For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    दि लंच बॉक्स एक बेनाम रिश्ता अनकहे अंत के साथ- फिल्म रिव्यू

    |

    (सोनिका मिश्रा) इरफान खान और निमृत कौर की फिल्म दि लंचबॉक्स को देखने के बाद आपको भी अनकहे रिश्तों और उनसे जुड़े अनकहे वादों पर यकीन हो जाएगा। अक्सर हम अपनी जिंदगी में कुछ लोगों से बिना मिले भी उन्हें अपनी जिंदगी में शामिल कर लेते हैं और उनसे एक अटूट रिश्ता जोड़ लेते हैं। ये रिश्ते ज्यादातर पूरे नहीं होते और इनसे जुड़े लोगों को एक ऐसे मोड़ पर छोड़ देते हैं जहां पर वो खुद को इतना बेबस पाते हैं कि आगे बढ़कर उस रिश्ते को बनाए भी नहीं रख पाते हैं। दि लंचबॉक्स एक ऐसी ही फिल्म है जिसके किरदारों से आपको प्यार हो जाएगा और आप भी खुद को कहीं ना कहीं इनसे जुड़ा हुआ पाएंगे क्योंकि ये कहानी कहीं ना कहीं हमारे आस पास के लोगों से ही जुडी है।

    दि लंचबॉक्स है एक दो ऐसे लोगों की कहानी जो कि एक दूसरे से कभी नहीं मिले लेकिन फिर भी एक दूसरे को पसंद करने लगे। जिन्हें एक दूसरे के बारे में कुछ भी नहीं पता और जो एक दूसरे का नाम तक नहीं जानते। कहते हैं कि आप रास्ता कोई भी चलो लेकिन आपकी मंजिल आपको ढ़ूंढ़ ही लेती है चाहे आप कितनी भी कोशिश करो भागने की लेकिन कदम वहीं रुकेंगे जहां आपकी किस्मत में लिखा होगा। कुछ ऐसा ही होता है दि लंचबॉक्स के हीरो मिस्टर साजन फर्नाडीज और इला की जिन्हें किस्मत डिब्बेवाले की एक गलती की वजह से एक दूसरे के करीब ले आती है।

    फिल्म में एक्टिगं की बात की जाए तो इरफान खान ने एक बार फिर से ये जता दिया है कि वो हर एक किरदार में जो जान और जो आत्मा डालते हैं वो कोई और नहीं कर सकता। इरफान खान की एक्टिंग हमेशा ही लोगों को उनके किरदार से बांध लेती है। निमृत कौर ने भी अपनी तरफ से बेहतरीन एक्टिंग की है और इंप्रेस किया है। नवाजुद्दीन ने अपने छोटे से किरदार के साथ पूरा न्याय किया है।

    साजन फर्नाडींज के पास इला का डिब्बा

    साजन फर्नाडींज के पास इला का डिब्बा

    साजन फर्नाडींज सरकारी ऑफिस में काम करते हैं। उनकी पत्नी का निधन हो चुका है और वो अपने ऑफिस में टिफिन सर्विस से खाना मंगवाते हैं। एक दिन गलती से डिब्बेवाला मिसेज इला के पति का डब्बा जो कि इला ने खुद बनाया था साजन को पहुचा देता है और साजन का डिब्बा इला के पति को।

    साजन इला की कुकिंग से इंप्रेस

    साजन इला की कुकिंग से इंप्रेस

    साजन इला की कुकिंग से काफी इंप्रेस होता है और पूरा खाना खा लेता है। इला को खाली डिब्बा देखकर लगता है कि उसके पति को खाना पसंद आया और उसने पूरा खाना खा लिया है। लेकन जब शाम को उसका पति घर आता है तो उससे ये जानकर कि उसके पास कोई और डिब्बा गया था इला को काफी दुख होता है।

    इला लिखती है चिट्टी

    इला लिखती है चिट्टी

    इला के घर के ऊपर एक आंटी रहती हैं और इला हर एक बात उनसे पूछती है। इला को आंटी कहती है कि वो एक चिट्टी लिखे और डिब्बे में लिखकर रखे कि ये खाना उसने अपने पति के लिए बनाया था ना कि जिसके पास गया उसके लिए।

    इला की चिट्ठी का जवाब

    इला की चिट्ठी का जवाब

    खाने के डिब्बे में चिट्टी पाकर साजन काफी हैरान होता है। चिट्ठी पढ़ने के बाद वो जवाब में लिखता है कि खाना बहुत स्वादिष्ट बना है और इसके बाद चिट्ठियों का सिलसिला शुरु होता है और फिर साजन और इला अपने बारे में एक दूसरे को सबकुछ बता देते हैं। दोनों के बीच एक अनकहा सा रिश्ता बन जाता है।

    इला और साजन का प्यार

    इला और साजन का प्यार

    इला जो कि अपने पति के साथ खुश नहीं है और इस रिश्ते को खत्म करके खुशी के साथ अपनी जिंदगी जीना चाहती है फैसला करती है कि वो साजन से मिलेगी और उसके साथ कहीं दूर चली जाएगी। लेकिन साजन किन्हीं अलग ख्यालों में और सोच में खुद को उलझा पाता है। इस प्रेम कहानी का क्या अंत होता है और क्या साजन और इला एक दूसरे से मिल पाएंगे कभी ये जानने के लिए देखिये लंचबॉक्स।

    English summary
    The Lunchbox movie story revolves around Illa (Nimrat Kaur) and Saajan fernandez (Irrfan Khan) who exchange letters through the Lunchbox. The Lunchbox is a drama based movie in which, the movie movie is set in Mumbai, revolves around a mistaken delivery in dabbawala of Mumbai.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X