»   » #Verdict: बुझ गई ट्यूबलाइट को 1 स्टार तो कोई कह रहा ज़ीरो!

#Verdict: बुझ गई ट्यूबलाइट को 1 स्टार तो कोई कह रहा ज़ीरो!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

सलमान खान स्टारर ट्यूबलाइट रिलीज़ हो चुकी है। फिल्म के बारे में फैन्स और क्रिटिक्स एक बार फिर अलग अलग बंट चुके हैं। एक बार फिर सलमान खान ने क्रिटिक्स को खूब बोलने का मौका दे दिया है। 

दरअसल, पिछली बार, बजरंगी भाईजान से सलमान खान ने सबको ऐसा चौंका दिया कि हर कोई हैरान रह गया। बजरंगी भाईजान के बारे में हर कोई कयास लगा रहा था कि फिल्म एक और सलमान खान मसाला निकलेगी।

tubelight-does-not-gets-thumbs-up-from-critics

लेकिन जब बजरंगी भाईजान रिलीज़ हुई तो सबका मुंह खुला का खुला रह गया। किसी को यकीन ही नहीं हुआ कि सलमान खान ऐसी फिल्म भी कर सकते हैं। लेकिन ट्यूबलाइट में एक बार फिर वो पुराने वाले सलमान खान आ गए हैं।

जो फिल्म में कुछ करते नहीं है, लेकिन फिर भी फिल्म सुपरहिट हो जाती है। वहीं क्रिटिक्स ने एक के बाद एक, सलमान की फिल्म को धोना शुरू कर दिया है।

किसी ने एक स्टार तो किसी ने 1.5 स्टार दिया है। जानिए क्रिटिक्स ने सलमान की फिल्म के बारे में क्या क्या कहा -

जागरण - 3 स्टार

जागरण - 3 स्टार

अजय ब्रह्मात्मज लिखते हैं कि यह फिल्‍म पूर्वार्द्ध में थोड़ी शिथिल पड़ी है। निर्देशक लक्ष्‍मण को दर्शकों से परिचित करवाने में अधिक समय लेते हैं। 51 साल के सलमान खान और उनसे कुछ छोटे सोहेल खान अपनी उम्र को धत्‍ता देकर 25-27 साल के युवकों की भूमिका में जंचने की कोशिश करते हैं, लेकिन उनकी कद-काठी धोखा देती है। ‘ट्यूबलाइट' के सहयोगी किरदारों में आए ओम पुरी, मोहम्‍मद जीशान अय्यूब, यशपाल शर्मा, जू जू और माटिन रे टंगू फिल्‍म की जमीन ठोस की है।

प्रभात खबर - 2.5 स्टार

प्रभात खबर - 2.5 स्टार

उर्मिला कोरी लिखती हैं कि एक एक्टर के तौर पर उन्होंने कुछ अलग करने का साहस किया है लेकिन फिल्म की स्क्रिप्ट इस हौंसले को कमज़ोर कर जाती है।फ़िल्म की कहानी पूरी तरह से इमोशनल है। फ़िल्म में हर दूसरे सीन में इमोशन है लेकिन वह आपको जोड़ नहीं पाता है। यही फ़िल्म की खामी है।

आज तक - 2.5 स्टार

आज तक - 2.5 स्टार

आरजे आलोक लिखते हैं कि फिल्म के इंटरवल से पहले और इंटरवल के बाद कहानी अलग-अलग दिशाओं में जाती रहती है जहां एक तरफ सलमान की सोच इंटरवल से पहले एक मासूम से छोटे बच्चे की तरह होती है जिसकी वजह से उन्हें ट्यूबलाइट कहा जाता है वही कहानी के दूसरे हिस्से में उस सोच में बदलाव आता है।

नवभारत टाइम्स - 3 स्टार

नवभारत टाइम्स - 3 स्टार

मीना अइय्यर लिखती हैं कि, सबसे पहली बात जो सलमान के फैन्स को जान लेनी चाहिए वह है, कि 'ट्यूबलाइट' सलमान खान की और मास एंटरटेनर फिल्मों से बहुत अलग है। यहां आपका फेवरिट स्टार एक ऐसे आदमी का रोल निभाता मिलेगा जिसका दिमाग बच्चों जैसा है। यहां न तो वह अपनी शर्ट उतारेगा और ना ही मसल्स दिखाएगा। इसलिए अगर यह सब देखने की उम्मीद में फिल्म देखने जा रहे हैं, तो रुक जाएं। बल्कि, सलमान पर विश्वास रखकर फिल्म देखने जाएं कि वह आपको बोर नहीं होने देंगे।

एनडीटीवी - 1 स्टार

एनडीटीवी - 1 स्टार

एनडीटीवी क्रिटिक राजा सेन ने लिखा है कि सलमान की फिल्म इतनी गंदी है कि फिल्म इतनी खराब है कि ओमपुरी की आत्मा को भी शांति मिल रही होगी। ये सब रिएक्शन देखने को नहीं मिल रहा है। ऊपर से सलमान इतना इरिटेट करते हैं कि आप फिल्म में सोहेल को देखने का इंतज़ार करेंगे।

 इंडियन एक्सप्रेस - 1.5 स्टार

इंडियन एक्सप्रेस - 1.5 स्टार

शुभ्रा गुप्ता लिखती हैं कि सलमान की फिल्म में एक ही मेसेज है - प्यार सबका दिल जीत लेता है। ये मेसेज तो अच्छा है लेकिन मेसेज देने वाला अच्छा नहीं है। फिल्म की सपोर्टिंग कास्ट मातिन रे टंगू, फिल्म में बड़े की जगह पूरी करने वाले - ओम पुरी, और दिमाग से गरम मोहम्मद ज़ीशान अय्यूब फिल्म की खूबसूरती बढ़ाते हैं।

डेक्कन क्रॉनिकल - 1 स्टार

डेक्कन क्रॉनिकल - 1 स्टार

रोहित भटनागर लिखते हैं कि एक था टाईगर और बजरंगी भाईजान में प्लॉट था लेकिन ट्यूबलाइट कहानी से कोसों कोसों दूर है। सलमान खान की पॉपुलैरिटी उनको हर साल ईद पर बचाती है। लेकिन इस साल ट्यूबलाइट को केवल भगवान बचा सकता है। फिल्म असली फिल्म के करीब तक नहीं है। जबकि असली फिल्म खुद फ्लॉप थी।

पिंकविला - 50 प्रतिशत

पिंकविला - 50 प्रतिशत

पिंकविला के मुताबिक ट्यूबलाइट इतनी ढीली फिल्म है कि आपको इरिटेट कर के रख देगी। हर डायरेक्टर का एक बुरा दिन आता है, और कबीर खान के लिए ये वही दिन है।

फिल्मफेयर - 3 स्टार

फिल्मफेयर - 3 स्टार

रचित गुप्ता लिखते हैं कि ट्यूबलाइट आपको यकीन दिलाने की कोशिश करती है लेकिन आपको यकीन होगा नहीं। फिल्म की सारी थीम फिल्म के लिए कुछ अच्छा नहीं कर पाती है। और कबीर खान निराश करते हैं।

बॉलीवुड लाइफ - 3.5 स्टार

बॉलीवुड लाइफ - 3.5 स्टार

तुषार पी जोशी लिखते हैं कि सलमान खान अपने करियर की बेस्ट परफॉर्मेंस से आपको चौंका देंगे। ट्यूबलाइट बेहतरीन रंगों से पास होती है और आपको फिल्म इमोशनल कर देगी।

English summary
Tubelight does not gets a thumbs up from critics
Please Wait while comments are loading...

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi