»   » Review - जोश और जुनून से भरी दमदार फिल्म है पूर्णा

Review - जोश और जुनून से भरी दमदार फिल्म है पूर्णा

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi
Rating:
3.0/5

फिल्म - पूर्णा
स्टारकास्ट -राहुल बोस. अदिती इनामदार, धृतिमन चटर्जी
डायरेक्टर - राहुल बोस
प्रोड्यूसर - अमिल पाटनी, राहुल बोस
लेखक - प्रशांत पांडे, श्रेया देव वर्मन
शानदार पॉइंट - परफॉर्मेंस, कहानी
निगेटिव पॉइंट - फिल्म में थोड़ा और पूर्णा के संघर्ष पर फोकस किया जा सकता था कि कैसे और बर्फीले एवरेस्ट की चोटी तक पहुंचती है।

प्लॉट

प्लॉट

पूर्णा एक 13 साल की आदिवासी लड़की की कहानी है। पूर्णा मालावत की है जो तेलांगाना की रहने वाली है और माउंट एवरेस्ट पर 25 मई 2014 को चढ़ने वाली सबसे कम उम्र की लड़की है। पाकला गांव की पूर्णा (अदिति इनामदार) की अपनी कजिन बहन प्रिया (एस.मारिया) के साथ काफी अच्छी बॉन्डिंग है। दोनों साथ में अच्छी पढ़ाई और बेहतर खाने का सपना देखता है और भागकर सोशल वेलफेयर स्कूल में पढ़ना चाहते हैं। लेकिन इस प्लान के बारे में पूर्णा के चाचा को पता चल जाता है और वो प्रिया (पूर्णा की कजिन) का बाल विवाह कर देते हैं।

प्लॉट

प्लॉट

किसी तरह पूर्णा अपने पिता को सोशल वेलफेयर स्कूल में पढ़ने देने के लिए मना लेती है। जल्दी ही वहां उसकी मुलाकात डॉ. आर एस प्रवीण कुमार (राहुल बोस) से होती है और पूर्णा को एहसास होता है कि उसकी लाइफ कुछ और है और वो अपने अंतर्मन की आवाज सुनती है।

 डायरेक्शन

डायरेक्शन

पूर्णा सिर्फ एक फिल्म नहीं है। ये समाज की सच्चाई दिखाती है और साथ ही दिखाती है कि विश्वास और इच्छाशक्ति हो तो कुछ भी नामुमकिन नहीं है। फिल्म में बाल विवाह, भ्रष्टाचार, ,सामाजिक भेदभाव दिखाया गया है।राहुल बोस की तारीफ करनी होगी कि उन्होंने एक सच्ची कहानी चुनी है जिसके बारे में बहुत लोग नहीं जानते हैं।राहुल बोस ने इसे बखूबी उतारा है लेकिन फिल्म में पूर्णा को कई जगहों पर तेलुगु को हिंदी में इंटरप्रेट करते दिखाया गया है जो थोड़ा डिस्टर्ब करती है। फिल्म में पूर्णा की निजी जिंदगी पर ज्यादा फोकस किया गया है। माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने में क्या क्या परेशानियां आई इसकी कहानी को और भी दिखाया जा सकता है। पूर्णा फिल्म के लिए सबसे अच्ची बात इसकी परफॉर्मेंस और प्लॉट है।

परफॉर्मेंस

परफॉर्मेंस

अदिति इनामदार और एस मारिया दोनों ही बहुत अच्छे लगे हैं और एक्टिंग से भी इंप्रेस करने में कामयाब रहे हैं। आप कई जगह पर इमोशनल भी होंगे। राहुल बोस ने भी शानदार परफॉर्मेंस दिया है और लड़कियों को फिल्म में खुद से आगे रखा है। फिल्म के बाकी कास्ट ने भी अच्छा काम किया है।

तकनीकी पक्ष

तकनीकी पक्ष

पूर्णा को बहुत साधारण और बेहतरीन तरीके से दिखाया गया है जो फिल्म के लिए सही भी है। शुभ्रांशु ने गांव के सीन, लोकेशन, बर्फीले पहाड़ को बखूबी दिखाया है तो मनन मेहता की एडिटिंग भी
कमाल की है।

म्युजिक

म्युजिक

सलीम-सुलेमान की म्युजिक फिल्म के हिसाब बिल्कुल सटीक बैठता है।पूरी कायनात और कुछ पर्वत हिलाएं फिल्म अच्छे

Verdict

Verdict

पूर्णा काफी अच्छी फिल्म है। ये उस खाने जैसा है जो आपका दिन बना देता है खासकर जब आप अच्छा नहीं महसूस कर रहे होते हैं।अगर कोई साधारण लोगों की असाधारण कहानी देखना चाहते हैं तो फिल्म जरुर देखिए।

English summary
Poorna movie Directed by Rahul Bose, featuring Rahul Bose and Aditi Inamdar .
Please Wait while comments are loading...