»   » इसे कहते हैं सुपरस्टार की वापसी..Must Watch..रोंगटे खड़े कर देगी...

इसे कहते हैं सुपरस्टार की वापसी..Must Watch..रोंगटे खड़े कर देगी...

Posted By: PRACHI DIXIT
Subscribe to Filmibeat Hindi

रवीना टंडन ने मातृ से दमदार वापसी की है। रेप और महिला शोषण से जुड़ी हुई यह फिल्म महिलाओं के प्रति समाज की सोच को एक अलग दिशा में ले जाती है। सिस्टम के खिलाफ जाकर खुद के इंसाफ की कहानी मातृ में बखूबी बुनी गई है। 

रियलिस्टिक सिनेमा ने हिंदी सिनेमा को हमेशा से एक नहीं दिशा दी है। मसाला फिल्मों से अलग होकर मातृ,पिंक और अनारकली आॅफ आरा जैसी फिल्में हिंदी सिनेमा की सोच को एक मजबूत ढांचे में डालती है। 

पिंक में  महिलाओं के समर्थन में उठी आवाजा को मातृ एक लेवल ऊपर लेकर जाएगी। पिंक में जहां कोर्ट रूम ड्रामा दिखा। वहीं मातृ समाज की हकीकत से पर्दा उठाएगी। अपने टाइटल की तरह यह फिल्म भी मां शब्द के अर्थ को सार्थक करती हुई नजर आ रही है।

Raveena Tandon

रवीना टंडन की परफार्मेंस आपको सोचने पर मजबूर कर देगी। हिंदी सिनेमा में ऐसी बहुत कम फिल्में होती हैं जो कि सिनेमाहॅाल से बाहर निकलने के बाद भी फिल्म से जुड़ी कहानी और किरदार आपके जहन में हमेशा ताजा रहते हैं।

मातृ उन्हीं में से एक है। मातृ में एक नहीं कई खूबी है। आइए जानते हैं कि आखिर क्यों इस साल की मस्ट वॅाच फिल्मों में से एक है। यहां देखें पूरी रिपोर्ट

इसे कहते हैं दमदार वापसी

इसे कहते हैं दमदार वापसी

रवीना टंडन लंबे समय बाद मातृ द मदर जैसे संवेदनशील कहानी से वापसी कर रही हैं। इस फिल्म के पोस्टर ने इस फिल्म के प्रति जिज्ञासा पहले ही बढ़ा दी है। वहीं इस फिल्म के ट्रेलर में यह साफ दिखाया गया है कि रेप के बाद समाज के बाद कैसे एक महिला कई बार समाज की सोच और रिश्तों का रेप झेलती है।

वापसी हो तो ऐसी

वापसी हो तो ऐसी

बॅालीवुड में दोबारा पैर जमाने के लिए यह उनके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। महिला हिंसा पर आधारित फिल्में हमेशा से ही दर्शकों के लिए प्रमुख रही हैं।

पिंक से कनेक्शन

पिंक से कनेक्शन

पिंक में जहां महिलाओं के खिलाफ कई मुद्दों पर उठने वाली आवाज को NO का करारा जवाब मिला। वहीं मातृ पिंक के NO का सही अर्थ समझाते हुए नजर आएगी।

पिंक जैसा नतीजा मुमकिन

पिंक जैसा नतीजा मुमकिन

अमिताभ बच्चन स्टारर पिंक भी महिलाओं के खिलाफ होने वाली हिंसा पर केंद्रीत थी। इस फिल्म को बॅाक्स आॅफिस पर सफलता मिली।दूसरी तरफ यह फिल्म दर्शकों के लिए साल 2016 की सबसे यादगार फिल्म बन गई। मातृ को भी रिलीज के बाद ठीक ऐसा माहौल मिल सकता है।

परफॉरमेंस

परफॉरमेंस

इस फिल्म की सबसे बड़ी यूएसपी रवीना टंडन कीपरफॉरमेंस है। एक आम से आग बनती महिला को उन्होंने बखूबी पेश किया है।

नूर Vs मातृ

नूर Vs मातृ

नूर के ट्रेलर और मातृ के ट्रेलर पर गौर किया जाए तो रवीना टंडन बॅाक्स आॅफिस पर बाजी जीत जाती हैं। मातृ का ट्रेलर अधिक प्रभावशाली है।वहीं फिल्म हिट साबित होगी जिसकी स्क्रिप्ट दर्शकों को दिल में जगह बनाने में कामयाब होगी।

दर्शकों की नजर से

दर्शकों की नजर से

दर्शकों के लिए इस फिल्म में एक सोच है जो उस रेप पीड़ित महिला के उस पहलू को दिखाता है जिससे अक्सर हम अनजान रहते हैं। थ्रिलर और एक्शन के साथ एक दमदार कहानी बहुत कम देखने को मिलती है।

    English summary
    Raveena Tandon Maatr film is must watch in 2017.Book your date right now..Here read full story

    रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more