For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    6 महीने के लॉकडाउन में फिल्म इंडस्ट्री को 9000 करोड़ का भारी नुकसान, संकट में 2 लाख नौकरियां

    |

    कोरोना महामारी की वजह से पिछले 6 महीनों से देश भर में सिनेमाघर बंद हैं। लाखों नौकरियां प्रभावित हुई हैं। करोड़ों का नुकसान हुआ है। ऐसे में मल्‍टीप्‍लेक्‍स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने सरकार से अपील की है कि अनलॉक इंडिया के तहत मॉल्‍स, एयरलाइंस, रेलवे, रिटेल, रेस्‍टोरेंट, जिम और कई दूसरे सेक्‍टर्स खोले जा चुके हैं, तो अब थियेटर्स को दोबारा खोलने की मंजूरी भी दी जानी चाहिए। इससे सीधे तौर पर 2 लाख लोगों का परिवार चलता है।

    भारत में सिनेमाघरों में रिलीज हुई आखिरी फिल्म थी 'अंग्रेजी मीडियम', जिसकी रिलीज के अगले ही दिन कोरोना वायरस के कहर की वजह से देशभर में सिनेमाघरों को बंद करने की घोषणा कर दी गई।

    6 महीनों से भारत में सभी मल्टीप्लेक्स और सिंगल स्क्रीन थियेटर्स पूरी तरह से बंद हैं। संगठन ने कहा कि लाखों लोगों को नौकरियां देने वाले इस क्षेत्र को पिछले छह महीने में 9,000 करोड़ रुपये का अनुमानित नुकसान हुआ है।

    नौकरी पर संकट

    नौकरी पर संकट

    एसोसिएशन ने कहा कि देश में करीब 10,000 सिनेमा स्‍क्रीन हैं। इनके जरिये देश के लाखों लोगों का मनोरंजन होता है तो लाखों लोगों का घर चलता है। इस सेक्‍टर में प्रत्‍यक्ष तौर पर 2 लाख से ज्‍यादा लोगों को रोजगार मिला हुआ है। लॉकडाउन के कारण उनके सामने संकट की स्थिति पैदा हो गई है।

    सुरक्षा का पूरा इंतजाम

    सुरक्षा का पूरा इंतजाम

    एसोसिएशन ने कहा कि भारतीय मल्‍टीप्‍लेक्‍स भी दर्शकों की कोरोना वायरस से पूरी सुरक्षा के इंतजामों के साथ तैयार है। हमने अपने स्‍टाफ और दर्शकों की सुरक्षा का पूरा प्‍लान बना लिया है। ऐसे में हम सरकार से अनुरोध करते हैं कि लाखों लोगों के रोजगार को ध्‍यान में रखते हुए थियेटर्स को तत्‍काल प्रभाव से खोलने की मंजूरी दी जाए।

    सिनेमाघर को बड़ा नुकसान

    सिनेमाघर को बड़ा नुकसान

    जो फिल्‍में डायरेक्ट ओटीटी पर गई हैं, उनके चलते सिनेमाघरों का कुल बीस हफ्ते का बिजनेस खत्‍म हो चुका है। कई सिनेमाघर तो स्थाई तौर पर बंद हो गए हैं। पिछले पांच महीनों में कुल 75 करोड़ रुपए का बोझ तो अकेले पीवीआर सिने चेन पर है।

    सपोर्ट मूवी थियेटर्स

    सपोर्ट मूवी थियेटर्स

    एसोसिएशन ने #SupportMovieTheatres के साथ ट्विट किया कि सिनेमा उद्योग देश की संस्कृति का न सिर्फ अंतर्निहित हिस्सा है, बल्कि अर्थव्यवस्था का अभिन्न हिस्सा भी है जिससे लाखों लोगों की आजीविका चलती है।

    हैप्पी बर्थडे निया शर्मा- ग्लैमरस, बोल्ड एंड ब्यूटीफुल, इनके हर अंदाज पर हैं फैंस फिदा- देंखे PICS

    English summary
    Multiplex Association of India appeals the Government to reopen cinemas. The industry had lost an estimated ₹9,000 crore in the last six months.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X