For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सलमान खान ने फैन्स को बुरी तरह लताड़ा - जनाज़े उठाने और राम नाम सत्य है बोलने के लिए तैयार हो?

    |

    कोरोना वायरस को लेकर लोग अभी भी नहीं संभल रहे हैं और अब सलमान खान ने दो टूक बात करने का फैसला करते हुए फैन्स के लिए एक वीडियो डाला है। इस वीडियो में सलमान खान की बातें आपको झकझोर देंगी।

    सलमान ने कहा - ज़िंदगी का बिग बॉस शुरू हो गया है। सब घर में बैठे हैं लेकिन कुछ लोग हैं जो उल्लंघन कर रहे हैं। हम हाल ही में दो दिन की छुट्टी के लिए आए थे लेकिन सबकी छुट्टी हो गई। कोरोना ने सबकी छुट्टी कर दी।

    पहले लगा था कि बस एक Flu है, खत्म हो जाएगा, घर चले जाएंगे। लेकिन फिर लॉकडाउन हुआ और जब ल़ॉकडाउन शुरू हुआ तो मामला बड़ा सीरियस हो गया। यहां पर हमारा पूरा परिवार है।

    मेरी अम्मी, मेरी दो बहनें, उनके बच्चे और कुछ काम से संबंधित लोग यहां पर आए थे जो अब यहीं पर फंस चुके हैं। और हम सब दोस्त बन गए। हमने एक नियम बनाया कि यहां जो है वो यहीं रहेगा। सलमान आगे लोगों पर जमकर बरसे -

    सब हो जाएंगे पॉज़िटिव

    सब हो जाएंगे पॉज़िटिव

    जो पॉज़िटिव टेस्ट किया गया मरीज़ है उसका दुख ना समझना, गैर इंसानियत है। जो पॉज़िटिव है ज़ाहिर सी बात है उसने एहतियात नहीं रखा है, उससे बहुत बड़ी गलती हुई है। जो निगेटिव है, वो मेरी गारंटी है कि बहुत ही जल्द पॉज़िटिव हो जाएंगे और अपने पूरे खानदान और समाज को ये बीमारी दे देंगे। खानदान से मोहल्ले को और मोहल्ले से शहर को।

    अल्लाह के घर जाना है?

    अल्लाह के घर जाना है?

    सरकार ने बस इतना ही तो कहा है कि बाहर मत जाओ, अकेले रहो, घर में रहो, दोस्तों से मत मिलो, पार्टी मत करो। नमाज़ पढ़ना है घर पर पढ़ो, पूजा पाठ करना है तो घर पर करो। अगर अल्लाह के घर जाना है, परिवार के साथ जाना है तो निकलो बाहर। मरना तो सबको है लेकिन मरना कौन चाहता है? भारत की आबादी को कम करना चाहते हो?

    अपने घर से मारने की शुरूआत करो

    अपने घर से मारने की शुरूआत करो

    कहां से शुरूआत करोगे? अपने परिवार के साथ? डॉक्टर का साथ ना देना, सरकार का साथ ना देना, पुलिस का साथ ना देना, बैंक का साथ ना देना कहां तक सही है? ये निगेटिव सोच कहां तक सही है? अगर आपने सरकार की बात मानी होती तो ये लॉकडाउन अभी तक खत्म हो चुका होता और कोरोना भी। अगर आप इस तरह बाहर नहीं निकल रहे होते तो पुलिस आपको डंडे नहीं मार रही होती।

    छोटा सा काम है, वो नहीं कर पा रहे?

    छोटा सा काम है, वो नहीं कर पा रहे?

    आपको किसने रोका है? अकेले जाओ, राशन लेके आओ, सरकार ने वादा किया है तो सबको मिलेगा। आपको क्या लगता है? पुलिस वाले, बैंक वाले, डॉक्टर - नर्स इनको कोरोना नहीं हो सकता? इनके परिवार नहीं हैं? लेकिन वो आपके लिए 18 घंटे काम कर रहे हैं। ये बीमारी ऊंच नीच, जात पात, अमीर गरीब, छोटा बड़ा, कम उमर, हम उमर कुछ नहीं देखती। पुलिस अपनी ड्यूटी निभा रही है लेकिन आपको छोटा सा काम दिया गया आप वो भी नहीं कर पा रहे हैं।

    कमाल के लोग हो

    कमाल के लोग हो

    मैं कुछ लोगों को जानता हूं जो घर के बाहर कभी नहीं निकलते थे लेकिन जब से कहा गया है कि बाहर मत निकलो वो बाहर ही घूम रहे हैं। कमाल हैं आप लोग! आप सबकी जान खतरे में डाल रहे हैं। कमाल है।

    डॉक्टरों पर पत्थर मार रहे हो?

    डॉक्टरों पर पत्थर मार रहे हो?

    डॉक्टर आपकी जान बचाने आपके मोहल्ले तक आ रहे हैं और आप उन पर पत्थर मार रहे हैं, वाह! जो मरीज़ पॉज़िटिव है, वो अस्पताल से भाग रहा है। कहां जाओगे भागकर ? किधर भाग रहे हो - ज़िंदगी या मौत?

    पूरा परिवार लेकर चल बसोगे

    पूरा परिवार लेकर चल बसोगे

    जिन लोगों के दिमाग में ये चल रहा है कि हमें नहीं होगा, वो अगर पुलिस नहीं होती तो हिंदुस्तान के ढेर सारे लोगों को लेकर चल बसे होते। मैं उनकी दिक्कत समझ रहा हूं जिनके पास कुछ खाने को नहीं है, बच्चों को खिलाने को नहीं है।

    चंद जोकर कर रहे हैं हालात खराब

    चंद जोकर कर रहे हैं हालात खराब

    इतना अच्छा काम हो रहा है लेकिन चंद जोकरों की वजह से ये बीमारी फैली जा रही है। अगर आप ढंग से पेश आ रहे होते तो पुलिस भी ढंग से पेश आ रही होती।

    कंधा दोगे? जनाज़ा उठाओगे?

    कंधा दोगे? जनाज़ा उठाओगे?

    चीन में शुरू हुआ था, चीन में कब का खत्म हो गया लेकिन इन चंद लोगों की वजह से, पूरा हिंदुस्तान लंबे समय के लिए घर में बैठेगा। मान गए, आप इतने बहादुर हैं कि आप अपने परिवार वालों को कंधा दोगे? उनकी अर्थी उठाओगे? क्यों अपने परिवार के लिए राम नाम सत्य है करोगे? क्यों अपने परिवार के यमराज और मलिक उल मौत बन रहे हो।

    सेना ना बुलानी पड़े

    सेना ना बुलानी पड़े

    इस बात के दो ही पहलू है, या तो सब बच जाएंगे, या सब मरेंगे। आप तय कर लो क्या करना है। दुआ करो कि वो नौबत ना आए कि आपको समझाने के लिए सेना को बुलाना पड़े। सलमान ने फैन्स को समझाने की कोशिश की है और आप लोग भी उनकी बात एक बार फिर से गौर से सुनिए।

    English summary
    Salman Khan reprimanded fans for not understanding the intensity of corona. He asks fans if they are interested in the last rites of their families?
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X