»   » हंसो जियो मुस्कुराओ क्या पता कल हो ना हो

हंसो जियो मुस्कुराओ क्या पता कल हो ना हो

Subscribe to Filmibeat Hindi

बॉलीवुड के किंग खान शाहरुख खान ने अपने करियर मे कई ऐसे किरदार निभाए हैं जिन किरदारों ने लोगों को ज़िंदगी जीने का नया फलसफा समझा दिया। कल हो ना हो, वीर जारा, मोहब्बतें, रब ने बना दी जोड़ी जैसी कई फिल्मों में प्यार, दोस्ती जैसे कई रिश्तों को लेकर शाहरुख ने ऐसी बातें कहीं और इतनी खूबसूरती से इन रिश्तों को निभाया कि हर किसी ने ये दुआ की काश मेरी ज़िंदगी में भी ऐसा ही इंसान होता जो अपनी मुस्कुराहट और समझदारी से हमारे जीने का अंदाज बदल देता।

लेकिन इसी किंग खान ने हाल ही में गोवा में हुए एक थिंकफेस्ट के दौरान अपनी जिंदगी में मौजूद तन्हाई और अकेलेपन को बांटा। किग खान ने ये बताया की कभी कभी सब कुछ पाकर भी किस तरह इंसान अधूरा और अकेला होता है। शाहरुख खान बॉलीवुड के किंग खान होने के नाते उस शिखर पर हैं जहां कोई उन्हें नहीं छू सकता। दौलत, शोहरत, परिवार सब कुछ है किंग खान के पास लेकिन इसके बावजूद उनके दिल का एक कोना खाली है और इस खालीपन को कोई नहीं भर पाया।

किंग खान को खुद नहीं पता कि आखिर ये कैसा अधूरापन है। किंग खान ने ये भी कहा कि उनके दिल को छू देने वाले किरदार उनकी रियल लाइफ से प्रेरित होते हैं। वो अपने अधूरेपन को अपनी अदाकारी के जरिये लोगों से बांटते हैं। इस साल शाहरुख के बेहद करीबी दो लोग उन्हें छोड़ के चले गये इसे लेकर भी शाहुरुख दुखी हैं। पिछले कुछ समय से शाहरुख के ट्वीट्स भी उनके अधूरेपन और अकेलपन को दर्शा रहे हैं आइये आप भी पढ़िये हाल ही में शाहरुख द्वारा बांटे गये उनके अधूरे ट्वीट्स।

जिंदगी का संघर्ष

जिंदगी का संघर्ष

"ज़िंदगी का सबसे बड़ा संघर्ष है हमारी ये सोच कि हम जिन चीजों को चाहते हैं उन्हें हमेशा अपने पास रख सकते हैं और जिन्हें नहीं चाहते उन्हें छोड़ सकते हैं।"

तन्हा दिन तन्हा रात

तन्हा दिन तन्हा रात

"बहुत लंबा दिन और अब मैं इंतजार है और भी लंबी रात का। कभी कभी रात के अंधेरे में अपनी कार में तन्हा होना बहुत अच्छा लगता है। सिर्फ अपने साथ।"

पिताजी की याद

पिताजी की याद

"दिल्ली में अचानक मुझे याद आया कि आज मेरे पिताजी का जन्मदिन है। वो आज 88 साल के होते। मैं उन्हें इतना बूढ़ा सोच भी नहीं सकता। अच्छा है कि मैं उन्हें 50 साल यंग ही याद करता हूं।"

मौत एक घाव है

मौत एक घाव है

"मौत दिल में ऐसा घाव छोड़ जाती है जिसे कोई नहीं भर सकता। प्यार इतनी यादें छोड़ जाता है जिन्हें कोई नहीं चुरा सकता। आज मौत ने प्यार को आराम करने को छोड़ दिया है।"

यश चोपड़ा का निधन

यश चोपड़ा का निधन

"यश चोपड़ा के निधन के बाद अपने दुख को व्यक्त करते हुए शाहरुख ने लिखा जब भी मेरे अपने मुझसे जुदा होते हैं तो मुझे लगता है कि मेरा एक हिस्सा मुझसे अलग हो गया है। एक ऐसा भी दिन आएगा जब मेरे पास से अलग होने के लिए कुछ नहीं रहेगा और तब ये सोच आएगी कि उन्होंने हमेशा अपने अंतिम समय में मुझसे मेरा एक हिस्सा छीन लिया था। मेरे पास उनकी खुशबू रह गयी है। और मेरे पास हमेशा देने के लिए थोड़ा प्यार होगा।"

मेकअप मैन दादा की मौत

मेकअप मैन दादा की मौत

"अपने मेकअप मैन दादा के गुजरने के बाद भी शाहरुख काफी दुखी थे उन्होंने लिखा मेरे दोस्त पिता तुल्य मेकअप दादा रवी इंदुलकर आज हमें छोड़कर चले गये। ऐसा लग रहा है कि जैसे मेरा एक हिस्सा मुझसे अलग हो गया है। मिस यू दादा।"

जिंदगी का खालीपन

जिंदगी का खालीपन

"आप खाली नहीं रह सकते और ना ही अपने खालीपन को खाली चीजों, खाली वादों से, एतबार और डर से भर सकते हैं।"

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary
    Shahrukh got nostalgic about the moment when his father died and his body was brought home. Shahrukh says he always had a fear of failure that his father went through. He says it is lonely at the top and he is constantly fighting with the "feeling of emptiness".

    रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more