For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    21 दिन के लॉकडाउन में फंसी स्वरा भास्कर, कहा - घर जाना है, परिवार की याद आ रही है

    |

    नरेंद्र मोदी ने आज देश भर में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित कर दिया है और अब जो जहां है वो वहीं अटक चुका है। ऐसे में स्वरा भास्कर का एक ट्वीट हम में से लाखों लोग की चिंता और इच्छा दोनों बयान कर रहा है।

    स्वरा ने ट्वीट करते हुए लिखा - घर जाना है। वाकई इस समय हर किसी को अगर कहीं भी सुरक्षित लग सकता है, वो है अपना घर। लेकिन कई ऐसे लोग हैं जो कई कारणों से ऐसा नहीं कर सकते हैं।

    स्वरा भास्कर भी मुंबई में काम करती हैं और वहीं रहती हैं। अब यूं तो वो कभी भी मुंबई से दिल्ली आ जा सकती हैं लेकिन इस समय पता नहीं कब तक के लिए वो मुंबई में अपने घर में ही कैद हो चुकी है।

    और ऐसे में घर की याद आना स्वाभाविक है। लेकिन ऐसे मौकों पर भी कुछ लोग को स्वरा का ये ट्वीट अटपटा लग गया। हालांकि स्वरा को जवाब देना आता है -

    अजीब से रिएक्शन

    अजीब से रिएक्शन

    स्वरा के पोस्ट पर अजीब सी प्रतिक्रियाएं आने लगीं और उन्होंने सीधा सा सवाल पूछा - मैं अकेली रहती हूं, अपने परिवार को मिस कर रही हूं जो दिल्ली में रहता है। अब इसमें क्या परेशानी है?

    दिक्कत क्या है?

    दिक्कत क्या है?

    गौरतलब है कि स्वरा भास्कर कुछ भी कहती हैं या बोलती हैं तो उसे तोड़ मरोड़कर एक राजनीतिक एंगल देकर उस बात का विवाद ज़रूर बन जाता है। स्वरा ने मज़ाकिया ट्वीट अपने ट्विटर पर पिन कर रखा है जिसमें उन्होंने चेतावनी दी है - अगर मेरे बारे में एक हफ्ते तक कोई कंट्रोवर्सी ना सुनाई दे तो समझ लेना मैं मर चुकी हूं।

    कैसे काटें समय

    कैसे काटें समय

    इस समय बाकी लोगों की तरह स्वरा भी अपना समय ट्विटर और इंस्टाग्राम पर memes देखते हुए बिता रही हैं।

    कुछ तो शर्म कर लेते

    कुछ तो शर्म कर लेते

    हाल ही में एम्स के डॉक्टरों ने शेयर किया कि उन्हें अपने ही घरों में रहने नहीं दिया जा रहा है क्योंकि वो कोरोना के मरीज़ों का इलाज कर रहे हैं। कई कई जगह तो डर के मारे लोगों ने घर खाली करने तक को कह दिया है। स्वरा ने इसे शेयर करते हुए लोगों को फटकार लगाई और कहा कि हमें शर्मिंदा होना चाहिए।

    बेहद शानदार सुझाव

    बेहद शानदार सुझाव

    वहीं स्वरा भास्कर लोगों को खाली समय में अच्छी चीज़ें करने का सुझाव भी दे रही हैं। जैसे कि उन्होंने संविधान नाम की एक डॉक्यूमेंट्री की बात की जिसे श्याम बेनेगल ने डायरेक्ट किया है।

    बेहतरीन पहल

    बेहतरीन पहल

    स्वरा भास्कर ने अपनी फेवरिट किताबों के भी सुझाव दिए जिसमें विक्रम सेठ की अ सूटेबल बॉय, एनिड ब्लाइटन की फार अवे ट्री सीरीज़, ज़े़डी स्मिथ की व्हाइट टीथ, देवदत्त पटनायक की जय, और देवदत्त पटनायक की शिव टू शंकर शामिल हैं।

    आगे बढ़ाइए कड़ी

    आगे बढ़ाइए कड़ी

    इस चर्चा को शुरू करने के लिए स्वरा ने अपने दोस्त मोहम्मद ज़ीशान अयूब का धन्यवाद किया और साथ ही उन्होंने अनुराग कश्यप, विक्रमादित्य मोटवाने, अनुभव सिन्हा, रीमा कागती, रिचा चड्ढा, श्रुति सेठ, मिनी माथुर, सोनम कपूर, जावेद अख्तर और शबाना आज़मी से भी उनकी लिस्ट शेयर करने का आग्रह किया।

    एक गुज़ारिश

    एक गुज़ारिश

    स्वरा भास्कर ने शाहीन बाग की औरतों से गुज़ारिश भी की अपने घरों में सुरक्षित रहने की। इस पर एक वेबसाइट को स्वरा बीजेपी के सामने हारती हुई दिखाई दीं। पता नहीं क्यों। लेकिन स्वरा ने भी जवाब देते हुए लिखा कि इसे सद्बुद्धि और ज़िम्मेदारी कहते हैं।

    सुरक्षित रहिए

    सुरक्षित रहिए

    बहरहाल, हम उम्मीद करते हैं कि ये 21 दिन हम और आप मिलकर अच्छे से संयम और समझदारी के साथ निकाल लेंगे। और शायद दूसरी तरफ की दुनिया वाकई बेहतर हो जाए। हमारी तरह, स्वरा भी आपसे यही गुज़ारिश करेंगी - सुरक्षित रहिए, घर में रहिए।

    English summary
    Narendra Modi has announced 21 days lockdown amidst corona virus outbreak ad Swara Bhaskar echoed everyone’s sentiments who are missing their homes.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X