For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    शमशेरा जैसी बेकार फिल्म देने के बाद संजय दत्त ने सीना ठोंक कर कही ये बात, दर्शकों को ही कहा बेअक़ल

    |

    रणबीर कपूर, संजय दत्त और वाणी कपूर स्टारर यशराज फिल्म शमशेरा एक हफ्ते से पहले ही बॉक्स ऑफिस पर धराशाई हो गई है। 150 करोड़ की ये फिल्म अब तक केवल 40 करोड़ का आंकड़ा बमुश्किल छू पाई है और ये यशराज फिल्म्स की जयेशभाई जोरदार और सम्राट पृथ्वीराज के बाद तीसरी बड़ी हार है।

    शमशेरा के ऊपर काफी पैसा खर्च किया गया और रणबीर कपूर की इस फिल्म के लिए काफी बड़ा प्रमोशन कैंपेन भी चलाया गया। लेकिन फिल्म रिलीज़ होते ही बॉक्स ऑफिस पर औंधे मुंह गिर गई और इसका कारण था फिल्म का बेहद खराब होना। शमशेरा की रिलीज़ के साथ ही दर्शकों ने रणबीर कपूर की काफी आलोचना शुरू कर दी और उन्हें और फिल्म को काफी ट्रोल किया गया।

    इसके बाद फिल्म के डायरेक्टर करण मल्होत्रा ने आगे आते हुए फिल्म के फ्लॉप होने की ज़िम्मेदारी अपने कंधों पर ली और फिल्म का बचाव करने के लिए मौजूद ना होने पर माफी मांगी। करण ने एक पोस्ट में लिखा था कि शमशेरा उनका है और उसकी जीत या हार भी उनकी है। वो अपनी फिल्म के साथ खड़ा रहना चाहेंगे क्योंकि उन्हें इस फिल्म पर विश्वास था। अब फिल्म में निगेटिव लीड में दिखाई देने वाले एक्टर संजय दत्त ने भी फिल्म का साथ देते हुए एक लंबा चौड़ा पोस्ट लिखा है। पढ़िए संजय दत्त का पोस्ट।

    Recommended Video

    Shamshera Review | Shamshera Songs | Shamshera Song Fitoor | Sanjay Dutt Reaction on Shamshera Flop
    शमशेरा पर संजय दत्त का पोस्ट

    शमशेरा पर संजय दत्त का पोस्ट

    फिल्में बनाना एक तरह की कला है, एक ऐसी कला जो आपको एक कहानी कहने पर मजबूर करती है, उस कहानी के ज़रिए, ऐसे लोगों को, ऐसे किरदारों को जन्म देती है जिनसे आप वास्तविक जीवन में कभी नहीं मिल पाएंगे। शमशेरा, ऐसी ही एक कला है जिसे प्यार से तराशने के लिए हमने अपना सब कुछ लगा दिया। ये फिल्म हमारे खून, पसीने और आंसू लगाकर बनाई गई है। ये एक सपना था जिसे हमने परदे पर साकार करने के लिए अपना सब कुछ झोंक दिया। फिल्में दर्शकों को दिया गया एक तोहफा होती है और हर दर्शक को कभी ना कभी, किसी ना किसी फिल्म में अभी या बाद में, अपना तोहफा मिल ही जाता है।

    मैं करण का कायल हूं

    मैं करण का कायल हूं

    मेरी फिल्म शमशेरा को लोगों से केवल नफरत मिल रही है। कुछ लोगों को तो इस फिल्म को बिना देखे ही इसके लिए पूरा ज़हर उग़ल रहे हैं। ये देख कर मेरा खून खौल जाता है कि लोगों को हमारी मेहनत की कद्र नहीं है और वो इसका सम्मान करना नहीं सीख पाए हैं। मैं करण को एक फिल्ममेकर के तौर पर काफी सम्मान देता हूं लेकिन निजी तौर पर मैं उसकी प्रतिभा का कायल हूं।

    शुद्ध सिंह के लिए लगी मेहनत

    शुद्ध सिंह के लिए लगी मेहनत

    अपने चार दशकों के करियर में मैंने जितने लोगों के साथ काम किया है, करण उनमें से बेस्ट डायरेक्टर में से एक है। करण के पास ऐसी काबिलियत है कि वो जो किरदार एक एक्टर के लिए गढ़ता है, वो किरदार, दर्शकों तक अपनी कहानी सफल तरीके से पहुंचाता है। हमने अग्निपथ में भी ऐसा ही किया था जहां उसने मुझे कांचा चीना का किरदार दिया था। उस किरदार पर काम करने का अनुभव बेहतरीन था। करण ने फिर से मुझ पर विश्वास दिखाया और शमशेरा बनाने में हमने काफी कुछ सीखा। शुद्ध सिंह को परदे पर उतारने के लिए खूब मेहनत की और इस मेहनत को करने में भी मज़ा आया।

    करण मेरा परिवार है

    करण मेरा परिवार है

    करण मेरे लिए परिवार की तरह है और हिट या फ्लॉप से परे, मुझे उसके साथ काम करने में हमेशा गर्व महसूस होता है। मैं हमेशा उसके साथ खड़ा रहूंगा। शमशेरा को एक दिन उसका कबीला ज़रूर मिलेगा और जब तक ये कबीला शमशेरा के साथ आकर खड़ा नहीं होता है, मैं शमशेरा के साथ मज़बूती से खड़ा हूं, जो यादें हमने एक साथ बुनी हैं, जो प्यार और विश्वास हमने एक दूसरे पर लुटाया है, जो ठहाके हमने साथ लिए हैं और जो मुश्किलें हमने साथ झेली हैं, उन सबके लिए मैं शमशेरा के साथ खड़ा हूं।

    रणबीर के लिए भी दुखी

    रणबीर के लिए भी दुखी

    मैं शमशेरा की पूरी कास्ट और क्रू को धन्यवाद देता हूं, ये टीम, इस फिल्म के साथ चार सालों से खड़ी है। कोरोना काल में डटी रही और मेरी ज़िंदगी के सबसे मुश्किल वक्त में भी मेरे साथ ये टीम खड़ी रही। इस फिल्म के ज़रिए, मैंने और रणबीर ने ज़िंदगी भर का साथ पा लिया है। स्क्रीन पर भावनाओं को उतारने का उसका तरीका और अभिनय का अंदाज़ बेहतरीन के स्तर से भी ऊपर का है। ये देखकर बड़ा दुख होता है कि कैसे लोग इस समय के सबसे काबिल और ईमानदार एक्टर के काम को नकारने में तुले हुए हैं।

    #ShamsheraIsOurs

    #ShamsheraIsOurs

    कला के प्रति हमारी ईमानदारी और शिद्दत उस नफरत से कहीं बढ़कर है जो इस समय हम पर बरसाई जा रही है। इस फिल्म के लिए और इससे जुड़े लोगों के लिए हमारे दिल में जो प्यार है, हर उस चीज़ से बढ़कर है जो हमारे लिए अभी कही जा रही है। बाकी कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना। शमशेरा हमारा है। #ShamsheraIsOurs

    फ्लॉप हुई शमशेरा

    फ्लॉप हुई शमशेरा

    रणबीर कपूर, वाणी कपूर और संजय दत्त स्टारर शमशेरा, 22 जुलाई को रिलीज़ हुई थी और रिलीज़ के साथ ही दर्शकों ने फिल्म को नकार दिया। फिल्म एक काल्पनिक कहानी है ब्रिटिश हुकूमत के ज़माने में खमेरन नाम के एक कबीले की जिसे नीची जात का माना जाता है। इस कबीले का मुखिया है शमशेरा जिसे ऊंची जात का पुलिस ऑफिसर शुद्ध सिंह धोखे से ग़ुलाम बना लेता है। इसके बाद शमशेरा और उसका बेटा बल्ली कैसे अपनी जाति को गुलामी से आज़ाद करवाते हैं यही फिल्म की कहानी है। फिल्म में रणबीर कपूर, शमशेरा और बल्ली के बाप - बेटे के डबल रोल में हैं।

    English summary
    Sanjay Dutt in a social media post defends his disastrous film Shamshera and tries to blame and shame audience for calling out Ranbir Kapoor for this film when they should have loved his effort.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X