»   » #Trouble...प्यार है...परिवार है...कारोबार है...फिर भी सलमान इतना परेशान!

#Trouble...प्यार है...परिवार है...कारोबार है...फिर भी सलमान इतना परेशान!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

सलमान खान को तो फिलहाल सबसे लकी बॉलीवुड हीरो होना चाहिए। ना कोई टेंशन ना कोई चिंता। प्यार है, परिवार है, कारोबार है। लेकिन सलमान फिर भी खुश नहीं है। इसका कारण है चर्चा जो उनके और लूलिया के नाम पर हो रही है।

दरअसल, सलमान खान शरमीले तो हमेशा से थे लेकिन अब इस उम्र में मिल रही ढेर सारी बधाइयों से वो असहज यानि कि uncomfortable हो रहे हैं। उन्हें बिल्कुल पसंद नहीं आ रहा कि लोग उन्हें और लूलिया को लेकर बधाइयां दें, गिफ्ट भेजें। लेकिन सलमान हैं कि किसी को मना नहीं कर पा रहे हैं।
[#IshqiyaPics: जब रोमांस करने के लिए सलमान हों...तो नज़र हटे भी कैसे!] 

वहीं दूसरी तरफ, उनके और लूलिया के बारे में शादी की अफवाहों से बॉलीवुड की गपशप गली में शोरगुल मचा हुआ है। कुछ का तो ये भी कहना है कि 18 नवंबर को सलमान शादी कर लेंगे, क्यों वो कारण जानिए यहां।

ज़ाहिर सी बात है कि इन सब की आदत होने में सलमान को थोड़ा टाइम तो लगेगा। वैसे स्क्रीन पर भले ही सलमान ने जितना रोमांस किया हो लेकिन प्यार को लेकर उनके विचार काफी क्यूट हैं -
 

प्यार में शरम

प्यार में शरम

बेसिकली लूलिया और सलमान के बारे में जो भी बधाई दे रहा है उससे सलमान खान को काफी शर्म आती है और यही कारण है कि उन्हें पसंद नहीं आ रहा कि लोग उनके नए रिलेशनशिप पर बधाई दें।

किस करने में शर्म?

किस करने में शर्म?

सलमान से पूछा गया कि किस करने में इतना क्यों शरमाते हैं। सलमान का कहना था कि SHY होने की बात नहीं है बस मुझे इसकी ज़रूरत नहीं महसूस होती है। जब सारा रोमांस बिना किस के ही इतनी अच्छी तरह दिखाया जा रहा है तो किस की क्या ज़रूरत है।

भरोसेमंद नहीं हूं

भरोसेमंद नहीं हूं

सलमान खान ने कहा कि मैं Loyal नहीं हूं, मतलब मुझपर कोई भरोसा नहीं किया जा सकता है। यही कारण है कि सलमान को कमिटमेंट से इतना डर लगता है।

नहीं पसंद पब्लिक रोमांस

नहीं पसंद पब्लिक रोमांस

सलमान ने आगे कहा कि मुझे पब्लिक में रोमांस करना नहीं आता है। मैं अपनी गर्लफ्रेंड का हाथ भी नहीं पकड़ सकता सबके सामने। मेरे घर में ऐसा कभी नहीं हुआ,मेरे पिता ने ऐसा कभी नहीं किया।

नहीं पसंद डिनर पर जाना

नहीं पसंद डिनर पर जाना

सलमान खान ने कहा कि उन्हें डेट पर या डिनर पर जाना पसंद नहीं। उन्हें अच्छा नहीं लगता कि वो खाना खा रहे हैं और लोग उनकी तस्वीरें ले रहे हैं।

कैंडिल लाइट डिनर

कैंडिल लाइट डिनर

कैंडिल लाइट डिनर तो और बेकार चीज़ है। दो मोमबत्ती में खाना कैसे दिखेगा। अब ऐसे में और दिक्कत हो जाती है। ना खाना दिखे ना इंसान।

हमेशा लड़ाई

हमेशा लड़ाई

कैंडिल लाइट डिनर पर बातें शुरू होंगी और शादी तक पहुंच जाती हैं। और फिर वो हमेशा लड़ाई पर ही खत्म होती है। दो बार कैंडिल लाइट डिनर किया और दोनों बार यही हुआ है।

जो घर में नहीं तो बाहर कैसे

जो घर में नहीं तो बाहर कैसे

सलमान ने आगे कहा कि रोमांस बड़ी ही पर्सनल चीज़ होती है। जो काम आप घर पर मां बाप के सामने नहीं कर सकते वो पब्लिक में सबके सामने कैसे कर लेते हैं।

कॉन्सेप्ट में ही झोल

कॉन्सेप्ट में ही झोल

सलमान की इस लाइन पर तो रणबीर याद आ जाएंगे - किसी से मिलो और उसके साथ सारी ज़िंदगी गुज़ार लो...ऐसा होता नहीं है।
[शादी इस दाल चावल for 50 साल Till you die - ये जवानी है दीवानी!]

Please Wait while comments are loading...