»   » Judwaa2 Review..फिल्म जुड़वा के टक्कर की नहीं लेकिन वरुण धवन ने जीत लिया दिल

Judwaa2 Review..फिल्म जुड़वा के टक्कर की नहीं लेकिन वरुण धवन ने जीत लिया दिल

By: Madhuri
Subscribe to Filmibeat Hindi
Rating:
3.0/5

कास्ट: वरुण धवन, जैकलीन फर्नांडिस, तापसी पन्नू

डायरेक्टर: डेविड धवन

प्रोड्यूसर: साजिद नाडियावाला

लेखक: साजिद-फरहाद (डायलोग), युनुस सेजवाल (स्क्रीनप्ले)

क्या है खास: वरुण धवन

क्या है खराब: जुड़वा 2 म्यूजिक के मामले में कमजोर है और कई जगहों पर कॉमेडी भी ठूंसी हुई लगती है। फिल्म का क्लाइमैक्स भी निराश करने वाला है।

आइकॉनिक मोमेंट: सीन जहां राजा एक शख्स को पीटता है और अपने दोस्तों गेल , पोलार्ड, ब्रावो को बुलाता है। वो अचानक आते हैं और DJ ब्रावो का गाना चैंपियन, चैंपियन गाने लगते हैं और साथ ही राजा के साथ मैचिंग स्टेप भी करते हैं।

प्लॉट

प्लॉट

जुड़वा 2 की शुरुआत एक कपल से होती है जो पहली बार पैरेंट्स बनने वाले हैं। जल्द ही मां लेबर में होती है और पिता हॉस्पिटल के लिए रास्ते में होता है। जब वो दो जुड़वा बच्चों को जन्म देती है और डॉक्टर बताता है कि बच्चों में रिफ्लेक्स एक है जो कि हॉस्पिटल के अलग करने से पहले खुला हुआ था।हालांकि ये खुशी ज्यादा देर तक नहीं चलती है और स्मगलर किंगपिन चार्ल्स (जाकिर हुसैन) जो बच्चों के पिता से एयरपोर्ट पर मिला था और उसे फॉलो करते करते अस्पताल तक पहुंच जाता है।काफी लड़ाई के बाद वो एक न्यू बोर्न बेबी को लेकर चला जाता है। वो पकड़ा भी जाता है लेकिन वो झूठ बोलता है कि उसने बेबी को मार दिया है

प्लॉट

प्लॉट

जल्द ही कपल अपने बेटे प्रेम (वरुण धवन) के साथ लंदन शिफ्ट हो जाते हैं।उन्हें नहीं पता होता कि उनके दूसरे बेटे राजा को एक मछली मारने वाले ने गोद लिया है। साल बीतते जाते हैं दोनों बड़े होते हैं। प्रेम काफी सीधा है जिसे कॉलेज में सब चिढ़ाते हैं तो वहीं राजा एक स्ट्रीट-स्मार्ट लड़का है। आगे फिल्म में दिखाता है कि कैसे पहचान की गलती में कन्फ्यूजन बढ़ता है और फिर क्या क्या होताहै।

डायरेक्शन

डायरेक्शन

सलमान खान स्टारर जुड़वा 1997 में रिलीज हुई थी और 20 साल बाद डेविड धवन ने उसी फिल्म को अपने बेटे वरुण धवन के साथ बनाया ।फिल्म में काफी कुछ एक जैसा है औऱ कई सीन भी बिल्कुल ऑरिजनल जुड़वा की रखी गई है। जुड़वा 2 कई जगहों पर उदास करती है लेकिन इसमें 90s का सारा मसाला है। हिरोइन, प्रॉप्स, साइड किक , लॉजिक जो आज के समय में काफी अपमानजनक भी लग सकती है।

आप में से कइयोंको लग सकता है कि पिंक जैसी फिल्म के समय में ये काफी Sexiest फिल्म है जिसमें हीरो हिरोइन का पीछा करता है, उसके Bum पर मारकर ‘चलती है क्या?' कहता है फिल्म के निगेटिव पार्ट की बात करें तो फिल्म का स्क्रीनप्ले काफी कमजोर है और कॉमेडी भी कई जगहों पर ठूंसी हुई लगती है। काश मेकर्स सपोर्टिंग कास्ट के रोल को लिखने पर भी ध्यान दिए हे। ये जुड़वा जितने यादगार नहीं हैं।

परफॉर्मेंस

परफॉर्मेंस

वरुण धवन को सलमान खान की फिल्म करनी थी जिसमें उनसे तुलना स्वभाविक थी लेकिन उन्होंने इसे बखुबी किया है। हां सलमान ही असल में ‘जुड़वा मैन' रहेंगे लेकिन आप इस बात से इंकार नहीं कर सकते कि वरुण धवन अपना चार्म फिल्म में लेकर आते हैं और अपने स्टाइल में फिल्म को काफी मजेदार बना देते हैं। चाहे राउडी राजा हो या क्यूट प्रेम दोनों ही किरदार में उन्होंने अपनी छाप छोड़ी है और कई अच्छे पल भी दिए हैं। जैकलीन फर्नांडिस और तापसी पन्नू फिल्म में सिर्फ शो पीस हैं। इस बार राजपाल यादव ने शक्ति कपूर के नंदू की जगह बखूबी ली है। उन्होंने अच्छा काम किया है लेकिन आप शक्ति कपूर को मिस करेंगे। फिल्म के बाकी कास्ट पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया गया है और फिल्म पर पूरा फोकस वरुण धवन पर रखा गया है।

तकनीकी पक्ष

तकनीकी पक्ष

जुड़वा 2 विजुअली काफी अच्छी है।अयानंका बोस की सिनेमेटोग्राफी फिल्म में स्टाइल वैल्यू लाती है और फिल्म की एडिटिंग भी अच्छी है।

म्यूजिक

म्यूजिक

जुड़वा 2 की म्यूजिक उम्मीद के मुताबिक मजेदार नहीं है जो ऑरिजनल जुड़वा की USP थी। आज भी आप जुड़वा गानों को सुनते ही थिरक उठते हैं। दुख की बात है कि वो बात इस फिल्म में नहीं हा। टन टना टन और ऊंची है बिल्डिग में भी वो एक्सट्रा फैक्टर नहीं है।बाकी दोनों गाने शायद ही आपको याद रहें।

वर्डिक्ट

वर्डिक्ट

कुछ दिनों पहले वरुण धवन ने कहा था कि "मैं उम्मीद करता हूं कि मैं लोगों को हंसा सकूं और वो इंज्वॉय कर सकें।हमें खुद पर हंसने आना चाहिए और मैं लोग तुकना करेंगे और क्या राय देंगे इससे डरा नहीं हूं।"
कहना पड़ेगा कि वरुण धवन ने जो कहा था उसे कर दिखाया है। जाहिर सी बात है कि इसमें सलमान वाली बात नहीं है लेकिन ये नई फिल्म लोगों को खुश करेगी उनके लिए नही है जो कुछ बहुत अधिक मजेदार फिल्म की उम्मीद कर रहे हैं।

English summary
Judwaa 2 movie review story plot and rating.
Please Wait while comments are loading...