For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुशांत सिंह राजपूत केस : रिया के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे सुशांत के पिता, लगाए नए आरोप

    |

    सुशांत सिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की हुई है कि ये केस मुंबई ट्रांसफर किया जाए। इस मामले की सुनवाई 11 अगस्त को होनी है। अब सुशांत के पिता केके सिंह ने इस अपील के खिलाफ एक काउंटर लगाया है।

    सुशांत के पिता ने इस काउंटर एफिडेविट में कहा है कि जब मामला सीबीआई को ट्रांसफर हो चुका है तो केस को मुंबई ट्रांसफर करने की रिया की मांग रद्द हो जानी चाहिए।

    वहीं इस एफिडेविट में सुशांत के पिता ने रिया के खिलाफ कुछ नई बातें उजागर की हैं जिनमें रिया पर सुशांत के दोस्त और इस मामले के चश्मदीद और मुख्य गवाह सिद्धार्थ पिठानी को प्रभावित किया है। उन्होंने मुंबई पुलिस पर भी सवाल उठाते हुए कहा है कि सिद्धार्थ पिठानी का मुंबई पुलिस को लिखा ईमेल, रिया चक्रवर्ती तक क्यों और कैसे पहुंचा।

    गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत मामले में रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती से सुशांत के पैसों के बारे में ED लगातार पूछताछ कर रही है।

    मिली थी डेडलाइन

    मिली थी डेडलाइन

    सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र पुलिस, बिहार पुलिस और सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह को 7 अगस्त का समय दिया था केस से जुड़े अपने अपने तथ्य और बातें दायर करने के लिए। वहीं केस सीबीआई को सौंपा जा चुका है और मुंबई पुलिस से अपनी रिपोर्ट फाईल करने को कहा गया था।

    बिहार में दर्ज हुई थी FIR

    बिहार में दर्ज हुई थी FIR

    मुंबई पुलिस से हारकर, सुशांत सिहं राजपूत के पिता ने पटना में छह लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की थी जिसमें पैसा हड़पने, बंधक बनाने और आत्महत्या के लिए उकसाने जैसे आरोप थे। बेहद विस्तृत FIR में सुशांत के पिता केके सिंह ने साफ किया था कि उनके बेटे के साथ पिछले एक साल में क्या क्या हुआ।

    करोड़ों का ट्रांसफर

    करोड़ों का ट्रांसफर

    गौरतलब है कि जनवरी 2019 में सुशांत सिंह राजपूत के अकाउंट में लगभग 50 करोड़ रूपये थे जो मौजूदा समय में 1 करोड़ से कुछ ऊपर बचे हैं। लेकिन मुंबई पुलिस ने इस आधार पर कोई जांच नहीं की। जबकि सुशांत के पिता केके सिंह का आरोप है कि ये सारे पैसे रिया ने खर्च किए हैं।

    नहीं मिला सहयोग

    नहीं मिला सहयोग

    बिहार पुलिस FIR दर्ज होते ही मामले की छानबीन करने मुंबई पहुंची लेकिन उन्हें मुंबई पुलिस से कोई सहयोग नहीं मिला। एक तरफ जहां एक ऑन ड्यूटी IPS अधिकारी को क्वारंटीन पर भेज दिया गया वहीं दूसरी तरफ बिहार पुलिस को ना ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट दी गई, ना ही दिशा सालियान केस की फाईल।

    मुंबई पुलिस संदिग्ध भूमिका

    मुंबई पुलिस संदिग्ध भूमिका

    पूरे मामले में मुंबई पुलिस की भूमिका संदिग्ध कही जाने लगी। कई न्यूज़ चैनल ने सुशांत की सुसाइड को उनकी मैनेजर दिशा सालियान की सुसाइड से जोड़ कर देखा लेकिन मुंबई पुलिस ने दोनों मामलों को नहीं जोड़ा और साफ कहा कि एक एक्सीडेंटल मौत है और दूसरी सुसाइड।

    पलट गई मुंबई पुलिस

    पलट गई मुंबई पुलिस

    जहां मुंबई पुलिस ने शुरू से दिशा सालियान की मौत को accidental death कहा वहीं, सुप्रीम कोर्ट की डेडलाइन मिलते ही मुंबई पुलिस ने एक प्रेस नोट जारी किया जिसमें लिखा था कि अगर किसी को दिशा सालियान की मौत के बारे में कोई जानकारी है तो पुलिस को आकर बताएं।

    देश मांग रहा है न्याय

    देश मांग रहा है न्याय

    14 जून को सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही ज़्यादातर लोगों ने इसे सुसाइड नहीं माना। वहीं अगले ही दिन से सुशांत की मौत के लिए सीबाआई जांच की मांग की गई थी लेकिन महाराष्ट्र सरकार ने साफ कर दिया था कि वो मामले को सीबाई को नहीं सौंपेगी।

    पुलिस को दी थी जानकारी

    पुलिस को दी थी जानकारी

    सुशांत सिंह राजपूत के परिवार का कहना है कि उन्होंने फरवरी 2020 में बांद्रा पुलिस के डीसीपी को इस बारे में वॉट्सएप पर जानकारी दी थी कि सुशांत की जान को खतरा हो सकता है। पुलिस ये complaint लिखित मांग रही थी जबकि सुशांत का परिवार इसे अनौपचारिक रखना चाहता था। वहीं सुप्रीम कोर्ट की एक ruling कहती है कि किसी भी तरह की शिकायत - चाहे वो ईमेल से हो, मेसेज से हो या अन्य किसी माध्यम से हो, आधिकारिक complaint मानी जा सकती है।

    क्यों नहीं लिया एक्शन

    क्यों नहीं लिया एक्शन

    अगर पुलिस ने सुशांत के पिता की शिकायत को शिकायत के तौर पर नहीं भी लिया था तो भी सुशांत की मौत के बाद ये बात मान्य थी कि उनके परिवार ने पहले ही उनकी जान की चिंता करते हुए रिया के खिलाफ अनौपचारिक शिकायत की थी। फिर भी रिया चक्रवर्ती से हुई 9 घंटों की पूछताछ में इस बारे में कोई पूछताछ नहीं की गई।

    क्यों नहीं लिया एक्शन

    क्यों नहीं लिया एक्शन

    अब पूरा मामला सीबीआई के पास पहुंच चुका है और इस मामले में नए सिरे से जांच की जाएगी। रिया चक्रवर्ती, सुशांत सिंह राजपूत के साथ चार कंपनियों की मालकिन थीं जिनमें से दो के डायरेक्टर रिया के भाई शौविक चक्रवर्ती थे।

    English summary
    Sushant Singh Rajput’s father KK Singh files an affidavit in Supreme court against Rhea Chakraborty’s plea to transfer the case to Mumbai.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X