»   » अब मैं चीनी फ़िल्म भी कर सकती हूँ: काजोल
BBC Hindi

अब मैं चीनी फ़िल्म भी कर सकती हूँ: काजोल

By: सुप्रिया सोगले - मुंबई से बीबीसी हिंदी के लिए
Subscribe to Filmibeat Hindi

'दिलवाले दुल्हनियाँ ले जायेंगे','बाज़ीगर', 'कुछ-कुछ होता है' जैसी मशहूर फ़िल्मों का हिस्सा रह चुकी मशहूर अभिनेत्री काजोल का कहना है कि उन्होंने अपने बच्चों के लिए फ़िल्मी करियर का बलिदान नहीं दिया है.

90 के दशक में जब काजोल का करियर सबसे उभार पर था तब उन्होंने अभिनेता अजय देवगन से शादी कर ली और उसके बाद चुनिंदा फ़िल्में करने का फ़ैसला किया.

किसने काजोल से झूठ बोला?

श्रीदेवी: हिंदी फिल्मों की कम बैक क्वीन?

बीबीसी से रूबरू हुई काजोल ने इससे इनकार किया कि उनके बच्चों की ज़िम्मेदारी उनके फ़िल्मी करियर के आड़े आई.

काजोल कहती हैं, "मैंने अपने बच्चों के लिए कोई क़ुर्बानी नहीं दी. मैंने बच्चे पैदा किए क्योंकि मैं उनकी ज़िम्मेदारी लेना चाहती थी. ये क़ुर्बानी नहीं है. वो मेरे बच्चे हैं और उन्हें मैं मरते दम तक प्यार करूंगी. मेरा परिवार और बच्चे मेरी प्राथमिकता और ज़िन्दगी हैं. मेरा फ़िल्मी काम मेरी ज़िन्दगी का सिर्फ़ एक हिस्सा है."

'बच्चों पर दबाव नहीं'

बॉलीवुड के दूसरे अभिनेता-अभिनेत्रियों के बच्चे मीडिया की नज़रों में अक्सर दिखाई देते हैं तो क्या काजोल ने बेटी नायसा और बेटे युग को मीडिया की नज़रों से दूर बनाए रखा है.

इस पर काजोल कहती हैं, "मुझसे लोग अक्सर पूछते हैं कि नायसा फ़िल्मों में आएगी? वो सिर्फ़ 14 साल की है. मैं बच्चों पर किसी तरह का दबाव मीडिया या लोगों से नहीं चाहती, इसलिए उन्हें मैं लाइमलाइट से दूर रखती हूँ. मीडिया की नज़रों में आ जाने के बाद जाने अनजाने में दबाव आ ही जाता है. इसलिए मैंने और अजय ने तय किया है कि हम उन्हें मीडिया से दूर रखेंगे. मैं उन्हें करियर के चुनाव की आज़ादी देना चाहती हूँ. वो अपनी ज़िन्दगी में क्या करना चाहते हैं ये सिर्फ़ उनका फैसला होगा."

'स्टारडम के मायने बदले'

फ़िल्म इंडस्ट्री में 25 साल पूरे कर चुकीं काजोल के मुताबिक फ़िल्म इंडस्ट्री में स्टार और स्टारडम के मायने बदल गए हैं.

उनका कहना है कि पहले स्टार के इर्द-गिर्द रहस्य, अछूतपन और जादू का माहौल रहता था जो अब नहीं है. आज के स्टार तक पहुंचना आसान है. वो आम जनता से ज़्यादा जुड़े हुए है.

काजोल का कहना है कि फ़िल्म इंडस्ट्री बहुत बड़ी हो गई है जिसमें कई बदलाव आए हैं. इस बदलाव में फ़िल्म इंडस्ट्री के लोग बंटने के साथ-साथ व्यावसायिक भी हो गए हैं. उनके मुताबिक फ़िल्म इंडस्ट्री में विशेषज्ञता आई है और नए लोगों का आगमन भी हुआ है.

एक समय पर क्षेत्रीय फ़िल्में ना करने का फ़ैसला कर चुकीं काजोल अब अभिनेता धनुष के साथ तमिल फ़िल्म में नज़र आएंगी. क्षेत्रीय फ़िल्म से दूरी बनाए रखने के फैसले का निर्णय काजोल ने भाषा की जटिलता को दिया. पर अब काजोल को लगता है की वो चीनी फ़िल्म भी कर सकती है.

रजनीकांत की बेटी सौंदर्या रजनीकांत निर्देशित फ़िल्म वीआईपी 2 ललकार में काजोल के साथ रांझणा से मशहूर हुए धनुष भी नज़र आएंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

BBC Hindi
English summary
The meaning of star and stardom has changed in Industry says Kajol.
Please Wait while comments are loading...