For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Bombairiya Movie Review: रूखी कहानी और ढ़ीले-ढ़ाले किरदार, फिल्म सिर्फ सपने ही दिखाती है

    |

    Rating:
    2.0/5
    Star Cast: राधिका आप्‍टे, सिद्धांत कपूर, अक्षय ओबरॉय, शिल्पा शुक्ला, आदिल हुसैन
    Director: पिया सुकन्या

    Bombairiya Movie Review : Radhika Apte| Siddhanth Kapoor| Pia Sukanya | FilmiBeat

    बॉम्बेरिया के एक सीन में मेघना (राधिका आप्टे) अभिषेक (अक्षय ओबेरॉय) से पूछती है कि क्या वो खुद को कैप्टन अमेरिका समझता है जो शहर को बचाने निकला है। खैर! एक समय के बाद फिल्म देखने और समझने कि लिए ऑडिएंस को सुपरहीरो बनना ही पड़ेगा।

    bombairiya-movie-review-and-rating-radhika-apte

    बॉम्बेरिया की शुरूआत एक उलझी हुई पहेली जैसे नैरेशन से होती है। जहां झोपड़ी में छुपे एक बूढ़े आदमी की गोली मारकर हत्या कर दी जाती है। फिर हमें मिलाया जाता है मेघना (राधिका आप्टे) से जिसका सेलफोन एक बाइकर (सिद्धार्थ कपूर) ने चुरा लिया है। मेघना अभिषेक (अक्षय ओबेरॉय) को सड़क के बीच उससे मारपीट करने से रोकती है।

    जल्द ही पता चलता है कि मेघना एक हॉटशॉट अभिनेता करन कपूर (रवि किशन) की पीआर एजेंट हैं। जो फिल्म सिटी में हंस शेप के पैडल बोट में बैठकर विस्की पी रहा है।

    bombairiya-movie-review-and-rating-radhika-apte

    इस अराजकता के बीच, एक राजनीतिक नेता (आदिल हुसैन) जेल में बंद है जो किसी 'पैकेज' के पीछे पड़ा है। फिल्म का बाकी प्लॉट सिर्फ इसी के कारण हुई कॉमेडी के इर्द-गिर्द घूमता है, जो कि मेकर्स के लिए क्लाइमैक्स से ज्यादा अहम मालूम होता है।

    डायरेक्टर पिया सुकन्या ने एक ही कहानी में न जाने कितने फ्लेवर डालने की कोशिश की है लेकिन शायद यही कारण है कि फिल्म बेमजा हो गई। फिल्म का नैरेटिव काफी कंफ्यूज कर देने वाला है। कुछ ही देर में फिल्म का सस्पेंस बाहर आ जाता है और कहानी पकाऊ हो जाती है। इस डार्क कॉमेडी में कैटरेक्टर्स को थोड़ा सच्चाई से जोड़कर दिखाते तो शायद ऑडिएंस कनेक्ट भी कर पाती।

    bombairiya-movie-review-and-rating-radhika-apte

    कैरेक्टर्स की बात करें तो राधिका आप्ट कई जगह पर शानदार लगी हैं जो काफी कम ही हैं। शायद मेघना का किरदार ठीक तरीके से गढ़ने में कमी रखी गई है। अक्षय ओबेरॉय भी एक स्वीट लड़के के किरदार में ठीक नहीं लग पाए हैं। डिलिवरी बॉय के किरदार में सिद्धार्थ कपूर का ठीक-ठाक ही लगे हैं। आदिल हुसैन कहानी में कुछ गंभीरता जोड़ने की कोशिश करते हैं लेकिन कुछ हिस्सों में ही सफल होते हैं।

    English summary
    In a nutshell, Bombay may be your 'jaan' but Pia Sukanya's Bombairiya falters when it comes to giving this city its heartbeat in her story. I am going with 2.5 stars.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X