For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

INTERVIEW: मैं भी 'भूल भुलैया 2' में खुद को मिस करूंगा- अक्षय कुमार

|

अक्षय कुमार की हालिया रिलीज हाउसफुल 4 ने बॉक्स ऑफिस पर बेजोड़ सफलता पाई है। फिल्म भारत में 150 करोड़ से ऊपर की कमाई कर चुकी है। ऐसे में अभिनेता ने मीडिया से खास बातचीत की और फिल्म की सफलता पर खुशी जताई। अक्षय कुमार ने कहा कि फिल्म को मिली प्रतिक्रियाओं से खुश हूं। दर्शकों से मिले रिस्पॉस को देखकर अपने काम के प्रति एक आत्मविश्वास आता है।

फरहाद सामजी के निर्देशन में बनी फिल्म हाउसफुल 4 दिवाली के मौके पर रिलीज हुई थी। फिल्म के बॉक्स ऑफिस आंकड़ों को लेकर काफी विवाद भी हुआ था। इस बारे में बात करते हुए अक्षय कुमार ने कहा कि- ''कोई भी फिल्म की कमाई के आंकड़ों को लेकर झूठ नहीं कहेगा। फॉक्स स्टार स्टूडियो एक जिम्मेदार स्टूडियो है। ये फिल्मों से मिलियन बिलियन कमाते हैं। 4-5 करोड़ बढ़ाकर कोई क्यों पेश करेगा?'' इसके साथ ही अभिनेता ने अपनी आने वाली फिल्मों पर भी बातें कीं।

यहां पढ़ें इंटरव्यू से कुछ प्रमुख अंश-

हाउसफुल 4 बॉक्स ऑफिस पर काफी सफल रही है। फिल्म आपकी उम्मीदों पर भी खरी उतरी?

हाउसफुल 4 बॉक्स ऑफिस पर काफी सफल रही है। फिल्म आपकी उम्मीदों पर भी खरी उतरी?

हां, मैं बहुत खुश हूं। सबसे अच्छी प्रतिक्रिया मुझे फॉक्स स्टूडियो से मिली है, जिसने साथ अभी मैंने मिशन मंगल भी की थी और अब हाउसफुल 4 भी। दोनों फिल्में अच्छी चली। जब एक प्रोड्यूसर आप पर भरोसा जताए और आगे भी काम करने की इच्छा जताए, तो यह सबसे बड़ी कमाई होती है। हाल ही में मुझे पता चला कि INOX, पीवीआर, सिनेपॉलिस इन सबकी तरफ भी काफी अच्छे रिस्पॉस मिले हैं। इन प्रतिक्रियाओं को देखकर अपने काम के प्रति एक आत्म विश्वास आता है।

हाउसफुल 5 को लेकर प्लान शुरु किया गया या नहीं?

हाउसफुल 5 का फिलहाल तो पता नहीं। कुछ होगा तो जरूर घोषणा की जाएगी।

हाउसफुल 4 के साथ बॉक्स ऑफिस पर आपकी लगातार 13 फिल्मों ने 100 करोड़ का आंकड़ा पार किया है। आपके अनुसार, आपकी फिल्मों में क्या फैक्टर होती है, जिससे दर्शक जुड़ जाते हैं?

हाउसफुल 4 के साथ बॉक्स ऑफिस पर आपकी लगातार 13 फिल्मों ने 100 करोड़ का आंकड़ा पार किया है। आपके अनुसार, आपकी फिल्मों में क्या फैक्टर होती है, जिससे दर्शक जुड़ जाते हैं?

सबसे पहले तो मैं फैंस का शुक्रिया अदा करता हूं। मेरे लिए दर्शक, मीडिया, समीक्षक सभी बहुत मायने रखते हैं। यह उनपर ही निर्भर करता है कि वह किस तरह से फिल्म पर प्रतिक्रिया दे रहे हैं और आगे ले जा रहे हैं। मेरे लिए इन सबका रिएक्शन मायने रखता है। दूसरी बात मुझे लगती है, जो काम करती है वो ये कि आप कितनी अलग अलग तरह की फिल्मों का हिस्सा बनते हैं। बतौर अभिनेता हमें अलग अलग शैली की फिल्में करनी चाहिए और मैं ये रूल फॉलो करता हूं। अपने आप को चैलेंज करता हूं, अपने आपको समय के अनुसार बदलता हूं। मुझे लगता है यही सब बातें मुझे लोगों के साथ जोड़ कर रखती है।

हाउसफुल 4 को समीक्षकों से मिली जुली प्रतिक्रिया मिली। वहीं यह भी अफवाह आई कि फिल्म के बॉक्स ऑफिस आंकड़ों को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया?

हाउसफुल 4 को समीक्षकों से मिली जुली प्रतिक्रिया मिली। वहीं यह भी अफवाह आई कि फिल्म के बॉक्स ऑफिस आंकड़ों को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया?

जहां तक समीक्षकों का सवाल है तो मेरे अनुसार वो इंडस्ट्री में एक barometer का काम करते हैं, वो आपको आपकी फिल्म का हाल बताते हैं। आपको उन्हें समझना और उन्हें फॉलो करना है। मैं उनके काम की इज्जत करता हूं। हाउसफुल 4 की बात करें तो.. कॉमेडी फिल्मों को काफी अलग अलग हिसाब से देखा जाता है। एक साथ बैठे चार लोगों में ही दो को फिल्म में हंसी आएगी, तो दो को बिल्कुल ही नहीं आएगी। इसीलिए हाउसफुल 4 को किसी ने दिया है 1 स्टार.. तो किसी ने दिया है 4.5 स्टार। खासकर कॉमेडी का कोई दायरा नहीं है। कोई नहीं कह सकता कि जिस जोक पर मैं हंसा हूं, उसी पर दूसरे को हंसी आएगी। जैसे मेरी और मेरी पत्नी की कॉमेडी की समझ है वह बिल्कुल अलग है। लेकिन इसमें कोई गलत नहीं है।

बॉक्स ऑफिस नंबर्स के उलटफेर की अफवाहों पर क्या कहेंगे?

बॉक्स ऑफिस नंबर्स के उलटफेर की अफवाहों पर क्या कहेंगे?

इस फिल्म को फॉक्स ने प्रोड्यूस किया है। जो पता नहीं कितनी मंहगी फिल्में बना चुके हैं और बनाते रहे हैं। ये फिल्मों से मिलियन बिलियन कमाते हैं। हाउसफुल 4 तो उनके सामने कुछ भी नहीं है। ऐसे में 4-5 करोड़ बढ़ाकर कोई क्यों पेश करेगा? आप फॉक्स डिज़नी की बात कर रहे हैं.. कोई ऐसे वैसे स्टूडियो की नहीं। लोगों को खुद सोचना चाहिए। फिल्म अच्छी कमाई कर रही है और मैं खुश हूं।

जब किसी फिल्म को निगेटिव प्रतिक्रिया मिलती है, तो क्या आप उसे analyse करते हैं?

जब किसी फिल्म को निगेटिव प्रतिक्रिया मिलती है, तो क्या आप उसे analyse करते हैं?

हां, मैं क्रिटिक को गंभीरता से लेता हूं और मैं सबके कमेंट पढ़ता हूं। मैं समझने की कोशिश करता हूं कि लोग क्या कहना चाह रहे हैं। कौन फिल्म को नुकसान पहुंचाने के लिए जबरदस्ती निगेटिव बातें लिख रहा है.. और कौन फिल्म की अच्छाई का सोचकर सच्ची बातें लिख रहा है, मैं ये भी समझता हूं। मैंने फिल्म की है, मैंने भी फिल्म देखी है, मैं अंधा नहीं हूं और मैं भी समझता हूं कि कौन सी बातें मेरे अच्छे के लिए लिखी जा रही हैं और उसका फायदा मुझे आने वाली फिल्मों के साथ होगा। अनुभव के साथ मैं भी ये बातें समझता हूं। सिर्फ क्रिटिक का लिखा पढ़कर ही नहीं, बल्कि किसी दूसरी अभिनेता की फिल्म देखकर भी मैं समझने की कोशिश करता हूं। इसीलिए मैं हर फिल्म देखता हूं और कोशिश करता हूं कि दर्शकों के बीच बैठकर देंखू, ना कि अकेले कमरे में बंद होकर।

कहीं ना कहीं हाउसफुल 4 के सफलता की जिम्मेदारी आपके कंधों पर ही थी?

कहीं ना कहीं हाउसफुल 4 के सफलता की जिम्मेदारी आपके कंधों पर ही थी?

ऐसी बात नहीं है। ये फिल्म जितनी मेरी है, उतनी ही बॉबी की है और उतनी ही रितेश की है और बाकी सबकी भी। आज मैं सूर्यवंशी की फुटेज देख रहा था, मुझे एक सबसे अच्छी बात ये लगी कि उसमें लिखा है- A film by Rohit Shetty and Team. मैं भी सालों में ये बात सीख चुका हूं। फिल्म के लिए हर किरदार, हर स्टार, हर टेक्नीशियन जरूरी है।

आयुष्मान खुराना से लेकर कई यंग अभिनेता आपको फॉलो करते हैं, ऐसा उन्होंने खुद माना है। ऐसे में क्या फिल्मों के चुनाव को लेकर आपकी जिम्मेदारी भी बढ़ जाती है?

आयुष्मान खुराना से लेकर कई यंग अभिनेता आपको फॉलो करते हैं, ऐसा उन्होंने खुद माना है। ऐसे में क्या फिल्मों के चुनाव को लेकर आपकी जिम्मेदारी भी बढ़ जाती है?

जिम्मेदारी तो नहीं पता, लेकिन किसी भी फिल्म के चुनाव में मैं सिर्फ यही सोचता हूं कि मुझे उस फिल्म से प्यार है कि नहीं। इतना प्यार कि मैं उसे 8 महीने, 10 महीने दे सकूं। फिल्म के लिए वो चाहत होनी चाहिए। और जहां फॉलो करने की बात है तो मैं किसी भी तरह का बेंचमार्क नहीं बनना चाहता। मैं भी नए एक्टर्स से बहुत कुछ सीखता हूं और हमेशा सीखना चाहता हूं। मुझे उनके साथ रहना है और बहुत सारी फिल्में करनी है। सीनियर का टैग बहुत खतरनाक होता है।

हाल ही में भूल भूलैया 2 की घोषणा हुई। इस बार आप फिल्म का हिस्सा नहीं हैं, फैंस आपको बेहद मिस करेंगे..

हाल ही में भूल भूलैया 2 की घोषणा हुई। इस बार आप फिल्म का हिस्सा नहीं हैं, फैंस आपको बेहद मिस करेंगे..

हां, मैं भी खुद को मिस करूंगा। जैसे मैं वेलकम 2 या नमस्ते इंग्लैंड नहीं कर पाया, तो मैंने वो मिस किया। लेकिन जबरदस्ती मैं किसी फिल्म में शामिल तो हो नहीं सकता। मेरा मानना है कि फिल्में भी आपको किस्मत से मिलती है। जो फिल्में मेरे किस्मत में होगी, वो मिलेगी।

रणवीर सिंह और अजय देवगन के साथ सूर्यवंशी शूट करना कैसा रहा?

बहुत मजा आया। वो दोनों शानदार एक्टर्स हैं और एनर्जी से भरपूर हैं। हमने लगभग 10-12 दिन साथ में शूट किया और वो बहुत बेहतरीन समय रहा।

English summary
In an interview with Filmibeat, Akshay Kumar says, I will also miss myself in Bhool Bhulaiyaa 2. I think you only films, which are in your fate.
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more