For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुशांत सिंह राजपूत केस पर अमेरिका की बड़ी स्टडी- मर्डर से नेताओं को फायदा, सलमान- ठाकरे पर निशाना !

    |

    सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर एम्स की एक रिपोर्ट सामने आयी है। जिसमें मर्डर की थ्योरी को नकार दिया गया है। इस मामले को लेकर सुशांत के फैंस सोशल मीडिया पर फिर से एक बार एक्टर के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं। फैंस अभी भी इस पूरे केस को हत्या से जोड़ रहे है।

    सुशांत केस पर कंगना रनौत का मुंहतोड़ जवाब- राम भक्त हूं,अवॉर्ड वापस कर दूंगी, प्राण जाए पर वचन नही

    इस बीच अमेरिकन स्टडी की एक रिपोर्ट सामने आयी है। इसमें साफ तौर पर कहा गया है कि मर्डर थ्योरी का इस्तेमाल कुछ नेताओं, पत्रकारों और मीडिया हाउसेस ने अपने फायदे के इस्तेमाल के लिए किया है।

    मिशिगन यूनिवर्सिटी में एक असोसिएट प्रोफेसर के नेतृत्व में रिसर्चर्स की एक टीम ने यह स्टडी की है। इस स्टडी के अनुसार जो कॅान्टेंट बिल्कुल निराधार मर्डर थ्योरीज को प्रमोट कर रहा था। वहां पर सुसाइड थ्योरी से कहीं ज्यादा ट्रैक्शन मिला है।

    7 हजार यूट्यूब वीडियोज और 10 हजार ट्वीट्स

    7 हजार यूट्यूब वीडियोज और 10 हजार ट्वीट्स

    इस प्री-प्रिंट स्टडी बताती है कि राजनेताओं के अकाउंट्स सुशांत सिंह राजपूत केस में नरेटिव को सुसाइड से हत्या में बदलने में अहम रहे हैं। रिसर्च टीम के करीब 7 हजार यूट्यूब वीडियोज और 10 हजार ट्वीट्स का विश्लेषण किया है। साथ ही 2 हजार पत्रकारों और मीडिया हाउसेस और 1200 नेताओं से जुड़े थे।

    सुसाइड की जगह मर्डर

    सुसाइड की जगह मर्डर

    स्टडी में ये दिखाया गया है कि राजनेता ने शुरुआती स्टेज में इस केस को सुसाइड की जगह मर्डर की जगह पेश किया। फिर मीडिया ने इसको फॅालो किया। कई पॅालीटिकल अकाउंट्स ने जुलाई के बीच में सीबीआई जांच की मांग से जुड़ी चीजें पेश की। मीडिया ने अगस्त के शुरुआती वीक से महाराष्ट्र सरकार विरोध में चीजें आगे बढ़ाई।

    मीडिया स्पेस का इस्तेमाल

    मीडिया स्पेस का इस्तेमाल

    स्टडी में ये भी कहा गया रिया चक्रवर्ती, आदित्य ठाकरे, दिशा सालियन और सलमान खान इस पूरे केस में दुष्प्रचार अभियान के सबसे ज्यादा निशाने पर रहे। इस स्टडी से जुड़े प्रोफेसर जॅायजीत पाल के के अनुासार सोशल मीडिया के स्पेस को प्रभावी रूप से पेश किया गया था कि जिसमें भावनात्मत तौर पर पेश किया गया कि पूरा देश शामिल हो गया।

    आउटसाइडर की कहानी

    आउटसाइडर की कहानी

    पाल ने ये भी कहा कि सुशांत केस वर्तमान में भारत में एक बहुत ही महत्वपूर्ण कहानी है। जो फिल्म इंडस्ट्री में आउटसाइडर होने की वजह से पैर जमाने के लिए काफी मेहनत करता है। इसे काफी ऑर्गेनिक प्रतिक्रिया मिली है।

    बीजेपी नेता आक्रमक

    बीजेपी नेता आक्रमक

    स्टडी में ये भी पाया गया है कि बीजेपी से जुड़े अकाउंट्स मर्डर शब्द का इस्तेमाल करने में ज्यादा आक्रमक थे। डाटा में ये बताया गया है कि बीजेपी से जुड़े नेताओं ने सुसाइड की जगह मर्डर को नरेट किया है।

    मीडिया हाउस को आर्थिक

    मीडिया हाउस को आर्थिक

    पाल ने आगे कहा कि जब नेताओं या मीडिया हाउसों ने सुशांत के बारे में बात की तो उन्हें एंगेजमेंट मिला। अगर उन्होंने सुशांत के अलावा किसी और विषय पर एंगेजमेंट देखने को नहीं मिला है। मीडिया चैनल को इसका आर्थिक लाभ मिला है।

    English summary
    Sushant Singh Rajput murder turns into murder after suicide American study,here read details
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X