जीवनी
इरशाद कामिल या "इर्शाद कामिल' एक भारतीय हिन्दी/उर्दू कवि वा गीतकार हैं। इन्होने जब वी मेट, चमेली, लव आज कल, रॉकस्टार वा आशिकी 2 के लिए गीत लिखे हैं।

पृष्ठभूमि 
इरशाद कामिल का जन्म एक मुस्लिम परिवार में 5 सितम्बर 1971 को पंजाब में हुआ था। कामिल ने हिंदी/उर्दू में पीएचडी की है। 

करियर 
इरशाद ने शुरआती करियर में टेलीविजन शो के टाइटल ट्रैक लिखते थे। उन्होंने कई शो के टाइटल ट्रैक लिखे। जिनमे ना जइयो परदेश,कंहा से कंहा तक शामिल है। उन दिनों कामिल ने पंकज कपूर निर्देशित शो दृष्टम् का टाइटल ट्रैक लिखा था।  बस इसी शो के बाद कामिल की जिंदगी बदल गयी।  इसी शो के बाद उन्हें हिंदी सिनेमा में एंट्री दिलवाई। कामिल ने हिंदी सिनेमा में एंट्री फिल्म चमेली से की।  उन्हों इस फिल्म के गाने लिखे जो काफी प्रसिद्ध हुए थे।  इसके बाद तो बॉलीवुड में हर कोई उनके साथ काम करने के लिए बैचन होने लगा।  उन्होंने कई फिल्मों के गाने लिखे जिसके लिए उन्हें कई अवार्ड्स से भी सम्मानित किया गया। कामिल को इम्तियाज अली की फिल्म रॉकस्टार के लिए फिल्म फेयर के अवार्ड से भी नवाजा जा चूका है। 

प्रसिद्ध फ़िल्में 
चमेली, शब्द, सोचा ना था, आहिस्ता आहिस्ता, ढोल, जब वे मेट, आ देखें जरा, नील ऐन निक्की, लव आज कल, भ्रम, अजब प्रेम की गजब कहानी, अतिथि कब जाओगे, तुम मिलो तो सही, कुछ खट्टा कुछ मीठा, अंजना-अंजानी, आक्रोश, एक्शन रीप्ले, कॉकटेल, गुंडे हाइवे, रॉकस्टार ,स्पेशल 26, राजा नटवरलाल।
Buy Movie Tickets