For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Sanju Review: रणबीर कपूर की जानदार एक्टिंग, राजकुमार हिरानी का जादू, फिल्म ब्लॉकबस्टर

    |

    Rating:
    4.0/5
    Star Cast: रणबीर कपूर, दिया मिर्जा, विक्‍की कौशल, अनुष्का शर्मा, मनीषा कोइराला
    Director: राजकुमार हिरानी

    स्टार कास्ट: रणबीर कपूर, अनुष्का शर्मा, सोनम कपूर, दिया मिर्जा, मनीषा कोईराला

    निर्देशक: राजकुमार हिरानी

    संजू की शुरूआत होती है एक मजेदार सीन से जिसमें फिल्म का एक कैरेक्टर संजू बाबा के कहने पर उनका बायोग्राफी लेखने की कोशिश कर रहा है और संजू और बापू के बीच कोई कनेक्शन खोज रहा है। जाहिर है न तो संजय दत्त आसान हैं और न ही उनकी लाइफ.. तो जल्द ही इस कैरेक्टर को बाहर का रास्ता दिखा दिया जाता है। उसी वक्त राजकुमार हिरानी ये साफ कर देते हैं कि ये संजू कहानी किसी आम बायोपिक की तरह नहीं है। संजय दत्त को गांधीगीरी से जोड़कर भले ही देखा जाता हो लेकिन असलियत में मामला थाड़ा टेढ़ा है.. संजू बाबा के हिसाब से- "बोले तो अपना लाइफ फुल सांप सीढ़ी का बोर्ड है, कभी अप तो कभी डाउन!"

    Ranbir-Kapoor-Sanju-review-film-rating-plot

    फाइनल ऑडिएंस को संजय दत्त की जिंदगी में झांकने का मौका मिलता है राइटर विनी (अनुष्का शर्मा) के जरिए। राजकुमार हिरानी के नजरिए से संजू की कहानी देखते हुए हमे पता चलते है कि बेहतरीन फिल्ममेकर ने संजय दत्त की लारजर दैन लाइफ वाले व्यक्तित्व को ऑडिएंस को एक्सेप्ट करने पर मजबूर कर दिया है.. इस फिल्म को पिता और बेटे की कहानी बना कर।

    फिल्म के एक बड़े हिस्सा संजय दत्त की ड्रग्स की लत और उसे छोड़ने की जद्दोदहद में गुजरता है। हिरानी ऑडिएंस को ले जाते हैं फिल्म रॉकी के सेट पर जहां नए संजय दत्त (रणबीर कपूर) अपना पहला टेक देने के लिए काफी नर्वस हैं। इस दौरान उनके पिता सुनील दत्त (परेश रावल) बड़े ही मजेदार तरीके से संजू की मदद करते हैं। वो भी एक तस्वीर के जरिए जो शोले की हेमा मालिनी और गब्बर अमजद खान की है।

    हालांकि, जल्द ही संजू की जिंदगी में खतरनाक ट्विस्ट तब आता है जब उनकी जिंदगी में आया एक नकली दोस्त जुबिन मिस्त्री (जिम सार्भ) उन्हें ड्रग्स की लत लगवा देता है। जल्द ही उनकी गर्लफ्रेंड (सोनम कपूर) से भी उनके रिश्ते खराब हो जाते हैं और उन्हें पता चलता है कि उनकी मां नरगिस (मनीशा कोईराला) को कैंसर है और जल्द ही उनका निधन हो जाता है। वहीं एक बार फिर से संजू ड्रग्स में डूब जाते हैं।

    किस्मत से एक उम्मीद की किरण तब जगती है, जब उनकी जिंदगी में कमलेश (विक्की कौशल) दोस्त बनकर आते हैं। वो संजू को उनके पिता के साथ मिलकर ड्रग्स के जंजाल से निकालता है।

    लेकिन जिंदगी ज्यादा देर तक खुशियों में नहीं गुजरती। संजू एक बार खुद को मुसीबत में फंसा हुआ पाते हैं। जब उन्हें TADA और Arms Act केस में चार्ज किया जाता है। ये वही वक्त है जब ऑडिएंस एक पिता को बेटे के प्यार और उसूलों के बीच फंसा हुआ पाती है।

    इसी दौरान, हिरानी मीडिया पर गलत खबरें छापने और सच छुपाने का आरोप लगाते हैं। वहीं वे संजय दत्त पर मीडिया के जल्दबाजी में बनाए गए नजरिए पर भी सवाल करते हैं।वहीं दूसरी तरफ, जो इस फिल्म में संजय दत्त की जिंदगी में कई अफेयर्स और उनकी दूसरी परसनल बातों के बारे में जानने की उम्मीद लेकर संजू देखने जा रहे हैं, उन्हें हिरानी निराश करते हैं। हिरानी ने संजय दत्त की जिंदगी के कुछ पहलू छुए भी नहीं हैं।

    वहीं बात करें परफॉर्मेंस की तो संजू रणबीर कपूर की फिल्म है। फिल्म की शुरूआत से लेकर अंत तक आपको एक बार भी नहीं लगेगा कि आप संजय दत्त के अलावा किसी और को देख रहे हैं। वहीं संजय से रणबीर के मिलते-जुलते नैन नक्श भी उनकी काफी मदद करते हैं। रणबीर कपूर अपने शानदार अभिनय से स्क्रीन पर जान फूंक देते हैं। चाहे वो संजय दत्त के चलने का तरीका हो या बात करने का, रणबीर कपूर हर जगह शानदार लगे हैं। वहीं फिल्म के इमोशनल सीन्स में रणबीर कपूर को देखकर आप भी चौंक जाएंगे।

    परेश रावल तो स्क्रीन पर जादू ही कर देते हैं और रणबीर कपूर के साथ उनके सीन देखने लायक हैं। फिर चाहे वो इमोशनल सीन हो या मसखरे सीन। वहीं विक्की कौशल ने जबरदस्त परफॉर्मेंस से एक बार फिर सबको चौंका दिया है.. संजू में विक्की का वो अवतार नजर आ रहा है जो पहले कभी नहीं दिखा। रणबीर कपूर के साथ उनका ब्रोमैंस संजू के सबसे एंटरटेनिंग सीन्स में से एक है।

    मनीषा कोईराला अपने किरदार में शानदार लगी है। एक सीन जिसमें वे हॉलीवुड एक्ट्रेस की नकल रही है, वो सीन आपको हैरान कर देगा। अनुष्का शर्मा, सोनम कपूर और दिया मिर्जा भी अपने-अपने किरदारों में अच्छी लगी हैं। वहीं जिम सार्भ ने तारीफ के काबिल परफॉर्मेंस दी है। दूसरी तरफ करिश्मा तन्ना का कैमियो भी कमाल है।

    रवि वर्मा की सिनेमौटोग्राफी संजय दत्त की जिंदगीको खूबसूरती से दिखाती है। राजकुमार हिरानी और अभिजीत जोशी का लेखन जानदार और एंटरटेमेंट से भरपूर है।

    फिल्म के तीन गानों में 'कर हर मैदान फतेह' आपके दिल के तार छेड़ देगा।

    पूरी फिल्म की बात करें तो संजू आपको बताएगी कि संजय दत्त की जिंदगी गलतियों से बनी हुई है। राजकुमार हिरानी के शानदार निर्देशन और रणबीर कपूर की अच्छी परफॉर्मेंस ने इस फिल्म को बेहतरीन एंटरटेनिंग फिल्म बना दिया है। ये फिल्म ऑडिएंस के लिए अच्छा मैसेज छोड़ती है। हम संजू को पांच में से चार स्टार दे रहे हैं।

    English summary
    Sanju makes you realize that Sanjay Dutt's life is made of flaws. But it's Rajkumar Hirani's skillful direction and Ranbir Kapoor's fine performance which stitches it into a wholesome entertainer with good intentions.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X