जीवनी
संजय मिश्रा भारतीय फिल्‍म अभिनेता जो कि हिन्‍दी सिनेमा और टेलीविजन में अपने काम की वजह से जाने जाते हैं। वे नेशनल स्‍कूल ऑफ ड्रामा के छात्र रहे हैं और इसका अक्‍स उनके अभिनय में भी देखने को मिलता है। उनके डॉयलाग 'ढ़ोढूं जस्‍ट चिल' और फिल्‍म वन टू थ्री में उनकी कॉमिक टाइमिंग से उन्‍हें काफी पहचान मिली।

पृष्‍ठभूमि-

संजय का जन्‍म एक हिन्‍दू परिवार में पटना में हुआ था। उनके जन्‍म पर उन्‍हें आर्शीवाद देने के लिए मशहूर अभिनेता बिस्‍वजीत भी वहां मौजूद थे। उनके पिता का नाम शम्‍भूनाथ मिश्रा है जो कि मशहूर पत्रकार रहे हैं।

पढ़ाई-

स्‍नातक‍ की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्‍होंने नेशनल स्‍कूल ऑफ ड्रामा ज्‍वाइन कर लिया।

शादी-

संजय की शादी किरन मिश्रा से हुई है। उनके दो बच्‍चे हैं- पाल मिश्रा और लम्‍हा मिश्रा।

करियर-
अमिताभ बच्‍चन के साथ मिरिंडा के विज्ञापन में आने से पहले संजय ने कई और विज्ञापनों और फिल्‍मों में छोटे रोल्‍स किए। उनकी पहली फिल्‍म थी ओह डार्लिंग ये है इंडिया जिसमें उन्‍होंने हारमोनियम बजाने वाले की एक छोटी सी भूमिका अदा की थी। इसके बाद उन्‍होंने सत्‍या और दिल से जैसी फिल्‍मों में काम किया।
इसके बाद ऑफिस ऑफिस नाम के सीरियल में उनके द्वारा निभाए गए शुक्‍ला जी के किरदार से उन्‍हें काफी पहचान मिली।

प्रसिद्ध फिल्‍में-
ओह डार्लिंग ये है इंडिया, सत्‍या, दिल से, फिर भी दिल है हिन्‍दुस्‍तानी, साथिया, जमीन, प्‍लान, ब्‍लफमास्‍टर, बंटी और बबली, गोलमाल, अपना सपना मनी मनी, गुरू, बॉम्‍बे टू गोवा, धमाल, वेलकम, वन टू थ्री, क्रेजी 4, गाड तुसी ग्रेट हो, गोलमाल रिटर्न्‍स, ऑल द बेस्‍ट: फन बिगिन्‍स, अतिथि तुम कब जाओगे, गोलमाल 3, फंस गए रे ओबामा, चला मुसद्दी ऑफिस ऑफिस, सन ऑफ सरदार, जॉली एलएलबी, बॉस, आंखो देखी, भूतनाथ रिटर्न्‍स, किक, दम लगा के हईशा।
Buy Movie Tickets