For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    मेरे पास कोई गॉडफादर नहीं था जो बस फोन घुमाए और मुझे अवार्ड्स मिलें - अमृता राव

    |

    अमृता राव, बाल ठाकरे की बायोपिक ठाकरे से बड़े परदे पर वापसी करने जा रही हैं। फिल्म में बाल ठाकरे की पत्नी, मीना ताई ठाकरे के किरदार में दिखाई देंगी। फिल्म में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी मुख्य भूमिका में दिखाई दे रहे हैं। इस रोल के बारे में बात करते हुए अमृता ने बताया कि उन्हें एक दिन कॉल आया कि फिल्म के लेखक संजय राउत आपसे मिलना चाहते हैं।

    संजय राउत, अमृता से मिले, उन्हें फिल्म की कहानी सुनाई और कहा कि मैं आपको मीना ताई के किरदार में देख चुका हूं। ये रोल आपको ही करना है। और इस तरह ये किरदार अपने आप उनकी झोली में आ गिरा। मुझे फिल्म को ना करने का मौका ही नहीं मिला। संजय राउत ने कहा कि आप ही हमारी मीना ताई हैं।

    इस रोल की तैयारी के लिए अमृता के पास ज़्यादा सामग्री नहीं थी। संजय राउत और बाल ठाकरे के बेटे उद्धव ठाकरे ने भी पुराने वीडियोटेप खोज निकाले कि कहीं कुछ मिल जाए पर कुछ भी नहीं था। मेरे पास बस मीना ताई की कुछ पुरानी तस्वीरें थीं और एक पुराना इंटरव्यू जहां, बाल ठाकरे की बेटी ने अपनी मां के बारे में कुछ बातें की थी।

    thackeray-actress-amrita-rao-opens-up-on-nepotism-her-filmography-and-career

    अपने करियर के बारे में बात करते हुए अमृता ने बताया कि उन्हें इंडस्ट्री में काफी साल हो गए हैं। अब तक तो कई लोग अपना सामान बांध कर चले जाते लेकिन वो कोशिश कर रही हैं और यहां टिकी हुई हैं। उन्होंने बताया कि कई ऑफर ऐसे होते हैं जहां वो काफी सीन से असहज हो जाती हैं इसलिए वो फिल्में रिजेक्ट कर देती हैं।

    अमृता ने एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में अपने करियर के बारे में काफी कुछ बताया। उनके करियर के बारे में कुछ निजी बातें पढ़िए यहां -

    हुई थीं रिप्लेस

    हुई थीं रिप्लेस

    अमृता राव ने बताया कि जब वो बॉलीवुड में नई नई आई थीं तो उन्हें एक रोल के लिए कंफर्म किया गया। लेकिन फिर डायरेक्टर को किसी बड़े आदमी ने फोन किया और उस फिल्म से अमृता राव को निकाल कर, किसी स्टार किड को ले लिया गया।

    बताए बिना हुईं थीं रिप्लेस

    बताए बिना हुईं थीं रिप्लेस

    इस वाकये के बारे में बात करते हुए अमृता ने बताया कि मुझे इस बात से दिक्कत नहीं थी कि मैं रिप्लेस हो गई। लेकिन मुझे ये ज़रूर खराब लगा कि डायरेक्टर ने मुझे फोन कर के ये बात बताना ज़रूरी भी नहीं समझा। गौरतलब है कि हाल ही में तापसी पन्नू को पति पत्नी और वो रीमेक से बिना बताए रिप्लेस कर दिया गया है।

    काश कोई होता

    काश कोई होता

    अमृता अपने करियर के बारे में बात करते हुए बताती हैं कि आज जब मैं पीछे मुड़कर देखती हूं तो लगता है कि अरे मैं ये काम और बेहतर कर सकती थी। लेकिन उस वक्त मेरे पास इंडस्ट्री में कोई ऐसा गॉडफादर नहीं था जो मुझे बता सके कि अरे तुमने ये अच्छा किया या फिर ये नहीं करना चाहिए था। काश मेरा कोई सीनियर एक्टर या एक्ट्रेस इतना करीबी होता कि मुझे दिशा दिखा पाता।

    मना नहीं करने आता था

    मना नहीं करने आता था

    अमृता बताती हैं कि चूंकि वो बाहर से थीं, इसलिए उन्हें नहीं पता था कि बिना सामने वाले के घमंड को चूर के या फिर उसके अहम को ठेस पहुंचाए बिना फिल्म रिजेक्ट कैसे की जाए। जिससे उनके रिश्ते बने रहे लेकिन उन्हें खराब फिल्में करने की ज़रूरत ना पड़े। अमृता बताती हैं कि उन्होंने अपने करियर से बहुत कुछ सीखा, लेकिन ये सब उन्हें पहले ही आ जाना चाहिए था।

    बहुत बड़ी गलतफहमी

    बहुत बड़ी गलतफहमी

    अमृता राव बताती हैं कि जब मैं इंडस्ट्री में आई तो बड़ी गफलत में थी कि मैं सबसे अच्छे से रहती हूं तो बाकी लोग भी मुझसे अच्छा ही बर्ताव करेंगे। लेकिन ये मेरी सबसे बड़ी गलतफहमी थी। ऐसा बिल्कुल नहीं होता है। जब आपके पास टैलेंट हो, आपकी फिल्में एक लाइन से हिट हो रही हों तो कुछ लोग होते हैं जिन्हें आपसे डर लगता है, और फिर आपके साथ पॉलिटिक्स की जाती है।

    हुई राजनीति का शिकार

    हुई राजनीति का शिकार

    अमृता बताती हैं कि वो भी बॉलीवुड में राजनीति का शिकार हुईं। लेकिन उसपर किसी का ज़ोर नहीं चलता है। अमृता ने बताया कि मेरे पास ऐसा कोई इंसान नहीं था जो मेरे लिए फोन उठाकर चीज़़ें ठीक कर सके। जो मुझे मैगज़ीन कवर के फोटोशूट दिलवा सके जिससे मैं चर्चा में रहूं। या फिर जो मुझे मेरे कम के लिए अवार्ड दिलवा सके। कुल मिलाकर मेरे पास कोई ऐसा नहीं था जो मेरे करियर का पूरा कंट्रोल अपने हाथ में लेकर देख पाता कि सब कुछ सही जा रहा है।

    तनुश्री को सलाम

    तनुश्री को सलाम

    बॉलीवुड के मी टू मूवमेंट के बारे में बात करते हुए अमृता ने कहा कि मैं तनुश्री को सलाम करती हूं कि उन्होंने इसके खिलाफ आवाज़ उठाई। उन्होंने कितने लोगों को अपनी बात कहने की हिम्मत दी। और अच्छी बात ये हुई कि इससे लोगों में डर बैठा है कि अब अगर आप किसी के साथ कुछ गलत करेंगे तो हो सकता है कि आपका पर्दाफाश हो जाए।

    बहुत लकी हूं

    बहुत लकी हूं

    अमृता अपनी किस्मत को शुक्रिया देते हुए बताती हैं कि उन्हें अपने काम में आज तक यौन उत्पीड़न या किसी भी तरह की बद्तमीज़ी का शिकार नहीं होना पड़ा। उन्होंने बताया कि वो लकी थी कि उनकी मां हमेशा सेट पर उनके साथ रहती थी। इसके साथ अमृता का परिवार फिल्मों से नहीं जुड़ा था और मुंबई का ही था जो कि काफी मददगार रहा।

    टीवी पर भी छाईं

    टीवी पर भी छाईं

    अमृता राव फिल्मों के बाद टीवी पर भी दिखाई दीं और उन्हें वहां भी काफी सराहा गया। एक सीरियल में वो लता मंगेशकर के किरदार में दिखाई दी थीं। ये सीरियल दो बहनों का था जो सिंगर बनती हैं लेकिन एक दूसरे की सहयोगी बनने की बजाय प्रतिद्विंद्वी बन जाती है। माना गया था कि ये सीरियल, लता मंगेशकर और आशा भोंसले की ज़िंदगी से प्रेरित था।

    ठाकरे से वापसी

    ठाकरे से वापसी

    ठाकरे के साथ अमृता काफी समय बाद बड़े परदे पर वापसी कर रहा हूं। उनके पास अपनी फिल्मोग्राफी में इश्क विश्क, सत्याग्रह, मैं हूं ना, विवाह जैसी फिल्में हैं। देखना है कि ठाकरे से अमृता को बॉलीवुड में एक और दिशा मिल पाती है या नहीं। नवाज़ुद्दीन सिद्दीक स्टारर ठाकरे, 25 जनवरी को रिलीज़ हो रही है।

    English summary
    Amrita Rao will be seen on the silver screen as Meena Tai Thackeray in Nawazuddin Siddiqui starrer Thackeray. Amrita recently opened about her journey in bollywood and how she wished she had a guide!
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X