For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    7 December Written: कुमकुम भाग्य, कसौटी जिंदगी की 2,इश्कबाज और कुल्फी कुमार बाजेवाला

    By Prachi Dixit
    |

    कसौटी जिंदगी की 2, इश्कबाज, कुमकुम भाग्य, और कुल्फी कुमार बाजेवाला में आज आपके लिए कौन सा ट्विस्ट लेकर आया है। इसकी पूरी अपडेट अगर आप मिस कर चुके हैं तो हम आपके लिए सारी अपडेट लाए हैं। कसौटी जिंदगी की 2 में अनुराग के मौत की प्लानिंग का क्या हुआ हाल । कुल्फी कुमार बाजेवाला में कुल्फी का टूट गया दिल। अभि ने प्रज्ञा के धोखा से परेशान होकर लिया ये फैसला।

    यहां पढ़िए 7 दिसंबर यानी आज के एपिसोड की पूरी डिटेल अपडेट।

    अनुराग की मौत का प्लान हुआ पूरा- कसौटी जिंदगी की 2

    नवीन एक ट्रक वाले को अनुराग को मारने के लिए कहता है। माधुरी नवीन को कॉल करती है। नवीन उसका फ़ोन नहीं उठाता हैं । प्रेरणा फ़ोन पर अनुराग से कहती है कि मुझे तुम्हारी चिंता होती है। अनुराग प्रेरणा को समझाता है। अनुराग कहता है कि तुम सामने आने पर कुछ नहीं कहती। इतने में अनुराग की गाड़ी ट्रक के सामने आती हैं। अनुराग लगातार प्रेरणा से वीडियो कॉल पर बात करता रहता है।

    प्रेरणा कहती है कि मैं तुमसे अपनी भावनाएं बयां नहीं कर सकती। इस बीच ट्रक अनुराग की गाड़ी की तरफ बढ़ता है। नवीन खुद ट्रक चलाता है और अनुराग की गाड़ी को उड़ा देता है। प्रेरणा अपनी स्क्रीन पर इसकी झलक देख लेती है। अनुराग बुरी तरह बेहोश होकर गाड़ी में गिरा रहता है। प्रेरणा भागते हुए घर से बाहर निकलती है। अनुराग मरा या जिंदा ये देखने की कोशिश नवीन करता हैं तभी लोग आकर नवीन को पकड़ने की कोशिश करते हैं। लेकिन वो ट्रक चला कर भाग जाता है।

    अनुराग की गाड़ी में हुआ ब्लास्ट

    अनुराग की गाड़ी में हुआ ब्लास्ट

    अनुराग बेहोशी में प्रेरणा को सोचता रहता हैं। सब मिलकर अनुराग को जगाते है। गाड़ी से पेट्रोल निकलता रहता हैं।अनुराग और सिड गाड़ी से निकलते हैं। तभी अनुराग को शादी के पेपर की याद आती हैं। वह दोबारा पेपर लेने के लिए गाड़ी के पास जाता है। अनुराग पेपर लेकर निकलता है और गाड़ी में ब्लास्ट हो जाता है।दूसरी तरफ भागते हुए प्रेरणा के दुप्पटे में आग लग जाती हैं । हर कोई प्रेरणा को पकड़ता है।

    प्रेरणा भागते हुए निकलती है। गाड़ी की तलाश करती है। दूसरी तरफ अनुराग की मां को अहसास होता है कि उसे कुछ हुआ है। वह सबके सामने अनुराग का नाम लेने लगती है। सब उसे समझाते हैं। नवीन आकर माधुरी से मिलता है और कहता है कि अनुराग जिंदा बच गया है। मगर मैं उसकी हालत देख नहीं पाया। माधुरी जाकर नवीन से कहती है कि तुम्हें कोई पहचान लेगा। है। मैं जाकर देख कर आती हूं। माधुरी वहां पर जाकर प्रेरणा को देखती है और उसे पता चलता है कि अनुराग को डॅाक्टर के पास ले जाया गया है।

    प्रज्ञा ने की अभि से दूर जाने की कोशिश- कुमकुम भाग्य

    प्रज्ञा ने की अभि से दूर जाने की कोशिश- कुमकुम भाग्य

    प्रज्ञा कियारा को स्कुल छोड़ कर वहां से निकल रही होती है कि अचानक एक छोटी सी बच्ची उसे बलून्स खरीदने के लिये कहती है। प्रज्ञा कियारा के लिये वो सारे बलून्स खरीद लेती है। वहीं अभि भी उस बलून्स को खरीदने के लिये गाड़ी से नीचे उतरता है वहां वो देखता है कि एक औरत उस गुब्बारों को पहले ही खरीद लिये हैं। गुब्बारे के पीछे उसे प्रज्ञा दिखाई नही देती है। सारे गुब्बारे उड़ कर अभि की कार की खिड़की पर आ जाते हैं। अभि गुब्बारा देने के लिए उतरता है। लेकिन प्रज्ञा छिप जाती है और अभि गुब्बारे लेकर घर आ जाता है।

    अभि और कियारा की हुई मुलाकात

    अभि और कियारा की हुई मुलाकात

    घर में अभि कहता है कि वो इस गुब्बारों को अपने साथ रखेगा क्योंकि ये उसे उसकी बेटी कियारा की याद दिलाते हैं तभी उसे कियारा की डॉल दिखाई देती है और वो उससे बात करने लगता है। अभि को लगता है कि कियारा उसके घर में है। उसे उसकी आवाज आती है। अभि देखता है कि कियारा दिशा के कमरे में होती है। अभि और कियारा एक दूसरे को देखकर गले लगा लेते हैं।रोते रोते वो कियारा को कहता है कि वो उससे सात साल बाद मिल रहा है जिसे सुन कियारा हैरान रह जाती है वो कहती है कि वो तो उससे हमेशा मिलती रही है।

    अभि ने कियारा से कहां मैं तुम्हारा पिता हूं

    अभि ने कियारा से कहां मैं तुम्हारा पिता हूं

    कियारा रोकर कहती है कि अभी के खून से वह मजबूत हो गई है। अभी कियारा को गले लगाकर कहता है कि हम दोनों का खून एक ही है। अभि गले लगाते हुए कहते है कि उसे अभि के डैड बुलाना चाहिए। कियारा कहती है कि वह उसकी बेटी ही है। यह सुनकर अभि रोने लगता है। कियारा चुप करवाते हुए कहती है कि अगर आप रोते हैं तो मैं भी रोने लगूंगी। अभि कहता है कि वह कियारा को रोते हुए नहीं देख सकता है।

    कुल्फी ने की सिकंदर से मुलाकात-कुल्फी कुमार बाजेवाला

    कुल्फी ने की सिकंदर से मुलाकात-कुल्फी कुमार बाजेवाला

    कुल्फी के पास सिकंदर के लिए कई सारे सवाल रहते हैं।लेकिन वो सोचती है कि क्या सिकंदर इन सबका जवाब देगा। उधर सिकंदर एक खास कमरा कुल्फी के लिए तैयार करता है। अपने बड़े भाई से कहता है कि यह कमरा तेवर के घर जितना बड़ा नहीं है। लेकिन वह कुल्फी के लिए इसे स्पेशल बना देगा। बड़े भाई कहते हैं कि तुम्हें इतना कैसे यकीन है कि कुल्फी वापस आ जाएगी। सिकंदर कहता है कि वह यहं का रास्ता भूल सकती है लेकिन वह मुझे नहीं भूल सकती है। कुल्फी अपने मामा के साथ गांव जाने के लिए निकल जाती है। मामा कहते हैं कि मेरे पास पैसा नहीं है लेकिन मैं तुझे स्कूल जरूर भेज सकता हूं। इधर कुल्फी सिकंदर के साथ बिताए गए अपने हर पल को याद करने लगती है।

    कुल्फी और सिकंदर की हुई मुलाकात

    कुल्फी और सिकंदर की हुई मुलाकात

    दूसरी तरफ कुल्फी के लिए कमरा तैयार करता हुआ देखकर अमायरा को गुस्सा आ जाता है वह सिकंदर को रोकने जाती है,तभी लवली रोक लेती है और कहती है तुम्हारे पापा पागल हो गए हैं। कुल्फी को याद आता है कि सिकंदर उसे खोज रहा होगा। वह सपना देखती है कि सिकंदर से वह मिल चुकी है और उसे अपनी बेटी होने की सच्चाई बताती है। यह सुनकर सिकंदर रोते हुए उसे गले लगा लेता है। लेकिन जब कुल्फी की मुलाकात सिकंदर से होती है तो वह कुछ नहीं बताती है। कुल्फी को फिर से घर पर देखकर अमायरा और लवली गुस्सा हो जाता है। अमायरा और लवली के बदले सिकंदर कुल्फी को चुनता है।

    जय की प्लानिंग हुई फेल,शिवाय की जीत-इश्कबाज

    जय की प्लानिंग हुई फेल,शिवाय की जीत-इश्कबाज

    बिजनेस डील का प्रोजेक्ट जय के प्लान के बाद भी ओबरॅाय को मिलता है। जय को समझ नहीं आता कि ऐसा क्यों हुआ है। जय को रूद्र की फोन पर बात से पता चलता है कि शिवाय ने अंत में जाकर नंबर 10 प्रतिशत कम कर दिया था। जय को यह जानकर काफी गुस्सा आता है। जय कहता हि वह किसी भी हालत में यह डिल छीन लेगा। अनिका,शिवाय सभी के साथ मिलकर बिजनेस डील की खुशी मनाते हैं। हर कोई जाकर सूर्यकांत का मुंह मीठा करवाता है। सूर्यकांत कीचनन की तरफ जाता है और कल्याणी के लिए जो चाय बनाई गई थी उसके साथ एक खत रख देता है। हर कोई डिल की खुशी मनाता है।

    अनिका बताती है कि आज जगराता है। ये सुनकर उनको दादी की याद आती है जो उन्होंने रात को पड़ोस में जगराता की बात बताई थी। तीनों को सूर्यकांत का खत मिलता है। ये पढ़कर शिवाय हैरान हो जाता है। नानी से वह सारी बात जानने की कोशिश करते हैं। नानी बताती है कि सूर्यकांत जिससे प्यार करता था उसकी शादी कहीं और हो गई। शिवाय, ओमकारा और रूद्र का शक हकीकत में बदलता है। नानी बताती हैं कि वह लड़की कोई और नहीं बल्कि दादी हैं। शिवाय और ओमकारा मिलकर दादी और सूर्यकांत के बारे में पता लगाने की कोशिश करते हैं। इधर जय प्लानिंग करता है कि आखिर वो किस तरह शिवाय को बर्बाद करे।

    English summary
    Ishqbaaz, Kumkum bhagya, Kulfi Kumar Bajewala, Yeh Hai mohobbatein today 7 December episode written update
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X