For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    ठाकरे की स्पेशल स्क्रीनिंग- गुस्से से तमतमाते बीच में ही निकल गए फिल्म के डाइरेक्टर!

    |

    नवाजुद्दीन सिद्दिकी स्टारर फिल्म ठाकरे देशभर में रिलीज हो चुकी है। रिलीज से पहले फिल्म की टीम और खास लोगों के लिए ठाकरे की स्पेशल स्क्रीनिंग रखी गई थी। सूत्रों की मानें तो फिल्म के निर्देशक अभिजीत पानसे स्पेशल स्क्रीनिंग की बीच में ही बिना फिल्म देखे गुस्से से तमतमाते बाहर निकल आए। उस दौरान निर्देशक और फिल्म के राइटर संजय राउत के बीच काफी कहासुनी हुई।

    मणिकर्णिका VS ठाकरे- बॉक्स ऑफिस पर भिड़ी दो दमदार फिल्मेंमणिकर्णिका VS ठाकरे- बॉक्स ऑफिस पर भिड़ी दो दमदार फिल्में

    खबरों के अनुसार, फिल्म की स्क्रीनिंग के दौरान पानसे और उनके परिवार के लिए पीछे की सीट रिजर्व की गई थी। लेकिन उन्हें वहां पहुंचने में थोड़ी देर हुई और उनकी सीट किसी और को दे दी गई। वे जब पहुंचे तो उन्हें उनकी फैमिली के साथ आगे की सीटों पर बैठने के लिए कहा गया। इसी बात से अभिजीत नाराज हो गए और परिवार के साथ वहां से निकल गए।

    वहीं, कुछ लोगों का यह भी कहना है कि निर्देशक होने के बावजूद अभिजीत पानसे को फिल्म के प्रमोशन से शुरु से ही दूर रखा गया है। तो नाराजगी की एक वजह यह भी है। बता दें, यह फिल्म शिवसेना के एमपी और सामना के संपादक संजय राउत की है। जबकि फिल्म मनसे लीडर अभिजीत पानसे ने बनाई है।

    खैर, अभिजीत पानसे ने अपने खफा होने की खबर को अफवाह करार दिया है। उन्होंने कहा, मैं फिल्म की टीम से नाराज नहीं हूं। हां, मैं स्पेशल स्क्रीनिंग से बीच में निकल आया क्योंकि वहां काफी भीड़ हो चुकी थी और बैठने की जगह नहीं थी। इस मामले को ज्यादा तूल ना दी जाए।

    English summary
    Thackeray Director Abhijit Panse angrily walks out of the film's special screening. Here know the reason.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X