For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

20 साल की हुई कुछ कुछ होता है, सलमान के बिना पार्टी करेंगे शाहरूख - काजोल औऱ रानी मुखर्जी

|

करण जौहर की डेब्यू फिल्म कुछ कुछ होता है, आज पूरे बीस साल की हो चुकी है और इसलिए धर्मा प्रोडक्शन्स आज एक काफी बड़ी पार्टी करने वाला है। लेकिन जहां एक तरफ इस पार्टी में राहुल - अंजली और टीना एक साथ आएंगे वहीं, अमन यानि कि सलमान खान इस पार्टी में शिरकत नहीं करेंगे। दरअसल, सलमान खान अपनी आने वाली फिल्म भारत की शूटिंग में व्यस्त हैं।

इस फिल्म की कास्टिंग बहुत ही दिलचस्प रही है। करण जौहर ने सलमान खान वाले रोल के लिए कई लोगों को अप्रोच किया था लेकिन सबने रिजेक्ट कर दिया था। चंद्रचूड़ सिंह ने तो उन्हें काफी घंटे इंतज़ार करवाया और फिर फिल्म करने से मना कर दिया। फिर सलमान खान की बहन अलवीरा और करण जौहर काफी अच्छे दोस्त थे।

चंकी पांडे की एक पार्टी में सलमान, करण के पास आए और खुद ही पूछा कि मैंने सुना है कि तुम कोई फिल्म बना रहे हो। मुझे आकर फिल्म की कहानी सुनाई। अगले दिन करण ने सलमान को केवल पहला हाफ सुनाया और सलमान ने हां कर दी। करण जौहर ने पूछा कि अभी आपकी एंट्री भी नहीं तो सलमान ने कहा कि वैसे भी ये रोल कोई नहीं करेगा।

दरअसल, सलमान खान का परिवार यश जौहर की काफी इज़्जत करता था और इसलिए सलमान खान ने ये फिल्म करने से हां कर दी। और कुछ कुछ होता है को उसका अमन मिला। राहुल और अंजली यानि कि शाहरूख - काजोल ने दिलवाले दुलहनिया ले जाएंगे के दौरान ही करण की पहली फिल्म के लिए हां कर दी थी। उस फिल्म में करण जौहर असिस्टेंट डायरेक्टर थे।

[#18YearsAgo: शाहरूख सलमान की टीम ने अजय को दिया था ज़ख्म!]

इसके बाद टीना के रोल के लिए उन्होंने ट्विंकल खन्ना से लेकर रवीना टंडन तक कई हीरोइनों को अप्रोच किया लेकिन सबने मना कर दिया। बाद में आदित्य चोपड़ा ने उन्हें रानी मुखर्जी का नाम सुझाया था। और इस तरह फिल्म की कास्टिंग पूरी हुई थी।

बिना किसी लॉजिक के कहानी

ठीक है हमारे सामने नहीं मानेंगे तो मन में मान लीजिए लेकिन हां ये बातें काफी लॉजिकल हैं और कहानी की बजा देती हैं बैंड। पर अगर ये लॉजिक कहानी में डाल दिए जाते तो भी बज जाती कहानी की बैंड! नहीं समझे...लीजिए हम समझा देते हैं। अगर कुछ कुछ होता है में होते ये ट्विस्ट तो बज जाती कहानी की बैंड!

अंजली की शादी

ठीक है वो राहुल से प्यार करती थी पर इतनी ज़िद्दी बेटी किसकी होती है। क्या अंजली की मां को (पाय लागू रीमा लागू आंटी), अंजली की शादी की कभी चिंता नहीं हुई। अब ऐसा तो है नहीं कि राहुल - टीना ने बाल विवाह किया था (तब तो बालिका वधू भी नहीं थी कि कॉपी कर पाते), खैर पॉइंट ये है कि आठ साल तक अंजली की शादी क्यों नहीं हुई।

शादी की चिंता क्यों नहीं थी?

अगर अंजली पहले ही टाइम पर शादी कर लेती तो कहानी की बज जाती बैंड। क्योंकि तब फिर अंजली ज़्यादा से ज़्यादा एक बेबी सिटिंग सेंटर खोल लेती या डांस क्लासेस भी अच्छा ऑप्शन था। लेकिन हमारा सवाल वही है कि आखिर किसी को अंजली की शादी की चिंता क्यों नहीं थी?

छोटी अंजली पहले ही चुरा लेती चिट्ठी!

फिल्म में शाहरूख, मतलब राहुल की बेटी अंजली कहीं से भी good girlतो नहीं थी। जितनी खुराफाती वो थी उतने तो बचपन में हम भी नहीं थे। तो अगर उसे पता था कि उसे उसकी मां ने चिट्ठियां लिख कर दी हैं तो उसने पहले ही क्यों नहीं सारी पढ़ ली?

सही उम्र में शादी

हम तो बचपन में नई क्लास में जाते ही सबसे पहले इंग्लिश हिॆदी की स्टोरी पढ़ते थे। ये लकड़ी को जहां अकल लगानी चाहिए थी वहां लगाती तो शायद कहानी की बैंड बज जाती। पर अंजली की शादी तो सही उम्र में हो जाती।

अगर प्यार दोस्ती है तो पहले क्यों नहीं हुआ

फिल्म के एक सीन में राहुल कहता है प्यार दोस्ती है और सब पागल हो जाते हैं, आप, हम, देश और काजोल। पर भइया अगर प्यार दोस्ती है तो पहले क्यों नहीं हुआ। शाहरूख को रानी से प्यार हो जाता है तो वो उससे दोस्ती करने के पीछे पड़ जाता है तो इस हिसाब से तो प्यार हो जाए तो दोस्ती कर लो।

Two Timer था राहुल

मतलब देखा जाए तो राहुल हर लड़के की तरह दो दो लड़कियों के साथ टू टाइमिंग कर रहा था। ooops लेकिन अगर राहुल अंजली में प्यार हो जाता तो बज जाती कहानी की बैंड

सलमान खान होते पीछा करने वाले बॉयफ्रेंड

अगर सलमान खान पीछा करने वाला बॉयफ्रेंड होता तो उसे अंजली के हर मूवमेंट की खबर होती। और किसी से शादी करने से पहले आदमी बैकग्राउंड चेक कर लेता है न। ऐसा होता तो सलमान को राहुल के बारे में पता होता और वो और पता करवा लेता।

लेकिन अगर सलमान काजोल को छोड़ देता तो शायद बज जाती कहानी की बैंड। आखिर उन्हें शर्माते मुस्कुराते देखना किसे पसंद नहीं है। खैर ऐसा हो जाता तो काजोल सिंगल होती और शायद करन जौहर उनका और शाहरूख का रोमांस और ज़्यादा दिखा पाते। अब शाहरूख काजोल और रोमांस से बॉलीवुड प्रेमी कभी नहीं थक सकते ;)

अगर रानी को डॉक्टर कह देते बेड रेस्ट

रानी मुखर्जी अपनी डिलीवरी के बाद बहुत बीमार थीं। एक मिनट वो शायद मरने वाली थीं फिर भी इतनी लंबी लंबी आठ चिट्ठियां। और क्या उन्हें पता था कि अंजली अब तक उनके पति के लिए कुंवारी बैठी है। अब इतना भी गुडलुकिंग नहीं है वो C'mon!

खैर वो इतनी बीमार थीं तो उन्हें डॉक्टर को बेड रेस्ट करने देना चाहिए था और प्लीज़ बेड रेस्ट मतलब लंबी चिट्ठियां लिखना नहीं होता। Grow up!

अगर राहुल को फरीदा आंटी ने सच बोलना सिखाया होता

खैर क्या बोलें। इतनी अच्छी परवरिश लेकिन फरीदा आंटी राहुल को सच बोलना नहीं सिखा पाईं। पूरी फिल्म में राहुल ने कहा कि हम एक बार जीते हैं, एक बार मरते हैं, प्यार भी एक बार होता है और शादी भी एक ही बार की जाती हैं।

फिर एंड में आकर उन्होंने या तो पलटी मार ली या फिर काजोल से झूठ बोला। Hawwwwww Rahul चीटर ही नहीं Liar भी था, पर अगर बेचारा ऐसा नहीं करता तो शायद बज जाती कहानी की बैंड!

English summary
Karan Johar's debut vehicle Kuch Kuch Hota Hai turns 20 today and there will be a grand celebration at Dharma Productions but Salman Khan wont be a part as he is shooting for his upcoming film Bharat.
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more