हमने अपनी 25 फरवरी की शिकायत में लिया है, उन लोगों के खिलाफ कार्यवाही हो।

    लेकिन मुंबई पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की। हारकर मैं पटना गया और FIR की। सुशांत का परिवार वो स्क्रीनशॉट शेयर कर चुका है जिसमें परिवार ने डीसीपी बांद्रा पुलिस को साफ लिखा है कि सुशांत की जान को खतरा है और उसको नुकसान पहुंच सकता है। ये वॉट्सएप चैट आप यहां पढ़ सकते हैं - [रिया के पिता डॉक्टर थे, परिवार सुशांत को बहका रहा था - सुशांत के परिवार और मुंबई पुलिस की वॉट्सएप चैट]

    अब मुंबई पुलिस ने इस बारे में कुछ बातें एकदम साफ की है। और ये बातें, सुशांत के पिता के बयान को झूठा साबित करती है।

    सबने दिया था बयान

    सबने दिया था बयान

    मुंबई पुलिस के कमिश्नर ने अपने बयान में साफ कहा है कि सुशांत के पिता ने अब बिहार पुलिस को अपने FIR में दूसरा स्टेटमेंट दिया है। जो पहला स्टेटमेंट उन्होंने मुंबई पुलिस को दिया था उन्होंने साफ कहा कि उन्हें किसी पर शक नहीं है।

    प्रोफेशन के झगड़े और डिप्रेशन

    प्रोफेशन के झगड़े और डिप्रेशन

    मुंबई पुलिस के कमिश्नर ने ये भी कहा कि कुछ लोगों ने अपने बयान में प्रोफेशनल प्रेशर और जो उनका मानसिक बीमारी के लिए ईलाज चल रहा था उसकी वजह से सुसाइड का अंदेशा जताया था। सबने अपने बयान में कहा कि उन्हें किसी पर शक नहीं है।

    मुंबई पुलिस की सफाई

    मुंबई पुलिस की सफाई

    अब मुंबई पुलिस ने एक खत की कॉपी जारी की है जिसमें बताया गया कि सुशांत के जीजा जी को साफ कहा गया था कि वो एक लिखित शिकायत दर्ज कराएं। लिखित शिकायत के बिना पुलिस उनकी कोई सहायता नहीं कर सकती है।

    खुद किया था मना

    खुद किया था मना

    मुंबई पुलिस ने इस खत में ये भी साफ लिखा है कि सुशांत के जीजा जी ने खुद लिखित शिकायत से मना किया था और कहा था कि वो इस पूरे मामले को अनौपचारिक रूप से डील करना चाहते हैं।

    बिना शिकायत कुछ नहीं

    बिना शिकायत कुछ नहीं

    पुलिस और कई एक्सपर्ट्स का कहना है कि जब सुशांत के परिवार ने फरवरी में कोई लिखित शिकायत नहीं दर्ज की थी तो फिर वो पुलिस पर आरोप कैसे लगा रहे हैं कि कोई कार्यवाही नहीं की गई। बिना लिखित प्रमाण के पुलिस किसी पर भी कोई कार्यवाही कैसे कर सकती है।

    सुप्रीम कोर्ट का आदेश

    सुप्रीम कोर्ट का आदेश

    वहीं अगर कानून देखा जाए तो सुप्रीम कोर्ट ने ये माना है कि किसी भी प्रकार की शिकायत चाहे वो ईमेल, हो या मेसेज या किसी भी प्रकार के डिजिटल माध्यम से लिखी गई हो, वो शिकायत के तौर पर मान्य होगी।

    अब क्यों नहीं की पूछताछ

    अब क्यों नहीं की पूछताछ

    लोगों का सवाल है कि अगर लिखित शिकायत नहीं भी थी तो भी मुंबई पुलिस के पास रिया के खिलाफ इस बिंदु पर पूछताछ करने का माध्यम था ये वॉट्सएप चैट। सुशांत की मौत के बाद रिया चक्रवर्ती से इस दृष्टि से कोई पूछताछ क्यों नहीं की गई।

    रिया के खिलाफ पुख्ता सुबूत

    रिया के खिलाफ पुख्ता सुबूत

    सुशांत की मौत के बाद, ये वॉट्सएप चैट रिया के खिलाफ केस दर्ज करने का अच्छा खासा सुबूत थी। बांद्रा पुलिस के डीसीपी ने ये बातचीत की थी। इसलिए मुंबई पुलिस के पास रिया के खिलाफ केस दर्ज करने का और पूछताछ करने का काफी सुबूत था।

    जान खतरे में है

    जान खतरे में है

    वहीं सुशांत के जीजा जी ने इस चैट में लिखा कि रिया सुशांत के स्टाफ को निकाल कर अपने जानने वाले लोग नौकरी पर रख रही है। उसकी तीसरी बहन जो दिल्ली में वकील है और अकसर उससे मिलने जाती है, काफी चिंता में है कि सुशांत ने कुछ ऐसे लोगों के हाथ अपनी ज़िंदगी सरेंडर कर दी है जो लगातार उससे छल कर रहे हैं और काबू में कर रहे हैं और ऐसा लग रहा है कि उसकी जान खतरे में है।

    मुंबई पुलिस की लापरवाही

    मुंबई पुलिस की लापरवाही

    इसके बावजूद मुंबई पुलिस ने कुछ नहीं किया। सुशांत सिंह राजपूत के जीजा जी ने अपने वॉट्सएप चैट में सुशांत और उसके दोस्त का नंबर भी दिया लेकिन मुंबई पुलिस ने किसी को फोन कर पूछताछ भी नहीं की। और 14 जून को सुशांत सिंह राजपूत ने अपनी ज़िंदगी खत्म कर ली।

    English summary
    Mumbai Police claims that Sushant Singh Rajput’s family denied any foul play or suspicions while his father claims that he asked the police to take action against Rhea.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X