»   » फितूर फिल्म रिव्यू: 3 स्टार...हसीन, खूबसूरत पर खुदगर्ज़ इश्क

फितूर फिल्म रिव्यू: 3 स्टार...हसीन, खूबसूरत पर खुदगर्ज़ इश्क

Posted By:
Subscribe to Filmibeat Hindi
Rating:
3.0/5

आदित्य रॉय कपूर और कैटरीना कैफ स्टारर अभिषेक कपूर की फितूर रिलीज़ हो चुकी है और फिल्म के बारे में हमें आपसे वाकई काफी बातें करनी हैं। 

फितूर एक अच्छी कोशिश है जो कमज़ोर कास्टिंग पर आकर ठहर जाती है। लेकिन डायरेक्टर अभिषेक कपूर अपनी इस गलती को बहुत ही खूबसूरती से दो चीज़ों से ढंक लेते हैं - बेहतरीन फ्रेम और उम्दा म्यूज़िक। फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर बेहतरीन है।

फितूर एक प्रेम कहानी है और आपको इस फिल्म को देखकर प्यार हो जाएगा....कश्मीर से। अभिषेक कपूर कश्मीर के प्यार में इतना खो चुके थे कि उन्हें और कुछ याद ही नहीं रहा।


हालांकि आदित्य रॉय कपूर ने अपने कैरेक्टर नूर पर काफी मेहनत की है पर फिल्म का पूरा फोकस है कैटरीना कैफ का किरदार फिरदौस। और यही है फिल्म की सबसे बड़ी कमी।


हमारे साथ जानिए फितूर का पूरा हाल और फिर तय करिए कि फिल्म देखें या नहीं - 


कहानी

कहानी

फितूर नूर के जुनूनी इश्क और बेगम के गुमानी इश्क की कहानी है। और इन दोनों के इश्क में फंसा है फिरदौस का इश्क...जो कभी है, कभी नहीं है। वो घुटती है पर बेज़ुबान है। बेगम के हाथों। क्योंकि उसका दिल कैद है अपनी मां, बेगम के पास।


किरदार

किरदार

कैटरीना कैफ फिरदौर के किरदार में हैं जबकि आदित्य रॉय कपूर नूर नाम पेंटर बने हैं। फिल्म में तबू बेगम हज़रत के किरदार में हैं जो अपने ज़िंदगी की गलतियों को सबकी ज़िंदगी का सबब बना लेती है।


अभिनय

अभिनय

फिल्म में तबू का किरदार आपको हैदर की याद दिलाकर ही रहेगा। आप जितनी भी कोशिश कर लीजिए उसे ना याद करने की। वहीं आदित्य रॉय कपूर नूर के किरदार में अच्छे लगे हैं। पर फिल्म फिरदौस की थी और कैट उम्मीदों पर खरी नहीं उतरतीं


निर्देशन

निर्देशन

अभिषेक कपूर ने काई पो छे जैसी फिल्म का निर्देशन किया है और इस फिल्म से भी लोगों ने काफी उम्मीदें की जा रही थीं। पर वो कश्मीर और प्यार में खोकर रह गए और दोनों ही उभर कर नहीं आ पाए। हालांकि फिल्म का हर सीन आपको बांधेगा पर उसमें फिल्म की कहानी का हाथ नहीं


तकनीकी पक्ष

तकनीकी पक्ष

फिल्म के डीओपी अनय गोस्वामी की जितनी तारीफ की जाए वो कम है। फितूर एक मज़बूत तकनीकी फिल्म है। हर फ्रेम इतना खूबसूरत है कि आप कुछ भी छोड़ना नहीं चाहेंगे।


 संगीत

संगीत

फिल्म के संगीत में ठहराव है और क्लास भी। अमित त्रिवेदी इसके लिए बधाई के पात्र हैं। उतना ही दमदार है फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर। हालांकि ये दोनों ही बातें एक सीमित दर्शक वर्ग को लुभाएंगी।


अच्छी बातें

अच्छी बातें

फिल्म बेहद खूबसूरती से बनाई गई। बिल्कुल किसी नायाब पेंटिंग की तरह। पर शायद यही फिल्म की कमी है क्योंकि तस्वीरें बेज़ुबान भी होती हैं और बेजान भी। फितूर तभी तक अच्छी लगती है जब तक बात करने की कोशिश ना करे।


कमज़ोर बातें

कमज़ोर बातें

फिल्म की कास्टिंग फिल्म को कमज़ोर बनाती है। फिल्म मशहूर अंग्रेज़ी साहित्यकार चार्ल्स डिकन्स की द ग्रेट एक्सपेक्टेशन्स पर बनी है पर फिल्म उम्मीदों पर खरी नहीं उतरती क्योंकि एक अंग्रेज़ी कहानी को हिंदी बनाने में फिल्म बुरी तरह बिखर जाती है।


हमारी रेटिंग

हमारी रेटिंग

फिल्म को हमारी तरफ से 3 स्टार। अजय देवगन के धमाकेदार कैमियो के लिए तो ये फिल्म मस्ट वॉच है। वहीं फिल्म इसकी खूबसूरती के लिए ज़रूर देखें।


English summary
Fitoor film review in hindi - The film stars Katrina Kaif, Tabu and Aditya Roy Kapoor in Abhishek Kapoor's Romantic drama.
Please Wait while comments are loading...