For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Video बाइकर तेजी से आया और उसने मेरे सीने पर पंच मारा,मैं बेहोश हो गई- कंगना रनौत

    By Prachi Dixit
    |

    सोशल मीडिया पर इन दिनों एक बार फिर से कंगना रनौत छाई हुई हैं। इस वजह सही है। उनका यह पुराना वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वह बेबाकी से महिलाओं के साथ हो रही छेड़छाड़ पर अपना मत रख रही हैं। उन्होंने भी खुद के साथ हुए एक हादसे का जिक्र इस वीडियो में किया है।

    आपको बता दें कि ये वीडियो 2014 में टेलीकास्ट हुए 'सत्यमेव जयते' के फिनाले एपिसोड का है। जहां पर आमिर खान महिलाओं के साथ होने वाले छेड़छाड़ और यौन शोषण पर बातचीत कर रहे हैं। साथ ही फिल्मों में किस तरह महिलाओं के साथ की गई हरकत का असर आम लोगों पर पड़ता है, इस पर भी प्रकाश डाल रहे हैं।

    ऐसे में बतौर गेस्ट कंगना रनौत,दीपिका पादुकोण और परिणीति चोपड़ा फिनाले एपिसोड में मौजूद हैं। कंगना ने अपने साथ हुए एक बड़े हादसे का खुलासा इस दौरान किया। साथ ही फिल्मों में महिलाओं के साथ होने वाली गलत हरकत पर भी दुख जताया। चलिए जानते हैं कि कंगना ने क्या कहां और साथ ही इस एपिसोड का Video भी देखिए।

    बचपन में हुआ ऐसा

    बचपन में हुआ ऐसा

    इस वीडियो में कंगवा ने जिक्र किया है कि कैसे बचपन में एक लड़के ने उनसे साथ ऐसी हरकत की। जिस वजह से वह रास्ते पर बेहोश हो गईं।

    बाइक से जाने वाले लड़के

    बाइक से जाने वाले लड़के

    कंगना ने बताया कि मुझे याद है जब मैं चंडीगढ़ में स्कूल में पढ़ती थी। तब बाइक से जाने वाले लड़के लड़कियों को टच करने की कोशिश करते हैं।

    मेरे सीने पर पंच

    मेरे सीने पर पंच

    कंगना ने आगे बताया कि एक बार एक बाइकर तेजी से आया और उसने मेरे सीने पर पंच मारा।वो ऐसा पंच था कि मैं तुरंत बेहोश हो गई।

    मैं रास्ते पर बेहोश

    मैं रास्ते पर बेहोश

    वह आगे कहती हैं कि 5 मिनट तक मैं उसी स्थिति में रही और जब मैं उठी तो मेरा ध्यान इसी पर था कि किसी ने मुझे देखा तो नहीं। मैं देख रही थी कि क्या किसी ने इस घटना को होते हुए देखा है।

    स्कूल जाते वक्त छेड़छाड़

    स्कूल जाते वक्त छेड़छाड़

    परिणीति इस पर कहती हैं कि इस तरह की घटना के लिए लड़कियों को ही जिम्मेदार माना जाता था। मेरे साथ भी स्कूल जाते वक्त छेड़छाड़ होती थी। कभी मेरे कपड़ों पर तो कभी मेरे पैर पर लोग नजर डालते थे। स्कूल पहुंचने तक मैं रोने लगती थी।

    ना का मतलब सिर्फ ना होता है

    ना का मतलब सिर्फ ना होता है

    कंगना इस बातचीत के दौरान कहती हैं कि ऐसा समझा जाता है कि लड़की की ना में हां होती है। मुझे आज तक नहीं समझ आया कि लोग ऐसा क्यों सोचते हैं। अगर मैं किसी को खुद से दूर रहने के लिए कहती हूं, तो मेरे लिए ना का मतलब ना ही होता है।

    English summary
    Kangana Ranaut narrating eve teasing incident on Satyamev Jayate show Video
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X