जीवनी
जाॅन अब्राहम भारतीय अभिनेता होने के साथ साथ निर्माता और पूर्व माॅडल भी रह चुके हैं। वे अपनी अच्छी बाॅडी की वजह से भी जाने जाते हैं और इस कारण वे युवाओं के बीच खासा पापुलर हैं। कई विज्ञापनों और कंपनियों के लिए माॅडलिंग करने के बाद जाॅन ने फिल्मों में शुरूआत की। उन्होंने अपना फिल्म डेब्यू फिल्म ‘जिस्म’ से किया जिसके लिए उन्हें फिल्मफेयर में बेस्ट डेब्यू के लिए नामांकित भी किया गया। 
उनकी पहली कामर्शियल सक्सेस धूम रही। उन्हें दो बार फिल्मफेयर पुरस्कारों में निगेटिव रोल के लिए भी नामांकित किया गया, एक बार धूम के लिए और एक बार जिंदा के लिए। 
फिल्म वाटर के लिए भी उनकी खासा तारीफ हुई। फिल्म बाबुल के लिए भी उन्हें फिल्मफेयर के सर्वश्रेष्ठ सह-अभिनेता के पुरस्कार के लिए भी नामांकित किया गया। इसके बाद उन्होंने कई अच्छी और सफल फिल्मों में काम किया। 

2012 में उन्होंने निर्माण के क्षेत्र में भी कदम रखा और फिल्म विकी डोनर से निर्माता के रूप में भी शुरूआत की। फिल्म को आलोचकों के साथ जनता ने भी पसंद किया और यह फिल्म सफल रही। फिल्म का कान्सेप्ट भी बिल्कुल हटकर था। इसके बाद उन्होंने स्वयं का प्रोडक्शन हाउस भी सेटअप कर लिया जिसका नाम जाॅन अब्राहम एंटरटेनमेंट है। निर्माता के तौर तौर पर उनकी दूसरी फिल्म मद्रास कैफे रही जिसे आलोचकों ने काफी सराहा। वे बाॅलीवुड में सेक्स सिंबल के रूप में भी जाने जाते हैं। वे इंडियन सुपर लीग की फुटबाल टीम नार्थईस्ट यूनाइटेड एफसी के सह-मालिक भी हैं। उन्हें कई बार कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है। 

पृष्ठभूमि-
जाॅन अब्राहम का जन्म केरला में हुआ था। उनके पिता मलयाली तो वहीं उनकी मां गुजराती हैं। जाॅन ने अपने जीवन का ज्यादातर वक्त अपनी मां के साथ ही बिताया है और वे काफी अच्छी गुजराती बोलते हैं। उनके पिता का नाम अब्राहम जाॅन है जो ंकि आर्किटेक्ट हैं। उनकी मां का नाम फिरोजा ईरानी है। जाॅन का पारसी नाम फरहान है, वहीं उनके पिता के क्रिश्यिन होने क नाते उन्होंने उनका नाम जाॅन रखा। उनकी एक बहन भी है जिनका नाम सूसी मैथ्यू है और उनका एक छोटा भाई भी है। 

पढ़ाई-
उन्होंने बांबे स्काॅटिश स्कूल, मुंबई से पढ़ाई की। उन्होंने इकनाॅमिक्स मंे स्नातक की डिग्री जय हिंद काॅलेज से प्राप्त की। उन्होंने एमईटी काॅलेेज से एमएमएस भी प्राप्त किया है। 

शादी-
उन्होंने एनआरआई और इंस्वेस्टमेंट बैंकर प्रिया रूंचाल से शादी की। 

माॅडलिंग से हुई करियर की शुरूआत-
जाॅन ने अपना माॅडलिंग करियर पंजाबी गायक जैजी बी के गाने ‘सूरमा’ के म्यूजिक वीडियो से शुरू किया। इसके बाद उन्होंने एक मीडिया फर्म टाइम एंड स्पेस मीडिया एंटरटनमेंट प्रोमोशन्स लिमिटेड को ज्वाइन किया जो कि बाद में आर्थिक तंगी की वजह से बंद हो गया। बाद में उन्होंने एंटरप्राइजेज-नेक्सस के लिए मीडिया प्लानर के तौर पर काम किया। 1999 में उन्होंने ग्लैडरैग्स मैनहंट कान्टेस्ट जीता और इसके बाद वे मैनहंट इंटरनेशनल के लिए फिलीपींस गए जहां वे सेकेंड रनर-अप रहे थे। बाद में जाॅने ने हांगकांग, लंदन और न्यूयार्क में माॅडलिंग की। फिर वे कई विज्ञापनों में भी दिखाई दिए और मशहूर गायकों के म्यूजिक वीडियोज में भी दिखाई दिए जिसमें पंकज उधास, हंस राज हंस और बाबुल सुप्रियो जैसे प्रसिद्ध गायक शामिल हैं। अपने अभिनय क्षमता को और निखारने के लिए उन्होंने किशोर नमित कपूर के स्कूल से एक्टिंग कोर्स पूरा किया।

अभिनेता के तौर पर की शुरूआत-
उन्होंने अपने अभिनय करियर की शुरूआत फिल्म जिस्म से की थी जो कि एक थ्रिलर फिल्म थी और बाॅॅक्स आॅफिस पर औसत रही थी। उनकी अगली फिल्में साया, पाप और लकीर-फाॅरबिडेन लाइंस थीं। इसके बाद वे फिल्म धूम में दिखाई दिए जिसमें वे निगेटिव किरदार में थे और चाोर की भूमिका निभाई थी। इस फिल्म में उनके काम की तारीफ भी हुई और इस रोल के लिए वे इसलिए भी फिट बैठे क्योंकि बाइक-राइडिंग उनका शौक है और फिल्म में बाइक-राइडिंग को भरपूर रूप से दिखाया गया है। यह उस साल की सबसे ज्यादा कमाई करनेे वाली फिल्मों में से एक थी। 
इसके बाद उन्होंने सुपरनैचुरल फिल्म काल और काॅमेडी फिल्म गरम मसाला में काम किया। दोनों फिल्मों ने बाॅक्स आॅफिस पर अच्छा कारोबार किया। इसके बाद उन्होंने उसी साल फिल्म वाटर में काम किया जिसे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर काफी सराहना मिली और 2006 के 79वें अकेडमी अवार्ड के लिए बेस्ट फाॅरेन लैंग्वेज फिल्म के अकेडमी अवार्ड के लिए भी नामांकित हुई। 
इसके बाद उन्होंने जिंदा, टैक्सी नं 9211, बाबुल और काबुल एक्सप्रेस में दिखाई दिए। इनमें से टैक्सी नं 9211 और काबुल एक्सप्रेस सफल रहीं। 
उनकी 2007 की पहली रिलीज निखिल अडवानी की सलाम-ए-इश्कः ए ट्रिब्यूट टू लव थी। यह फिल्म इंडियन बाॅक्स आॅफिस पर तो कोई खास कमाल नहीं कर सकी लेकिन फिल्म ने विदेशी मार्केट में अच्छी कमाई की। उसी साल उनकी दो और फिल्में नो स्मोकिग और धन धना धन गोल भी रिलीज हुई। 
2008 में आई उनकी फिल्म दोस्ताना हिट हुई। इसमें उनके साथ अभिषेक बच्चन और प्रियंका चोपड़ा भी थे। 2009 में आई उनकी फिल्म न्यूयार्क भी सफल रही और फिल्म को अच्छा रेस्पांस मिला। इसके बाद वे फिल्म आशाएं और झूठा ही सही में दिखाई दिए और दोनों ही फिल्में असफल रहीं। 

बाद में, वे फोर्स, देसी ब्वायज और हाउसफुल2 में दिखाई दिए। फोर्स में उनकी बाॅडी का पर्दे पर भरपूर इस्तेमाल किया गया और फिल्म के एक सीन में उनके द्वारा उठाई गई बाईक का सीन काफी पापुलर हुआ। 
इसके बाद वे रेस2 में दिखाई दिए जो कि बाॅक्स आॅफिस पर काफी सफल हुई। इसके बाद वे आई, मी और मैं में दिखाई दिए जो कि बाॅक्स आॅफिस पर कोई खास कमाल नहीं दिखा पाई। इसके बाद उन्होंने शूटआउट एट वडाला में काम किया जिसमें वे गैंग्सटर मान्या सूर्वे के किरदार में दिखाई दिए और फिल्म को पाॅजीटिव रिव्यूज मिले। निर्माता और अभिनेता के तौर पर आई उनकी फिल्म मद्रास कैफे को आलोचकों से काफी अच्छी प्रतिक्रिया मिली और अच्छा वर्ड आॅफ माउथ मिलने की वजह से फिल्म ने अच्छा कलेक्शन भी कर लिया। 

बिपाशा के साथ चला लंबे समय तक अफेयर-
जिस्म फिल्म की शूटिंग के दौरान जाॅन ने अपनी को-स्टार बिपाशा बसु को डेट करना शुरू किया। वे 2011 की शुरूआत तक रिलेशन में रहे। दोनों के रिलेशन के दौरान भारतीय मीडिया ने उन्हें सुपरकपल तक करार दिया। 

सामाजिक सेवा भी करते हैं जाॅन-
जाॅन की वेबसाइट के मुताबिक, उन्होंने 1 लाख रूपए की राशि लीलावती अस्पताल को दान की। 

प्रसिद्ध फिल्में-
जिस्म, साया, ऐतबार, पाप, लकीरः फाॅरबिडेन लाइंस, धूम, ऐलान, करम, काल, विरूद्ध, वाटर, गरम मसाला, जिंदा, टैक्सी नं 9211, बाबुल, काबंुल एक्सप्रेस, सलाम-ए-इश्कः ए ट्रिब्यूट टू लव, दोस्ताना, न्यूयार्क, सात खून माफ, फोर्स, देसी ब्वायज, हाउसफुल2, रेस2, शूटआउट एट वडाला, मद्रास कैफे। 
Buy Movie Tickets
 

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi