»   » सलमान ने एश्वर्या के साथ हम दिल दे चुके सनम को बताया बेस्ट MEMORY और मुस्कुराते हुए कहा...

सलमान ने एश्वर्या के साथ हम दिल दे चुके सनम को बताया बेस्ट MEMORY और मुस्कुराते हुए कहा...

Subscribe to Filmibeat Hindi
Aishwarya Rai Bachchan REVEALS Salman Khan REJECTED to play her Brother's role | FilmiBeat

सलमान खान को पता है कि हेडलाइन्स कैसे देनी है और इस मामले में वो मीडिया को निराश कभी नहीं करते हैं। तो हुआ यूं कि आयुष शर्मा की डेब्यू फिल्म लवरात्रि के ट्रेलर लॉन्च के दौरान उनसे उनके फेवरिट नवरात्रि की याद के बारे में पूछा गया। तो सलमान खान का जवाब बिना रूके तपाक से आया कि मेरे लिए तो हम दिल दे चुके सनम ही याद है।

इसके बाद सलमान ने ढोली तारो बोला, थोड़ा रूके और मुस्कुराने लगे। बस क्या, फिर तो यही आज की सुबह का मसाला बनना था। तो हमने भी आपको परोस दिया है। सलमान खान और ऐश्वर्या राय का नाम आज भी साथ में फैन्स लेते हैं तो आंहें भर ही लेते हैं। खैर, हम दिल दे चुके सनम बॉलीवुड की बेस्ट गुजराती फिल्म है, इसमें कोई शक नहीं।

salman-khan-talks-about-hum-dil-de-chuke-sanam-days-at-loveratri-trailer

बात करें लवरात्रि की तो फिल्म का ट्रेलर रिलीज़ हो चुका है और लोगों को पसंद भी आ रहा है। लेकिन अगर सबसे ज़्यादा कुछ पसंद आ रहा है तो वो है लवरात्रि का गरबा सॉन्ग जो टिपिकल गुजराती गरबा गीत है। 

salman-khan-chooses-hum-dil-de-chuke-sanam-at-loveratri-trailer

बात करें हम दिल दे चुके सनम की तो सलमान खान और ऐश्वर्या राय एक ऐसा प्रेमी जोड़ा है जिसका अंत भले ही थोड़ी अजीब तरीके से हुआ हो, पर जब तक ये दोनों साथ थे, बॉलीवुड में इनसे रोमांटिक कोई कपल नहीं था।

salman-khan-talks-about-hum-dil-de-chuke-sanam-days-at-loveratri-trailer

सलमान और ऐश की प्रेम कहानी शुरू हुई हम दिल दे चुके सनम के सेट पर। पर संजय लीला भंसाली की इस फिल्म के लिए शाहरूख और आमिर पहली चॉइस थे, सोचिए ज़रा और शाहरूख और आमिर समीर और वनराज के किरदार में होते तो बज जाती न कहानी की बैंड।

अगर समीर को म्यूज़िक नहीं क्रिकेट पसंद होता

अगर समीर को म्यूज़िक नहीं क्रिकेट पसंद होता

मान लीजिए कि सलमान खान का पहला प्यार म्यूज़िक नहीं होता तो वो सात समुंदर पार करके भारतीय संगीत सीखने नंदनी के पापा के पास ही क्यों आते।

वो किसी और चीज़ में दिलचस्पी लेते तो क्रिकेट...बॉस्केटबॉल...पेंटिंग वगैरह वगैरह

अगर मीका ने गाया होता गाना

अगर मीका ने गाया होता गाना

समीर का गाना सुनकर ही नंदिनी के पापा उसे संगीत सिखाने के लिए तैयार हो जाते हैं। लेकिन मान लीजिए कि उस समय भी हमारे दर्शकों में मीका के गानों का क्रेज़ होता तो गाना वही गाते, शंकर महादेवन नहीं...

और विक्रम गोखले मीका जैसी आवाज़ वाले लड़के अलबेला सजन की जगह साड़ी के फॉल सा सिखाकर कहानी की बैंड बजा रहे होते।

वनराज को गाना गाने आता

वनराज को गाना गाने आता

नंदिनी और समीर का प्यार सुबह रियाज़ करते करते परवान चढ़ा था। मान लीजिए कि वनराज अजय देवगन को भी गाने में थोड़ा इंटरेस्ट होता तो वो भी नंदिनी के पापा के स्टूडेंट होते और दोनों एक दूसरे को समीर के पहले से जानते होते...

who Knows प्यार हो जाता...और अजय देवगन और ऐश्वर्या का रोमांस कहानी की बैंड ही बजा सकता है (हम किसी से कम नहीं नाम की फिल्म याद है न!

समीर गुरू दक्षिणा देने की बजाय चैलेंज करता

समीर गुरू दक्षिणा देने की बजाय चैलेंज करता

ये वक्त के साथ न सलमान खान बूढ़े हो गए हैं इस फिल्म में। भई ये कोई बात हुई लड़की को छोड़ कर गुरू दक्षिणा देकर चलते बने!

अब यही दस साल पुराने मैंने प्यार किया वाले सलमान होते तो बाउजी को चैलेंज करके अपना प्यार जीत कर जाते....

ये बुआ थोड़ा डबल मंथरा होतीं

ये बुआ थोड़ा डबल मंथरा होतीं

इन बुआ ने फिल्म में जगह जगह शकुनी मामा और मंथरा का फील दिया है। लेकिन बुई रोल की डेप्थ में नहीं गई। जब इन्हें पता था कि नंदिनी की पतंग कहां कहां उड़ रही है तो पहले ही बता देते...

क्या पता समाज के डर से समीर नंदिनी की शादी करा दी जाती लेकिन तब वनराज के बिना बज जाती कहानी की बैंड!

वनराज इतना राम भगवान की फील वाला पति नहीं होता

वनराज इतना राम भगवान की फील वाला पति नहीं होता

अगर वनराज इतने राम भगवान की फील नहीं देते और नॉर्मल पति होते तो या तो इन दोनों का तलाक हो जाता या फिर ये अपनी पत्नी से मारपीट करते। अब इतने अच्छे रोमांटिक ट्रैक के बाद, ऐसा सीरियस ट्रैक तो बजा ही देता कहानी की बैंड!

नंदिनी को समीर के खत टाइम पर मिलते

नंदिनी को समीर के खत टाइम पर मिलते

अब क्या बताएं...इंटरनेट वॉट्स ऐप का ज़माना होता तो इतना नाटक नहीं होता। मान लीजिए समीर के लिखे खत नौकर ने टाइम पर दे दिए होते तो नंदिनी शायद घर से भाग गई होती, नहीं भी भागी होती तो वनराज के लिए कोई ज़्यादा काम नहीं बचता..बस खाली होकर वो कहानी की बैंड ही बजाते!

समीर ने गुजराती नहीं सीखी होती

समीर ने गुजराती नहीं सीखी होती

समीर ने अगर गुजराती नहीं सीखी होती, तो क्लाईमैक्स के सीन में वो वनराज को ढोली तारो गाकर नहीं सुनाते...वनराज आकर नंदिनी को नहीं सुनाता और BIG POINT...ढोली तारो फिल्म में होता ही नहीं...ढोली तारो के बिना हम दिल दे चुके सनम....इससे अच्छा कहानी की बैंड ही बजा दो!

नंदिनी समीर को ही चुनती

नंदिनी समीर को ही चुनती

हम दिल दे चुके सनम का बेस्ट सीन ही ये था...जब नंदिनी समीर को टाटा करके वनराज के पास आ ही जाती है...लेकिन ओह गॉड अगर उसे वनराज में रब नहीं दिखता और वो समीर के साथ ही इटली में सेटल हो जाती तो वनराज के साथ ढोली तारो बैंड बाजे रे गाकर हम सब कहानी की बैंड बजाते!

शाहरूख होते समीर तो आमिर वनराज

शाहरूख होते समीर तो आमिर वनराज

मतलब ऐश को आमिर को छोड़ने की प्रैक्टिस हो जाती, राजा हिंदुस्तानी फिर हम दिल दे चुके सनम....खैर अगर शाहरूख NNNNNNनंदिनी करते इस फिल्म में तो नंदिनी की मां को उनसे प्यार हो जाता क्योंकि शाहरूख मम्मियों को बड़ा पसंद आते हैं...

याद करिए DDLJ, कल हो ना हो, वीर ज़ारा.....एक मिनट और अगर ऐश को शाहरूख में ही रब दिख जाता तो...दोनों फिल्म का प्लॉट थोड़ा सेम टाइप लग रहा है...खैर कहानी की बैंड तो बजती ही!

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary
    Salman Khan was asked his favorite Navratri song at Loveratri trailer launch and he undoubtedly chose Dholi taaro from Hum Dil De Chuke Sanam with a cheeky smile.

    रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more