For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुहाना खान ने उन्हें काली कहने वालों को दिया जवाब, लोग शाहरूख की वजह से और ट्रोल करने लगे

    |

    सुहाना खान ने आज सोशल मीडिया पर अपनी एक तस्वीर शेयर करते हुए एक बहुत ही मज़बूत बात लिखी और उन सभी लोगों को जवाब दिया जो रोज़ उनका मज़ाक उड़ाते हैं या उन्हें नीचा दिखाने की कोशिश करते हैं। सुहाना ने लिखा - आजकल बहुत कुछ चल रहा है।

    लेकिन ये भी एक मुद्दा है जिसे ठीक करने की ज़रूरत है। ये मेरे बारे में नहीं है। हर उस लड़के लड़की के बारे में है जिसे बड़े होते समय कमतर महसूस करवाया जाता है, बिना उसकी किसी गलती के।

    मैं आज आपसे कुछ कमेंट्स शेयर कर रही हूं जो मुझे रोज़ लिखे जाते हैं। मुझे हमेशा से बहुत बड़े बड़े उम्र के लोगों ने ताना मारा है कि मैं काली हूं, भद्दी हूं। तब से जब मैं सिर्फ 12 साल की थी।

    सुहाना ने साथ में लिखा ये अजीब है कि ये लोग परिपक्व की श्रेणी में आते हैं। दुख की बात ये है कि हम भारतीय हैं और हमारा रंग ही यही है। हां हम अग अलग शेड में आते होंगे लेकिन आप मेलानिन को नहीं रोक सकते। अपने ही लोगों से नफरत करना आपकी मानसिकता दिखाता है।

    मुझे माफ कर दीजिए अगर आपको सोशल मीडिया, आपके परिवारों या शादी के रिश्तों ने ये सिखाया है कि अगर आपकी हाईट 5”7 और रंग गोरा नहीं है तो आप सुंदर नहीं है। उम्मीद करती हूं कि मेरे ये बताना आपकी मदद करेगा कि मेरी हाईट 5”3 और रंग भूरा है और मैं इससे बेहद खुश हूं।

    सुहाना ने साथ में लिखा कि लोग उनकी तस्वीरों पर किस किस तरह के कमेंट करते हैं। कोई लिखता है - ये तो काली थी, इतनी गोरी कैसे हो गई? कोई लिखता है - कल्लो ने सर्जरी करवा ी फिर भी आदमी ही लग रही है। कोई उन्हें काली बिल्ली लिखता है, तो कोई काली चुड़ैल।

    इतने के बावजूद लोगों ने सुहाना का साथ कम दिया और शाहरूख खान की एक गलती की वजह से उन्हें ट्रोल ज़्यादा किया।

    केवल समाज का दोष?

    केवल समाज का दोष?

    मैं पूरी तरह से सुहाना खान को सपोर्ट करती हूं लेकिन मुझे ये नहीं समझ आता कि हर बार ये लोग हर चीज़ के लिए समाज को दोष क्यों देने लग जाते हैं? ये लोग भूल जाते हैं कि मीडिया और ढेरों बॉलीवुड गाने भी इसके ज़िम्मेदार हैं। जब गानों में गोरिया या गोरी कहा जाता है तो भी उसका मतलब यही होता है। ये लोग ट्रोल को जवाब देना तो जानते हैं लेकिन खुद में कोई सुधार नहीं करना चाहते हैं।

    मुझे तो यही रंग चाहिए

    मुझे तो यही रंग चाहिए

    इस यूज़र ने सुहाना को जवाब देते हुए कहा कि मैं बस तुम्हें बताना चाहती हूं कि एक खूबसूरत लड़की हो। मैं यूके में रहती हूं और हर साल खुद को सूरज में टैन करती हूं जिससे कि मुझे ये सुनहरा भूरा रंग मिल सके।

    खुश हूं कि बात हुई

    खुश हूं कि बात हुई

    मैं बहुत खुश हूं कि उसने इस बारे में बात की। गहरे रंग का होना गलत नहीं है और ये आपको बदसूरत नहीं बनाता है। मैं भी गहरे रंग की हूं और मेरे आसपास के लोगों को इससे फर्क नहीं पड़ता। उनके लिए हर कोई खूबसूरत है। वो मुझे, जो मैं हूं, उसी तरह प्यार करते हैं।

    तुम्हारे पापा की गलती है

    तुम्हारे पापा की गलती है

    इस यूज़र ने शाहरूख खान को ताना मारते हुए लिखा - सुहाना, आज जो तुम झेल रही हो, उसका बीज तुम्हारे पापा ने बोया था, जब उन्होंने कहा था - मर्दों वाली फेयरनेस क्रीम। फिर भी तुम्हारे लिए कुछ काम की बताता हूं - रंगभेद तब तक नहीं खत्म होगा जब तक लोग सफेद कार में काली टायर लगाना नहीं बंद करेंगे। काले को अपशगुन और सफेद को शांति का रंग मानना नहीं छोड़ेंगे। शादियों में सफेद और मातम में काला पहनना नहीं छोड़ेंगे। जब तक हम ब्लैक लिस्ट बोलना नहीं छोड़ेंगे।

    रंगभेद बंद करो

    रंगभेद बंद करो

    इस यूज़र ने सुहाना का साथ देते हुए लिखा - सच में हमें ये रंगभेद बंद करना होगा। भूरी और गोरी लड़कियों के बीच भेदभाव छोड़कर हम लोगों की अंदर की खूबसूरती क्यों नहीं देखते?

    Victim कार्ड क्यों खेलना?

    Victim कार्ड क्यों खेलना?

    एक यूज़र ने सीधा सा सवाल पूछते हुए लिखा - अगर हम वाकई रंगभेद खत्म करना चाहते हैं तो इसकी शुरूआत हीरोइनों से क्यों ना की जाए? वो फिल्मों और सीरियल में अपने असली रंग के साथ आं। बिना मेकअप के। ये बेवकूफ लोग पहले खुद इस तरह की चीज़ों को बढ़ावा देकर समाज को खूबसूरती के मायने बताते हैं और फिर खुद ही Victim कार्ड खेलने लग जाते हैं।

    साथ से ज़्यादा मिले ट्रोल

    साथ से ज़्यादा मिले ट्रोल

    लोगों ने सुहाना का साथ देने से ज़्यादा उन्हें ट्रोल किया। इस यूज़र ने लिखा - तो सुहाना खान #endColorism हैशटैग के साथ ट्रेंड हो रही हैं लेकिन उनके पापा मर्दों वाली फेयरनेस क्रीम बेचते थे!

    फैन्स के भी झगड़े

    फैन्स के भी झगड़े

    एक और फैन इसमें अजय देवगन को लाए और लिखा - शाहरूख खान के फैन्स हर रोज़, अजय देवगन को उनके रंग के लिए ट्रोल करते हैं। लेकिन आज सुहाना खान के समर्थन में ट्वीट कर रहे हैं।

    आपसे खुश हूं

    आपसे खुश हूं

    एक और यूज़र ने सुहाना का साथ देते हुए लिखा - उम्मीद करती हूं कि आपको ये जानकर अच्छा लगे कि मैं भी गहरे रंग की हूं और अपने आपसे बहुत खुश हूं सुहाना।

    शाहरूख की गलती नहीं भूले

    शाहरूख की गलती नहीं भूले

    एक और यूज़र ने सुहाना को ट्रोल करते हुए कहा - तुम भी अपने पापा की तरह फेयर एंड हैंडसम क्रीम लगाओ।

    English summary
    Suhana Khan put up a strong message for trolls calling her Kaali but got trolled more due to Shahrukh Khan's fair and handsome endorsement.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X