For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सलमान खान ने पूरे किए करियर के 31 साल, कुछ यूं हुई थी शुरूआत, फैन्स ने मनाया जश्न

    |

    सलमान खान के फैन्स आज सलमान खान के करियर के 31 साल पूरे होने का जश्न मना रहे हैं। सलमान खान ने 1988 में बीवी हो तो ऐसी नाम की फिल्म के साथ अपने बॉलीवुड करियर की शुरूआत की थी। इस फिल्म में सलमान खान ने सहायक कलाकार की भूमिका निभाई थी और फिल्म में वो रेखा के बिगड़ैल देवर की भूमिका में थे।

    इस फिल्म को रिलीज़ हुए 31 साल हो गए हैं और इस बात का जश्न ट्विटर पर जमकर मन रहा है। सलमान खान ने भी इस मौके पर अपनी बचपन की एक तस्वीर पोस्ट करते हुए फिल्म इंडस्ट्री और फैन्स को अपने 31 साल के इस सफर के लिए दिल से शुक्रिया कहा।

    गौरतलब है कि बीवी हो तो ऐसी को लेकर एक दिलचस्प किस्सा फराह खान भी सुना चुकी हैं। इस फिल्म में सलमान खान की एक्टिंग किक बॉक्सिंग करते हुए होती है। फराह खान ने बताया कि शूटिंग शुरू होने से ठीक पहले सलमान उनके पास आए थे।

    फराह के पास पहुंच कर सलमान उनसे बैक फ्लिप मारना यानि कि गुलाटी मारना सीखने लगे और दो घंटे तक इसकी प्रैक्टिस की। तब कहीं जाकर वो फिल्म के मुहुर्त शॉट पर पहुंचे थे। वैसे सलमान खान कई बार अपने संघर्ष के दिनों की कहानी, कई इंटरव्यू में सुना चुके हैं। ऐसे ही एक इंटरव्यू के कुछ अंश, हम आपके लिए लेकर आए हैं।

    सलमान खान का डेब्यू

    सलमान खान का डेब्यू

    सलमान खान भी कई बार अपने डेब्यू और संघर्ष के दिनों के बारे में बात कर चुके हैं। एक इंटरव्यू के दौरान सलमान खान ने बताया था, "जब मैं बॉलीवुड में आया तो उस वक्त सनी देओल, जैकी श्रॉफ और संजय दत्त इतने बड़े स्टार थे जितना कि कोई सोच नहीं सकता। मैंने और अक्षय कुमार ने बड़ी मुश्किल से गलतियां कर कर के सीख ली है।"

    बन जाता था साइड एक्टर

    बन जाता था साइड एक्टर

    सलमान ने इसी इंटरव्यू में बताया, "जब भी मेरी फिल्म नहीं चलती थी या फिर मैं परेशान होता था कि करियर आगे नहीं बढ़ रहा है तो मैं संजय दत्त या सनी देओल के साथ फिल्म कर लेता। इसलिए मैंने साजन और जीत की। जब भी मुझे लगा कि फिल्में गड़बड़ चल रही हैं, मैंने इन सुपरस्टार्स के साथ फिल्म कर किसी तरह अपना करियर बचा लिया था।"

    नहीं मिली थी मदद

    नहीं मिली थी मदद

    सलमान खान की मानें तो उन्होंने इंडस्ट्री में बहुत स्ट्रगल किया है। ये वो दौर था जब सलमान खान अपने पांव जमाने की कोशिश कर रहे थे पर कोई उनकी मदद नहीं करता था। उनके पिता सलीम खान भी नहीं।

    क्या हिट क्या फ्लॉप

    क्या हिट क्या फ्लॉप

    सलमान खान बताते हैं कि फिल्म के हिट फ्लॉप से उस वक्त मुझे फर्क ही नहीं पड़ता था क्योंकि फिल्में ही नहीं ऑफर होती थीं। जो मिल रहा है कर लो, स्क्रिप्ट चुनने का, सुनने का कोई ऑप्शन नहीं था। आज 30 साल बाद वो मौका है कि मैं स्क्रिप्ट तक बदलवा लेता हूं।

    पहले से सुपरस्टार्स की भीड़

    पहले से सुपरस्टार्स की भीड़

    उस दौर के सुपरस्टार थे जैकी श्रॉफ, सनी देओल, अनिल कपूर। और कोई भी उनके पिता के पास सुझाव लेने आता था तो वो कभी हीरो के लिए सलमान का नाम नहीं लेते थे पर इन स्टार्स का नाम लेते थे।

    सेकंड लीड से डेब्यू

    सेकंड लीड से डेब्यू

    सलीम खान से कोई उनके बेटे के लिए सुझाव मांगता ही नहीं था तो वो कैसे उसका नाम बता दें। सलमान का मानना है कि इसलिए इंडस्ट्री में वो गलतियां कर कर के सीख चुके हैं। सलमान खान ने रेखा और फारूख शेख की फिल्म बीवी हो तो ऐसी से डेब्यू किया था। वो फिल्म के सेकंड लीड थे।

    1988 में पहली फिल्म

    1988 में पहली फिल्म

    सलमान खान की पहली फिल्म 1986 में आई थी और इसके बाद भी कोई उन्हें काम देने तो तैयार नहीं था। इस फिल्म में सलमान खान को किसी ने ज़्यादा नोटिस भी नहीं किया था।

    सूरज ने किया साइन

    सूरज ने किया साइन

    सूरज बड़जात्या ने उन्हें मैंने प्यार किया के लिए साइन किया और इस फिल्म से सलमान की ज़िंदगी बदली। हालांकि इस फिल्म के लिए सलमान खान से पहले अरमान कोहली फाइनल हो चुके थे। मैंने प्यार किया के बाद भी सलमान खान के नाम को कोई भी नहीं सुझाता था। उनकी कद काठी भी ऐसी नहीं थी कि वो हीरो दिखें।

    अंदाज़ अपना अपना

    अंदाज़ अपना अपना

    मैंने प्यार किया और अंदाज़ अपना अपना के बीच सलमान खान ने 12 फिल्में की, जिनमें से कुछ हिट थीं और कुछ फ्लॉप। और कुछ को देखकर तो आज वाकई लगेगा कि सलमान खान ने ये फिल्में क्यों की थीं।

    हम आपके हैं कौन

    हम आपके हैं कौन

    इसके बाद सलमान खान असली स्टार बने थे हम आपके हैं कौन से और उन्होंने बॉलीवुड को बताया कि वो खान हैं....सलमान खान। ये फिल्म आज भी हिंदी सिनेमा के इतिहास की सबसे बेहतरीन फिल्मों में से गिनी जाती है।

    स्क्रिप्ट छोड़ने का मौका नहीं

    स्क्रिप्ट छोड़ने का मौका नहीं

    उस दौर में सलमान खान के पास स्क्रिप्ट पढ़कर चुनने का मौका ही नहीं था। जो काम मिला वो कर लेते थे। यही कारण है कि करियर के शुरूआती दिनों में उनके नाम लगातार फ्लॉप फिल्में हैं।

    खूब की मेहनत

    खूब की मेहनत

    हालांकि उन्होंने हर किरदार पर काफी मेहनत की। उनके पिता ने किरदार चुनने में उनकी मदद की पर किसी से उनके लिए सिफारिश नहीं की।

    फ्लॉप की बहार

    फ्लॉप की बहार

    एक दौर ऐसा भी था जब सलमान खान ने बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप फिल्मों की लाइन लगा दी थी। लेकिन वो अपनी गलतियों से सीखे। और आज आलम ये है कि सलमान खान को वाकई हिट फ्लॉप से कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

    English summary
    Salman Khan thanked his fans with an emotional note after they celebrated 31 golden years of Salman Khan on twitter. Salman Khan made his debut with Biwi Ho To Aisi in 1988.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X