For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    रामायण किस्सा: ताश खेलने लगे जामवंत, रामानंद सागर ने जड़ दिया जोरदार थप्पड़, खुद किया खुलासा !

    |

    लॉकडाउन के दौरान रामायण खूब पसंद किया जा रहा है। आलम ऐसा है कि टीवी पर देखने के साथ लोग इससे जुड़े कई किस्से भी जानना पसंद कर रहे हैं। सोशल मीडिया से लेकर न्यूज तक रामायण के हर किरदार को भरपूर लोकप्रियता मिल रही है।

    सनी देओल का भड़का गुस्सा कहा- धोखे के बाद काम नहीं करूंगा, शाहरुख खान मुझसे डरता थासनी देओल का भड़का गुस्सा कहा- धोखे के बाद काम नहीं करूंगा, शाहरुख खान मुझसे डरता था

    ऐसे में राम-रावण और लक्ष्मण के साथ इस शो के कई छोटे किरदार और कलाकार भी इन दिनों काफी लोकप्रिय हो रहे हैं। ऐसे में एक किस्सा सामने आया है रामायण के जामवंत का।

    रामानंद सागर ने अपने इस शो में हर किरदार को काफी प्लानिंग के साथ लिया था। जहां पर रामानंद सागर ने जामवंत का किरदार निभाने वाले राजशेखर उपाध्याय को जोरदार तमाचा जड़ दिया था। चलिए जानते हैं कि क्या है ये दिलचस्प किस्सा जो कि तेजी से पढ़ा जा रहा है। एक इंटरव्यू में उन्होंने इसका खुलासा किया है..

    जामवंत की भूमिका राजशेखर उपाध्याय ने निभाई

    जामवंत की भूमिका राजशेखर उपाध्याय ने निभाई

    रामायण में वैसे तो कहानी आगे बढ़ गई है। लेकिन इस बीच जामवंत की भूमिका निभाने वाले कलाकार राजशेखर उपाध्याय का एक बयान वायरल हो रहा है। जहां पर उन्होंने बताया कि कैसे शूटिंग के दौरान थप्पड़ जड़ दिया गया।

    रामानंद सागर से राजशेखर की पुरानी दोस्ती

    रामानंद सागर से राजशेखर की पुरानी दोस्ती

    रामायण में जामवंत की भूमिका निभाने से पहले रामानंद सागर से राजशेखर की पुरानी दोस्ती थी। राजशेखर ज्योतिष का भी ध्यान रखते थे। एक बार उन्होंने रामानंद सागर को बताया था कि उनकी शनि की साढ़े साती चल रही है।

    राजशेखर ने मारा थप्प्ड़

    राजशेखर ने मारा थप्प्ड़

    एक किस्सा शेयर करते हुए राजशेखर ने बताया कि वह एक समय ताश खेल रहे थे। रामानंद नहीं जानते थे कि उन्हें ताश खेलने का बहुत शौक है। जैसे ही उन्होंने देखा कि राजशेखर ताश खेल रहे हैं उन्होंने जोरदार थप्पड़ मार दिया और कहा कि आप इतने अच्छे इंसान हैं और आप यहां ये ताश खेल रहे हैं। इसके बाद राजशेखर ने ताश खेलना छोड़ दिया।

    राजशेखर उपाध्याय को कोई नहीं पहचानता था

    राजशेखर उपाध्याय को कोई नहीं पहचानता था

    गौरतलब है कि रामायण में जब राजशेखर उपाध्याय ने जामवंत की भूमिका निभाई तो कोई उनकी असल शक्ल नहीं पहचान पाता था। उनका चेहरा मास्क के साथ बालों और मुकुट से ढका रहता था। शरीर पर भी बाल लगे होते थे।

    एंटरटेनमेंट मतलब केवल दूरदर्शन

    एंटरटेनमेंट मतलब केवल दूरदर्शन

    ज्ञात हो कि80 के समय लोगों के लिए एंटरटेनमेंट मतलब केवल दूरदर्शन हुआ करता था। ऐसे में उस पर रामायण लाना रामानंद सागर के लिए जितना मुश्किल था, उतना रिस्क से भरा भी रहा है। मीडिया रिपोर्ट अनुसार इसके हर एपिसोड के पीछे 9 लाख खर्च किए जाते थे।

    कुल मिलाकर 78 एपिसोड

    कुल मिलाकर 78 एपिसोड

    रामायण के कुल मिलाकर 78 एपिसोड टेलीकास्ट किए गए। ऐसे में आप गिनती कर लीजिए कि इस शो का पूरा खर्च कितने करोड़ के करीब पहुंचा होगा। दूरदर्शन ने इस शो से 23 करोड़ रुपए का राजस्व पाया।

    रामायण के हर एपिसोड पर 9 लाख खर्च

    रामायण के हर एपिसोड पर 9 लाख खर्च

    विक्रम और बेताल के हिट होने के बाद रामानंद सागर को स्पॅान्सर्स मिल गए। विक्रम बेताल के हर एपिसोड पर 1 लाख खर्च किया गया। रामायण के हर एपिसोड को रामानंद सागर ने अपनी योजना के हिसाब से 9 लाख खर्च करने बनाया।

    English summary
    Doordarshan ramayan facts ramanad sagar slapped jamvant actor rajshekhar udadhyay, here read full news
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X