For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    The Fabulous Lives of Bollywood Wives वेब रिव्यू - मज़ेदार है ये नेटफ्लिकस सीरीज़

    |

    रेटिंग - ***/5
    सीरीज़ - The Fabulous Lives of Bollywood Wives
    निर्देशक - उत्तम डोमले
    स्टारकास्ट - महीप कपूर, सीमा खान, नीलम कोठारी, भावना पांडे
    प्लेटफॉर्म - नेटफ्लिक्स
    एपिसोड - 8 एपिसोड/हर एपिसोड की अवधि - 40 मिनट

    नेटफ्लिक्स पर करण जौहर की कंपनी धर्माटिक इंटरटेनमेंट का एक मज़ेदार शो स्ट्रीम कर रहा है जिसका नाम है The Fabulous Lives of Bollywood Wives. ये शो बॉलीवुड का चार पत्नियों पर बनी एक रियलिटी सीरीज़ है। ये चार पत्नियां हैं - संजय कपूर की पत्नी महीप कपूर, सोहेल खान की पत्नी सीमा खान, समीर सोनी की पत्नी नीलम कोठारी और चंकी पांडे की पत्नी भावना पांडे।

    the-fabulous-lives-of-bollywood-wives-web-series-review-streaming-on-netflix

    इनकी कहानी शुरू होती है मायानगरी मुंबई से और खत्म होती है मुंबई पर। लेकिन बीच में ये फ्रांस से लेकर कतर घूम कर आती है और आपको इस सफर पर काफी मज़ा आने वाला है। पहले मिल लेते हैं इन चार पत्नियों से -

    महीप कपूर - संजय कपूर की पत्नी हैं, शनाया और जहान कपूर की मां हैं, अनिल कपूर और बोनी कपूर की भाभी हैं, श्रीदेवी और सुनीता कपूर की देवरानी हैं, अर्जुन कपूर - अंशुला कपूर, जान्हवी कपूर - खुशी कपूर, सोनम कपूर - रिया कपूर, हर्षवर्धन कपूर की चाची हैं। महीप, अर्जुन कपूर के बेहद करीब हैं जो अपनी चाची के भतीजे कम और दोस्त ज़्यादा हैं।

    सीमा खान - सोहेल खान की पत्नी हैं, निर्वाण और योहान खान की मां हैं, मलाईका अरोड़ा की देवरानी हैं, सलमान खान - अरबाज़ खान की भाभी हैं, अरहान खान की चाची हैं। सीमा का अपना ब्रांड हैं और वो इस सीरीज़ के बाद अपने गुस्से के लिए जानी जाएंगी।

    भावना पांडे - चंकी पांडे की पत्नी हैं, अनन्या पांडे की मां हैं, शाहरूख खान की पत्नी गौरी खान की बेस्ट फ्रेंड हैं, अहान पांडे की चाची हैं। उनका अपना स्टोर GenLove है।

    नीलम कोठारी - 80 , 90 के दशक की मशहूर एक्ट्रेस हैं जो चंकी पांडे की को स्टार हैं, समीर सोनी की पत्नी हैं, आहना सोनी की मां हैं और एकता कपूर की बेस्ट फ्रेंड हैं। अब जानिए कि इस सीरीज़ में क्या है मज़ेदार और क्या है फीका, हमारे रिव्यू में -

    प्लॉट

    प्लॉट

    यूं तो ये सीरीज़, बॉलीवुड की अमीर पत्नियों पर बनी एक रियलिटी सीरीज़ लेकिन इस सीरीज़ में एक कहानी है और स्क्रिप्ट भी है। चार बॉलीवुड पत्नियों की दोस्ती और इस दोस्ती के माध्यम से उनकी ज़िंदगी में झांकने के लिए एक बेहद सतही स्क्रिप्ट का इस्तेमाल अच्छी तरीके से किया गया है। बस, दिक्कत इतनी है कि सीरीज़ में स्क्रिप्ट है ये साफ पता चलता है।

    कहानी

    कहानी

    आठ एपिसोड की इस सीरीज़ की शुरूआत होती है, संजय कपूर और महीप कपूर की बेटी शनाया कपूर के फ्रांस के चर्चित इवेंट La Bel के निमंत्रण के साथ। वहीं महीप कपूर के माध्यम से ही शो में नीलम, सीमा खान और भावना पांडे को इंट्रोड्यूस किया जाता है। और पहले ही एपिसोड में बता दिया जाता है कि ये चार दोस्त - महीप कपूर, नीलम कोठारी, सीमा खान और भावना पांडे सब आपस में कितने जुड़े हुए हैं। महीप और भावना की बेटियां - शनाया कपूर और अनन्या पांडे बेस्ट फ्रेंड्स हैं। सीमा खान, चंकी पांडे की भांजी हैं। नीलम और चंकी पांडे, बॉलीवुड के अच्छे ऑन स्क्रीन कपल रहे हैं। और इसलिए ये सब एक दूसरे के काफी करीब हैं।

    किरदार

    किरदार

    सीरीज़ में किरदारों की कमी नहीं हैं। जहां इन चार बॉलीवुड पत्नियों पर कहानी फोकस की गई है वहीं इनके आस पास के सारे लोग, इस सीरीज़ में एंट्री करते दिखाई देंगे। खासतौर से इनके पति और बच्चों के साथ इनकी ज़िंदगी कैसे बीत रही है। और आपस में इनके पति एक दूसरे से कितना जुड़े हैं। सीमा खान के पति, सोहेल खान जहां पूरे ग्रुप से दूर ही दिखे वहीं चंकी पांडे और संजय कपूर के बीच नोक झोंक की केमिस्ट्री भी अच्छी है। नीलम के पति समीर सोनी इस ग्रुप में खुद को काफी बड़ा Misfit मानते हैं जो हर जगह साफ दिखता है।

    अभिनय

    अभिनय

    भले ही ये सीरीज़ रियलिटी सीरीज़ कही गई है लेकिन कैमरा के साथ चारों ही लीड किरदारों का बड़ी आसानी से घुल मिल जाना काबिले तारीफ है। नीलम कोठारी और महीप कपूर ने भले ही कैमरा के सामने काम किया है लेकिन भावना पांडे और सीमा खान ने कभी कैमरा Face नहीं किया है। लेकिन फिर भी पूरी सीरीज़ में कहीं नहीं लगता कि चारों में से कोई एक्टिंग कर रहा है और इसके लिए चारों ही प्रशंसा के पात्र हैं।

    निर्देशन

    निर्देशन

    आठ एपिसोड की सीरीज़ का निर्देशन किया है उत्तम डोमाले ने और इसे प्रोड्यूस किया है करण जौहर की कंपनी धर्माटिक इंटरटेनमेंट ने। और बॉलीवुड की चकाचौंध भरी दुनिया को जितना नकली कहा जाता है, ये सीरीज़ आपको उतनी नकली है नहीं। इसके लिए करण जौहर की क्रिएटिव टीम नाओमी दत्ता और अनुवब पाल को बधाई दी जानी चाहिए। ये सीरीज़ आपको पहले ही एपिसोड से मनोरंजन का डोज़ देगी और आठ एपिसोड्स में देती रहेगी।

    छोटी छोटी कहानियां

    छोटी छोटी कहानियां

    जहां ये पूरा शो चार दोस्तों की एक दूसरे के साथ रिलेशनशिप दिखाता है वहीं दूसरी तरफ, हर एपिसोड के साथ इनके परिवार के साथ इनका ईक्वेशन भी दिखाता जाता है। और बॉलीवुड सेलिब्रिटीज़ के बारे में पढ़ना किसे नहीं पसंद है। इसलिए इस शो में भी आपको नापसंद जैसा कुछ नहीं मिलेगा। ये आपका रोज़ाना का मीडिया गॉसिप है, वो भी बिना किसी एक्स्ट्रा मसाला या ड्रामा के।

    दिक्कतें और परेशानियां

    दिक्कतें और परेशानियां

    आमतौर पर बॉलीवुड सेलिब्रिटीज़ की ज़िंदगी को शानदार ही कहा जाता है। इस शो का नाम भी है - बॉलीवुड पत्नियों की शानदार ज़िंदगी। और ठीक अपने नाम के अनुरूप ये आपको इसी ज़िंदगी की झलक भी देता है। लेकिन उनकी ज़िंदगी में दिक्कतों का मतलब क्या है और वो इससे कैसे डील करते हैं उस बारे में भी कहीं कहीं, कभी कभी छोटी छोटी बातें करता है।

    दूसरी तरफ का जीवन

    दूसरी तरफ का जीवन

    इसमें कोई दो राय नहीं है कि आम आदमी और एक सेलिब्रिटी में बहुत अंतर है लेकिन दूसरी तरफ की दुनिया की भी एक कहानी है जो करण जौहर का ये शो आपके सामने लाने की कोशिश करता है। कुछ बातों पर आपका ध्यान अपने आप ही जाएगा। जैसे जब संजय कपूर ये बताते हैं कि अगर नेपोटिज़्म वाकई काम दे पाता तो वो इस इंडस्ट्री के सुपरस्टार होते या फिर जब नीलम केवल इस बात से खुश हो जाती हैं कि इंडस्ट्री छोड़ने के 20 साल बाद भी एक अनजान देश में एक फैन उन्हें पहचानता है। इस जेनरेशन का कोई लड़का, उनके ज़माने की फिल्में देख रहा है और इंजॉय कर रहा है।

    कहां किया निराश

    कहां किया निराश

    यूं तो इस सीरीज़ में मनोरंजन का पूरा डोस है। लेकिन आप इसे बॉलीवुड पत्नियों या उनकी दोस्ती की रियलिटी सीरीज़ नहीं कह सकते हैं। क्योंकि अगर कहते हैं तो आपको इसमें कमियां ही कमियां मिलेंगी। और दोस्तियां कैसे बदलती हैं या कैसे इतनी सतही हो सकती है, ये बात आपको परेशान करेगी। जैसे कि 25 सालों से एक दूसरे के दोस्त होने के बावजूद इन दोस्तों को एक दूसरे की ज़िंदगी के बारे में कुछ भी नहीं पता। यहां तक कि एक दूसरे का काम, वो 25 साल बाद पहली बार देखते हैं!

    देखें या ना देखें

    देखें या ना देखें

    ये सीरीज़ इंटरटेनमेंट का डोज़ है और चारों पत्नियां - महीप कपूर, सीमा खान, नीलम कोठारी और भावना पांडे आपको बिना किसी ड्रामा के इंटरटेन करने में कामयाब होती दिखती हैं। इसलिए आप अपना वीकेंड आराम से इनके आठ एपिसोड्स के नाम कर सकते हैं।

    English summary
    The Fabulous Lives of Bollywood wives is streaming on netflix. Read our review, before watching the series.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X