»   » #Me Too मेरी जांघ पर हाथ रखा और कहा इसके बिना आगे नहीं बढ़ सकती - शमा सिकंदर

#Me Too मेरी जांघ पर हाथ रखा और कहा इसके बिना आगे नहीं बढ़ सकती - शमा सिकंदर

By Prachi Dixit
Subscribe to Filmibeat Hindi

#Me Too पर आए दिन कोई नाम कोई नाम सामने आ रहा है। इस बार टीवी एक्ट्रेस शमा सिकंदर ने अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न का कड़वा सच सबके सामने लाया है।

शमा ने एक वेबसाइट से बातचीत में बताया कि 14 साल की उम्र में उनके साथ एक निर्देशन के उत्पीड़न की कोशिश की थी। वह आगे कहती हैं कि मैंने अपने करियर की शुरुआत 14 साल में की थी।

shama sikander

एक डायरेक्टर ने मेरी जांघ पर हाथ रखा था। मैंने उसी समय मना कर उन्हें खुद से दूर कर दिया। ये देखकर उस डायरेक्टर ने मुझसे कहा कि तुम्हें क्या लगता है, तुम स्टार बन जाओगी, यहां तुम्हें कोई नहीं छोड़ेगा।

अगर कोई डायरेक्टर नहीं तो कोई निर्माता या एक्टर तुम्हारा शोषण करेगा। तुम इसके बिना आगे नहीं बढ़ सकती हो। गौरतलब है कि शमा टीवी और फिल्म का लोकप्रिय नाम है। उनके साथ हुई यह घटना इंडस्ट्री की काली सच्चाई सामने लाती है।

बहरहाल,यहां देखिए मी टू पर ये सभी टीवी स्टार क्या कहना चाहते हैं ...

हमारे साथ कुछ गलत हो रहा- दिव्यांका त्रिपाठी

हमारे साथ कुछ गलत हो रहा- दिव्यांका त्रिपाठी

अगर हमारे साथ कुछ गलत हो रहा है या फिर गलत तरीके से कोई हमें अप्रोच कर रहा है तो इस पर बहनों को बताते से बेहतर की हम इसके खिलाफ आवाज उठाए। जो गलत कर रहे हैं उन्हें सजा मिलनी चाहिए। अपराध को किसी भी तरह छुपाना नहीं चाहिए।

सेक्सुअली हेरेस - शरद मल्होत्रा

सेक्सुअली हेरेस - शरद मल्होत्रा

सेक्सुअली हेरेस पर तुरंत एक्शन लेना चाहिए। इसके लिए सालों तक इंतजार नहीं करना चाहिए। न्याय को टालना नहीं चाहिए। प्लीज इसके लिए आवाज उठाइए। समय का बड़ा महत्व है।

शर्मनाक केसेज- सृति झा

शर्मनाक केसेज- सृति झा

इस तरह के शर्मनाक केसेज के बारे में बात करना कठिन है। कई बार विश्वास नहीं किया जाता। काम भी नहीं मिलने का डर होता है। महिलाएं असुरक्षित हैं। हमारे दोस्त और भाई हमें घर पर ड्रॅाप करने की बात करते हैं। वैसे इन सबको डरने की आवश्यकता नहीं है। जो गलत करते हैं उन्हें डर होना चाहिए। मैं उन सभी महिलाओं का सम्मान करती हूं जिन्होंने आवाज उठाई है।

मीटू कैंपेन-देबीना बनर्जी

मीटू कैंपेन-देबीना बनर्जी

मीटू कैंपेन सभी महिलाओं के पक्ष में काम करेगा जो यौन उत्पीड़न का शिकार हुई हैं। इससे महिलाओं को ताकत मिलेगी। वह अन्याय के लिए आवाज तेजी से उठायेंगी। कई लोगों का कहना है इतने देर से आवाज क्यों उठाई जा रही है। मेरे ख्याल से उस वक्त इंसान कुछ कहने की हालत में नहीं रहता है। जो दूसरे के साथ हुआ है वह कल हमारे या हमसे जुड़े किसी के भी साथ हो सकता है। हमें महिलाओँ को प्रोत्साहित करना चाहिए।

उत्पीड़न का सामना-मौनी रॅाय

उत्पीड़न का सामना-मौनी रॅाय

मुझे लगता है कि चाहे वह पुरुष हो या महिला, जो किसी प्रकार के भी उत्पीड़न का सामना कर रहे हों उन्हें आगे आकर बोलना चाहिए। यह सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री में नहीं बल्कि कई बार आस पास या फिर परिवार में छोटे बच्चों को भी इसका सामना करना पड़ता है। मैं आशा करती हूं कि ये अभियान असफल नहीं होगा।

बेहद घटिया - विवेक दहिया

बेहद घटिया - विवेक दहिया

मेरा मानना है कि महिलाओं को अपनी आवाज इतने लंबे समय तक दबा कर नहीं रखनी चाहिए। इस तरह की खबरें आना बेहद घटिया है। मुझे गर्व है कि हम ऐसी महिलाओं के साथ खड़े हैं जो कि ऐसे क्राइम के खिलाफ आवाज लगातार उठा रही हैं। हम सभी को सोशल मीडिया को धन्यवाद देना चाहिए।

महिलाओं को सलाम -हिना खान

महिलाओं को सलाम -हिना खान

हिना खान ने ट्वीट कर कहा, 'उन सभी महिलाओं को सलाम जो समाज को एक सुरक्षित जगह बना रही हैं। ऐसा करने के लिए बहुत हिम्मत की जरूरत पड़ती है। हम सभी को मिलकर अपनी इंडस्ट्री को सुरक्षित बनाना चाहिए।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary
    Have a look Shama Sikander fance Sexual Harassment describe her Me Too incident

    रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more