For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    बॉम्बे बेगम्स रिव्यू: पूजा भट्ट- अमृता सुभाष की दमदार अदाकारी, दिल जीतती है नेटफ्लिक्स की ये सीरिज

    |
    Rating:
    3.5/5

    निर्देशक- अलंकृता श्रीवास्तव, बोर्निला चैटर्जी

    स्टारकास्ट- पूजा भट्ट, शहाना गोस्वामी, अमृता सुभाष, प्लाबिता बोरठाकुर, आध्या आनंद

    प्लेटफॉर्म- नेटफ्लिक्स

    एपिसोड - 6 एपिसोड/हर एपिसोड की अवधि - 40 मिनट

    'अस्तित्व की लड़ाई, हर महिला की लड़ाई है' आंखों में एक थकान, और महत्वकांक्षा लिए रानी (पूजा भट्ट) आयशा (प्लाबिता बोरठाकुर) से कहती है। कॉरपोरेट की दुनिया से लेकर मुंबई के बार डांसर्स तक, जिंदगी के अलग अलग पड़ाव पर खड़ी 5 महिलाएं और उनके सपने, जिद, आकांक्षाएं, सफलता और निराशाओं की कहानी है बॉम्बे बेगम्स।

    पहले एपिसोड में, अलंकृता श्रीवास्तव ने शो को सरल और वास्तविक रखा है। कहानी तेजी के साथ आगे बढ़ती है और पांचों मुख्य किरदारों का परिचय देती है। रॉयल बैंक ऑफ बॉम्बे की सीईओ रानी (पूजा भट्ट), जो कानपुर में एक बैंक टेलर थीं और अब एक प्रमुख वित्तीय संस्थान की प्रमुख हैं। रानी की जिंदगी से ही जुड़ते हुए अन्य किरदार सामने आते जाते हैं- फातिमा (शाहाना गोस्वामी), आयशा (प्लाबिता बोरठाकुर), लिली (अमृता सुभाष) और शाई (आध्या आनंद)। यह सभी किरदार अलग अलग आयु और सामाजिक वर्ग के हैं, लेकिन सदियों से चली आ रही पितृसत्ता मानसिकता से जूझते हैं। हर महिला समाज की मानसिकता से लड़ रही है, चाहे वो आलीशान कॉरपोरेट ऑफिस में काम करती हो या किसी डांस बार में।

    कहानी

    कहानी

    एक रात रानी के(सौतेले) बेटे की कार से एक लड़के का एक्सीडेंट हो जाता है। वह लड़का लिली का बेटा है। लिली पेशे से बार डांसर और सेक्स वर्कर है, लेकिन अपने बेटे के लिए 'इज्जतभरी' जिंदगी और भविष्य चाहती है। वह रानी को इस घटना को लेकर ब्लैकमेल करती है। वहीं, फातिमा की कहानी महत्वकांक्षा और पारिवारिक जिम्मेदारी के बीच झूलती है। वह रानी के बैंक में ही एक उच्च अधिकारी है। फातिमा के काम से खुश होकर रानी उसे बैंक के डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर पद की पेशकश करती है। लेकिन वह अपने पति और होने वाले बच्चे की ओर जिम्मेदारी को लेकर बंधा महसूस करती है। चौथी कहानी है इंदौर से आई आयशा की, जो कि आंखों में सपने लिए मुंबई शहर में मौके की तलाश करती है। और उसे मौके देती है रानी।

    पांच अलग किरदार, अलग संघर्ष

    पांच अलग किरदार, अलग संघर्ष

    एक दृश्य में आयशा कहती है- "सोसाइटी हमारी बॉडी और च्वॉइस के आगे देख ही नहीं सकती है।" उसकी चेहरे पर निराशा, गुस्सा और महत्वकांक्षा तीनों दिखती है। अलंकृता श्रीवास्तव ने पांचों किरदार के साथ महिलाओं की जिंदगी के तमाम संघर्षों को सामने लाने की कोशिश की है। जब कहानी में एक तरफ एक सेक्स वर्कर कहती है "अपने को इज्जत मांगता है".. और दूसरी ओर कॉरपोरेट जगत में काम करने वाली महिला भी उसी "इज्जत" की मांग करती है.. तो आप परिस्थिति में ज्यादा अंतर नहीं पाते हैं।

    धीमी है पटकथा

    धीमी है पटकथा

    तकनीकि तौर पर बात करें तो सीरिज की कहानी आगे बढ़ते बढ़ते काफी धीमी हो जाती है। बोर्निला चैटर्जी और अंलकृता श्रीवास्तव ने 6 एपिसोड्स में महिलाओं से जुड़े कई बातें दिखाने की कोशिश की है, मी टू, मेनोपॉज, गर्भपात, लिव इन, सरोगेसी आदि। कुछ मुद्दे आपका ध्यान खींचते हैं, जबकि कुछ कहानी को दोहराते से लगते हैं। मजबूत शुरुआत के बाद बीच में जाकर पटकथा कुछ ढ़ीली होने लगती है। कई दृश्यों में शाई का वॉइसओवर ध्यान भटकाता है, लेकिन उसकी कहानी सीरिज के सबसे मजबूत हिस्सों में से है।

    अभिनय

    अभिनय

    अभिनय की बात करें तो पांचों नायिकाएं सीरिज का सबसे मजबूत पक्ष हैं। मजबूती, संवेदनशीलता, कमजोरी, दृढ़ता, बेबसी.. सभी भावों को दिखाने में ये सफल रही हैं। इनके किरदार परफेक्ट नहीं हैं, लेकिन आप इनसे नफरत नहीं कर पाएंगे। पूजा भट्ट, शहाना गोस्वामी, अमृता सुभाष, प्लाबिता बोरठाकुर, आध्या आनंद.. सभी ने अपने अपने किरदारों की बारिकियों को शानदार पकड़ा है। शो में मेल किरदारों को काफी कम मौका है। लेकिन विवेक गोम्बर, दानिश हुसैन, इमान शाह, राहुल बोस, प्रशांत सिंह सभी ने अपने किरदारों के साथ न्याय किया है। मनीष चौधरी प्रभावित करते हैं।

    देखें या ना देखें

    देखें या ना देखें

    नारीत्व के अलग अलग रंग और पाचों नायिकाओं के जबरदस्त अभिनय के लिए यह सीरिज देखी जा सकती है। "बॉम्बे बेगम्स" को फिल्मीबीट की ओर से 3.5 स्टार।

    English summary
    Bombay Begums Review: This Netflix series brings five women from different walks of life and what struggles they go through because of their gender.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X