For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुशांत केस में बड़ा खुलासा- CCTV कंपनी मालिक ने कहा,'खराब नहीं था एक भी कैमरा, सब कुछ हुआ रिकॉर्ड'

    |

    सुशांत सिंह राजपूत केस में हर दिन नया खुलासा होता दिख रहा है, जो कि मामले को और संगीन बनाता चला जा रहा है। इस केस में सबसे अहम सबूत साबित हो सकता था सीसीटीवी फुटेज। लेकिन शुरुआत से ही मुंबई पुलिस का कहना था कि 13 और 14 जून, यानि की सुशांत के मौत के दिन बिल्डिंग और घर का कोई सीसीटीवी कैमरा काम नहीं रहा था।

    सुशांत सिंह राजपूत के बांद्रा अपार्टमेंट के कैंपस के कई हिस्सों में सीसीटीवी कैमरे हैं। उनके अपार्टमेंट में ही 14-15 कैमरे हैं। लेकिन पुलिस के मुताबिक, घर का कोई भी सीसीटीवी काम नहीं कर रहा था.. और अपार्टमेंट के बाहर सीटीवी कैमरे अभी तक नहीं लगे हैं।

    वहीं, अब रिपब्लिक चैनल से बात करते हुए सीसीटीवी कंपनी के मालिक ने कहा कि, उस दिन सुशांत के घर के सभी कैमरे काम कर रहे थे और घर में क्या क्या हुआ, सब रिकॉर्ड भी हुआ होगा। लेकिन मुंबई पुलिस मामले में कुछ छिपा रही है।

    खराब नहीं था कैमरा

    खराब नहीं था कैमरा

    सीसीटीवी कंपनी के मालिक के मुताबिक 13 जून और 14 जून को सीसीटीवी खराब नहीं था और वो सही काम कर रहा था। याद दिला दें कि 14 जून को ही सुशांत ने इस दुनिया को अलविदा कहा था।

    बिहार पुलिस ने की फुटेज की मांग

    बिहार पुलिस ने की फुटेज की मांग

    चैनल ने यह भी बताया कि बिहार पुलिस ने सुशांत के घर के बाहर से फुटेज की मांग की है और मुंबई पुलिस ने उन्हें अभी वो फुटेज नहीं सौंपी है। ऐसे में एक बार फिर मुंबई पुलिस सवालों के घेरे में आ रही है।

    कैमरे में सबकुछ रिकॉर्ड

    कैमरे में सबकुछ रिकॉर्ड

    सीसीटीवी कैमरा कंपनी के मालिक ने का कहना है कि उस दिन घर में क्या क्या हुआ.. वह सब कुछ कैमरे में रिकॉर्ड होगा। इस मामले में मुंबई पुलिस कुछ छिपा रही है।

    आत्महत्या या हत्या

    आत्महत्या या हत्या

    जाहिर है यदि 13 और 14 जून के सीसीटीवी फटेज पुलिस हासिल कर लेगी.. तो यह साफ हो जाएगा कि सुशांत ने सुसाइड किया था या वहां कोई और भी मौजूद था! इस एक सबूत से मामला काफी सुलझ सकता है।

    कई बातों का राज

    कई बातों का राज

    सुशांत के शव को फंदे से नीचे उतारने को लेकर भी अलग- अलग बातें अभी तक सामने आई हैं। नीरज (हेल्पर) का कहना है कि सुशांत का शव सिद्धार्थ पिठानी ने उतारा है। तो वहीं एंबुलेंस के ड्राइवर अक्षय का कहना है कि शव को उन्होंने उतारा है। इसके अलावा एंबुलेंस के मालिक लक्ष्मण का कहना है कि शव को पुलिस ने उतारा है।

    बिहार पुलिस कर रही है जांच

    बिहार पुलिस कर रही है जांच

    फिलहाल इस केस की छानबीन बिहार पुलिस कर रही है। बिहार पुलिस के चार अधिकारियों को इस केस हेतु मुंबई भेजा गया है। वहीं, लगातार सीबीआई जांच की मांग भी उठ रही है।

    सुशांत केस से जुड़ा डिनो मोरिया का नाम, 13 जून को की थी पार्टी? एक्टर ने कहा-'मुझे मत घसीटो'

    English summary
    In Sushant Singh Rajput Case, CCTV owner makes a big revelation that cameras were working on that day and it recorded everything what happened on the day of demise.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X