For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    क्रिमिनल जस्टिस: बिहाइंड क्लोज्ड डोर्स रिव्यू- मर्डर मिस्ट्री में लिपटा एक महत्वपूर्ण मुद्दा, दमदार स्टारकास्ट

    |
    Rating:
    3.5/5

    निर्देशक- रोहन सिप्पी और अर्जुन मुखर्जी

    स्टारकास्ट- पंकज त्रिपाठी, कीर्ति कुल्हारी, अनुप्रिया गोयनका, दीप्ति नवल, मीता वशिष्ठ, जीशु सेनगुप्ता, आशीष विद्यार्थी, शिल्पा शुक्ला आदि..

    प्लेटफॉर्म- डिज़्नी प्लस हॉटस्टार

    एपिसोड - 8 एपिसोड/हर एपिसोड की अवधि - 45 मिनट

    "सोशल मीडिया से चलेगा समाज, या न्याय व्यवस्था से चलेगा!" अनु चंद्रा मर्डर केस पर काम करते हुए वकील माधव मिश्रा अपनी पत्नी से कहते हैं। शहर के प्रतिशिष्ठित वकील बिक्रम चंद्रा की पत्नी अनु ने चाकू मारकर उनकी हत्या कर दी। पूरे देश में इस खबर से सनसनी मच जाती है। अनु के कबूलनामे के बाद एक ओर जहां सब इसे ओपन एंड शट केस मानते हैं, वहीं माधव मिश्रा और उनकी सहयोगी वकील निखत हुसैन को अहसास होता है कि यह केस जितना दिख रहा है, उससे कहीं ज्यादा गहरा है। लेकिन क्या दोनों अपने मुवक्किल की चुप्पी के पीछे छिपे राज को बाहर लाने में सफल हो पाएंगे?

    क्रिमिनल जस्टिस: बिहाइंड क्लोज्ड डोर्स

    क्रिमिनल जस्टिस: बिहाइंड क्लोज्ड डोर्स

    डिज़्नी प्लस हॉटस्टार की चर्चित वेब सीरिज क्रिमिनल जस्टिस का दूसरा सीजन स्ट्रीमिंग के लिए उपलब्ध हो चुका है। 8 एपिसोड्स में बंटा अपूर्व असरानी द्वारा लिखित यह सीरिज एक प्रासंगिक और महत्वपूर्ण विषय को संस्पेंस के साथ लपेटकर परोसता है। शानदार स्टारकास्ट के साथ दूसरे सीज़न में मर्डर केस के जरीए एक अहम मुद्दे का उठाया गया है, जिससे आप अंत तक बंधे रहेंगे।

    कहानी

    कहानी

    एक परफेक्ट परिवार, पति- पत्नी और एक बेटी.. अनु चंद्रा (कीर्ति कुल्हारी) की जिंदगी को देखकर दूसरों को ईष्या होती थी। पति बिक्रम चंद्रा (जीशु सेनगुप्ता) शहर के जाने माने सम्मानित वकील हैं। लेकिन एक रात अनु अपने पति बिक्रम को चाकू मार देती है.. और अपनी 12 साल की बेटी रिया (अद्रिजा सिन्हा) को घर में अकेला छोड़ बाहर निकल जाती है। पुलिस द्वारा पूछे जाने पर अनु अपना गुनाह कबूल कर लेती है, जिसके बाद मीडिया और समाज के तथाकथित सम्मानित वर्ग गिद्ध की तरह उसकी जिंदगी को नोच खा जाना चाहते हैं। 'Innocent until proven guilty' जैसे तर्क का गला घोंटते हुए अनु चंद्रा को रातोंरात डायन और चुड़ैल का तमगा दे दिया जाता है। उसके केस से जुड़े कई तार सामने आते हैं और अनु की ज़िंदगी जेल और ब्रेकिंग न्यूज के बीच बंधकर रह जाती है।

    मर्डर के पीछे छिपा राज!

    मर्डर के पीछे छिपा राज!

    एक ओर जहां सब इसे ओपन एंड शट केस मानते हैं, वकील माधव मिश्रा (पंकज त्रिपाठी) और निखत हुसैन (अनुप्रिया गोयनका) को अनु की चुप्पी और तुरंत दिया गया कबूलनामा अखरता है। कुछ पुलिस अधिकारियों के साथ मिलकर दोनों मर्डर केस से जुड़े कुछ अनसुलझे तारों को सुलझाने की कोशिश करते हैं, जिससे ऐसी सच्चाई सामने आती है, जो सबको किसी शॉक की तरह लगता है। इस मर्डर मिस्ट्री के साथ निर्देशक ने महिलाओं से जुड़े कई महत्वपूर्ण सवाल उठाए हैं, जो बेहद प्रासंगिक है.. लेकिन आज तक उस पर सिर्फ दबी ज़ुबान में ही बात होती आई है।

    अभिनय

    अभिनय

    क्रिमिनल जस्टिस के पहले सीज़न से जुड़े पंकज त्रिपाठी, अनुप्रिया गोयनका और मीता वशिष्ठ इस सीज़न में भी मजबूती के साथ अपनी लय में दिखे हैं। वकील माधव मिश्रा के किरदार में एक सच्चाई, समझदारी और संवेदना है, जिसे पंकज त्रिपाठी ने पूरी ईमानदारी के साथ निभाया है। वहीं, अनुप्रिया गोयनका ने भी अपने किरदार के साथ पूरा न्याय किया है। उनके हिस्से में निर्देशक ने कई अहम संवाद दिये हैं, जिसे प्रभावी ढंग से सामने लाने में वो सफल रही हैं। वहीं, जीशु सेनगुप्ता, आशीष विद्यार्थी, अद्रिजा सिन्हा, पंकज सारस्वत, अयाज़ खान, कल्याणी मुले, अजीत सिंह पालवत, खुशबू अत्रे जैसे कलाकारों ने कहानी को मजबूत बनाने में पूरा सहयोग दिया है। कहना गलत नहीं होगा कि 'क्रिमिनल जस्टिस' के किरदार इस सीरिज के एक मजबूत पक्ष हैं।

    कहानी मुख्य तौर पर अनु चंद्रा के इर्द गिर्द घूमती है, जिसे निभाया है कीर्ति कुल्हारी ने। अभिनेत्री पहले ही पिंक, मिशन मंगल, उरी, फोर मोर शॉट्स जैसे फिल्मों और सीरिज से अपने अभिनय का लोहा मनवा चुकी हैं। 'क्रिमिनल जस्टिस' में भी वह अपने किरदार में घुली हुई दिखती हैं। कम डायलॉग्स में भी कीर्ति अपने हावभाव से दर्शकों से जुड़ती चली जाती हैं।

    निर्देशन

    निर्देशन

    पहले सीजन की बड़ी सफलता के बाद निर्देशक के लिए यह एक बड़ी चुनौती थी कि दूसरा सीज़न भी उम्मीदों पर खरी उतरे। पहले सीजन का निर्देशन तिग्मांशु धूलिया और विशाल फुरिया ने किया था। वहीं, दूसरे सीजन की जिम्मेदारी उठाई रोहन सिप्पी और अर्जुन मुखर्जी ने। बता दें, 'क्रिमिनल जस्टिस: बिहाइंड क्लोज्ड डोर्स' अंत तक बांधे रखने में सफल रही है। खासकर सीरिज के कुछ संवाद प्रभावशाली हैं; जैसे कि 'ब्रेकिंग न्यूज के चक्कर में समाज को ब्रेक कर देंगे ये लोग' या 'कई बार विक्टिम खुद शोषण के खिलाफ या उस बारे में कुछ नहीं कहता, क्योंकि उसे पता ही होता कि वह विक्टिम है'। फिल्म के बेहतरीन लेखन के लिए अपूर्व असरानी की सराहना बनती है।

    तकनीकि पक्ष

    तकनीकि पक्ष

    बहरहाल, इस सीरिज की कहानी कहीं कहीं पर धीमी लगती है, खासकर जेल के दृश्य कई बार दोहराए से लगे हैं। वहीं, दीप्ती नवल, आशीष विद्यार्थी और मीता वशिष्ठ के किरदारों को और ज्यादा उभारा जा सकता था। तकनीकि पक्ष की बात करें तो सिनेमेटोग्राफर त्रिभुवन बाबू सादिनेनी ने कोर्ट रूम ड्रामा को पर्दे पर बेहतरीन उतारा है। वहीं, अभिजीत देशपांडे और सौरभ प्रभुदेसाई की एडिटिंद सराहनीय है, हालांकि इसकी लंबाई थोड़ी और कसी जा सकती थी। समीर फटेरपेकर का संगीत कहानी और किरदारों को और मजबूत बनाता है।

    क्या अच्छा क्या बुरा

    क्या अच्छा क्या बुरा

    इस सीरिज का सबसे मजबूत पक्ष है- संवाद और अभिनय। सीरिज सिर्फ एक मर्डर- मिस्ट्री ही नहीं, बल्कि महिलाओं से जुड़ी कुछ ऐसी बातें और मुद्दे उठाती है, जिस पर अभी भी फुसफुसाकर ही बात किया जाता है। बेडरूम की चाहरदीवारी से निकली यह कहानी आपको कुछ देर के लिए बेचैन कर सकती है, लेकिन यह अहम है। वहीं, एक पक्ष जो कहानी को थोड़ा कमजोर करती है, वह है सस्पेंस.. कहीं ना कहीं कहानी के अंत की झलक पहले ही मिल जाती है। ऐसे में संवाद और किरदार ही आपको अंत तक बांधे रखते हैं।

    देंखे या ना देंखे

    देंखे या ना देंखे

    इस साल हमने एक से बढ़कर वेब सीरिज देंखे हैं.. क्रिमिनल जस्टिस भी इस लिस्ट में शामिल हो सकती है। यह सीरिज हर एपिसोड में आपको एक ऐसे मोड़ पर छोड़ती है, जो आपको आगे की कहानी जानने के लिए उकसाएगी।यदि आप मर्डर मिस्ट्री देखना पसंद करते हैं तो क्रिमिनल जस्टिस: बिहाइंड क्लोज्ड डोर्स आपको निराश नहीं करेगी। फिल्मीबीट की ओर से सीरिज को 3.5 स्टार।

    English summary
    Criminal Justice Behind Closed Doors Review: This Disney+Hotstar VIP web series shows an important and pertinent topic with much stellar casts.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X