जीवनी
उपासना सिंह एक भारतीय फिल्म अभिनेत्री और टीवी कलाकार हैं। वह मुख्यतः हिंदी पंजाबी,भोजपुरी, मराठी फिल्मो में नजर आतीं हैं।  वह छोटे पर्दे पर कॉमेडी विद नाइट्स कपिल शो की बुआ से प्रसिद्द हैं।  

पृष्ठभूमि 
उपासना सिंह का जन्म 29 जून 1975 को होशियारपुर पंजाब में हुआ था।  

पढ़ाई 
उपासना सिंह ने अपनी शुरूआती पढ़ाई होशियारपुर से ही पूरी की है। उन्होंने  ड्रामेटिक आर्ट में मास्टर डिग्री  की मानक डिग्री पंजाब विश्वविद्यालय  से प्राप्त की है। जब वे मात्र 7 वर्ष की थीं, तब स्कूल की ओर से दूरदर्शन पर प्रोग्राम देती थी। 12-13 वर्ष की उम्र में अपनी लंबी काठी होने से हीरोइन का रोल भी स्टेज व अन्य कार्यक्रमों में करने लगी। 

शादी 
उपासना सिंह की शादी टेलीविजन अभिनेता नीरज भरद्वाज से हुई है। 

करियर 
उपासना सिंह ने अपने करियर की शुरुआत साल 1988 में राजस्थानी फिल्म बाई चली सासरे से की थी।  उसके बाद वह राजस्थानी समेत पंजाबी व हिंदी फिल्मों में भी नजर आने लगी।  इस फिल्म से उन्हें कामयाबी का ताज मिला तो और उनकी फिल्मी गाड़ी दौड़ चली व एक के बाद एक निर्माता-निर्देशक व टेलीविजन के लोग उन्हें फिल्मों के ऑफर देने लगे। 

उन्होंने निर्देशक असरानी के साथ निर्माता केसी बोकड़िया की फिल्म 'अहमदाबाद नो रिक्क्षावालो' एवं पंजाबी फिल्म 'बदला जट्टी दा' की तो सफलता का लंबा सिलसिला शुरू हो गया। वह एक ऐसी अभिनेत्री बन गई, जो तीन भाषा, तीन सुपरहिट फिल्में फिर 'रामवती' में डाकू की भूमिका ने उनकी सफलता के ग्राफ को आगे बढ़ा दिया।

उपासना सिंह ने अपने एक इंटरव्यू में बताया कि, मैंने तीन-तीन शिफ्टों में काम शुरू किया व आज तक 42 भोजपुरी फिल्मों में काम किया है। 'फूलवती', 'मैं हूं गीता' 'गंगा का वचन', 'इंसाफ की देवी' 'खून का सिंदूर' ने मुझे लेडी अमिताभ बना दिया। अब बड़े-बड़े अभिनेता मेरे साथ सफलता देखकर काम करने को राजी हो गए।

'लोफर' (डेविड धवन) हिट हुई। राज कंवर की 'जुदाई' भी सफल रही। आज भी 'अब्बा-डब्बा-जब्बा' संवाद सर्वत्र चलता है। फिर 'एतराज', 'हंगामा' 'माय फ्रेंड गणेशा', 'बादल', 'मुझसे शादी करोगी' फिल्मों में दर्शकों ने उपासना के कॉमिक अंदाज को दर्शकों ने बहुत पसंद किया। 

उन्हें तीन बार भोजपुरी में सुपरस्टार के खिताब व सम्मान से नवाजा जा चूका है। पंजाबी फिल्म 'जट्ट एंड जूलियट' ने 50 करोड़ का व्यवसाय किया एवं अब शीघ्र ही 'मि. मनी', 'तुक्का फिट', 'रिव्यू साजी', 'भंवरी का जाल' में भी नजर आ चुकी हैं। 

टीवी करियर 
उन्होंने अपने टीवी करियर की पहचान स्टार प्लस पर 'सोनपरी' धारावाहिक से की। इससे उनकी पहचान घर-घर में बढ़ गई।धारावाहिक 'मायका' , जी टीवी एवं दूरदर्शन पर 'फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी' एवं 'राजा की आएगी बारात' स्टार प्लस, 'ढाबा जंक्शन', 'मैं कब सास बनूंगी' सब टीवी सहित करीब दो दर्जन धा‍रावाहिकों में वह अभिनय कर चुकी हैं। फ़िलहाल उपासना सिंह कलर्स के बहुचर्चित शो कॉमेडी विद नाइट्स विद कपिल में कपिल की बुआ बन दर्शकों को खुबै हंसा रही हैं। 
Buy Movie Tickets