For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    रिया चक्रवर्ती का सुशांत की बहन पर केस, परिवार के वकील का दावा: मुंबई पुलिस को वापस लाने की साज़िश

    |

    रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह राजपूत केस में पासा पलटते हुए अब सुशांत सिंह राजपूत की बहन प्रियंका सिंह के खिलाफ उन्हें बिना डॉक्टर की सलाह के डिप्रेशन की बोगस दवाएं देने का आरोप लगाया है। इस आरोप में रिया ने साफ किया है कि यही दवाईयां खाने के पांच दिन बाद सुशांत सिंह राजपूत की मौत हो गई।

    अब सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह का कहना है कि ये केवल एक षड्यंत्र है परिवार के खिलाफ बातें बनाने का और मुंबई पुलिस को केस में वापस लाने का।

    विकास सिंह का कहना है कि रिया बस किसी भी तरह मुंबई पुलिस को इस केस में वापस लाना चाहती हैं जिससे कि वो अपने हिसाब से इस केस में कुछ ना कुछ गड़बड़ कर सकें जिससे कि जांच पर असर पड़े।

    गौरतलब है कि सुशांत का परिवार पहले ही मुंबई पुलिस के खिलाफ बयान दे चुका है और कह चुका है कि उन्हें मुंबई पुलिस पर इस केस में बिल्कुल भरोसा नहीं हैं। वहीं कई और बातों ने मुंबई पुलिस को शक के घेरे में लाकर खड़ा किया।

    दिशा सालियान केस पर मदद

    दिशा सालियान केस पर मदद

    गौरतलब है कि जब सीबीआई को केस ट्रांसफर करने से पहले सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई पुलिस को 3 दिन की डेडलाइन दी उसके तुरंत बाद मुंबई पुलिस ने एक प्रेस रिलीज़ जारी करते हुए दिशा सालियान केस पर लोगों से जानकारी मांगी। शुरू से ही दिशा के केस को सुशांत के केस से जोड़ के देखा जा रहा था और मुंबई पुलिस की हड़बड़ाहट ने लोगों का शक बढ़ा दिया।

    कोई भी आया गया

    कोई भी आया गया

    रिपब्लिक टीवी ने कुछ वीडियो जारी किए जहां सुशांत की मौत के बाद भी उनकी बिल्डिंग में लोग आ जा रहे हैं। सुशांत के कमरे से एक लड़का काला बैग लेकर निकलता दिखा और बिल्डिंग में एक लड़की घुसते दिखी जिसे बाद में रिया के भाई शौविक की खास दोस्त बताया गया। लेकिन इतने लोग आ जा क्यों रहे थे, इसका मुंबई पुलिस के पास कोई जवाब नहीं था।

    बेड और सीलिंग की दूरी

    बेड और सीलिंग की दूरी

    सबसे अहम सवाल जो कई बार किया जा चुका है वो है बेड से सीलिंग की दूरी जो कि सुशांत की हाइट से केवल एक इंच ज़्यादा है। मुंबई पुलिस ने ये थ्योरी साफ करने की कोशिश करते हुए सफाई दी थी कि बेड और सीलिंग की ऊंचाई और सुशांत की हाईट में भले ही ज़्यादा अंतर नहीं था लेकिन पंखा बीचों बीच नहीं था। सुशांत फंदा बनाकर बेड के किनारे झूल गए। लेकिन इस बात पर फिलहाल किसी को विश्वास नहीं हो पाया।

    आठ घंटों में रिया की सच्चाई

    आठ घंटों में रिया की सच्चाई

    मुंबई पुलिस ने रिया चक्रवर्ती से 8 घंटों तक पूछताछ की लेकिन इस पूछताछ में उन 15 करोड़ की बात नहीं निकली जिनका ज़िक्र सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने अपनी FIR में किया है। जबकि सुसाइड के मामले में अगर पूछताछ हो रही थी तो सबसे पहले पैसों को लेकर पूछताछ की जानी चाहिए थी।

    क्यों लिखा मराठी में बयान

    क्यों लिखा मराठी में बयान

    हाल ही में सुशांत के परिवार ने कहा है कि मुंबई पुलिस ने जो बयान उनसे साईन करवाया वो सब मराठी में लिखा था। जो उनमें से किसी की भाषा नहीं है। लेकिन पुलिस ने ज़बरदस्ती इस बयान पर साईन करवाए। अगर किसी को बयान समझ नहीं आए थे तो मुंबई पुलिस ने साईन करवाया क्यों?

    वीडियो लीक की सच्चाई

    वीडियो लीक की सच्चाई

    एक वीडियो लीक हुआ जो सुशांत के कमरे में पुलिस के पहुंचने के बाद का है। इस वीडियो में सुशांत का शरीर बेड पर चादर से ढंका हुआ है और पुलिस ये कहते हुए दिख रही है कि अगर ये वीडियो लीक हुआ तो इंवेस्टिगेशन चौपट हो जाएगा। इस वीडियो पर लगातार सवाल उठाए गए।

    गले पर पड़ा निशान

    गले पर पड़ा निशान

    अर्णब गोस्वामी ने अपने शो में एक और सीधा सवाल पूछा सुशांत सिंह राजपूत के गले में पड़े निशान को लेकर। उन्होंने कहा एक्सपर्ट्स का कहना है कि ये निशान उस तरह के नहीं है जिस तरह के कपड़े से उन्हें लटका हुआ बताया गया है। इसे कभी कभी Staged Suicide भी कहा जाता है। लेकिन पुलिस ने इस तरफ से कोई जांच करने की बजाय 14 जून को 15 मिनट के अंदर बयान कैसे दिया कि सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या से अपनी जान ले ली है।

    रिया के पलटते बयान

    रिया के पलटते बयान

    रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह राजपूत की एक मौत के एक महीने बाद ट्वीट कर इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की थी। लेकिन फिर वही रिया चक्रवर्ती सुप्रीम कोर्ट में इस केस को पटना से मुंबई ट्रांसफर करने की मांग करती दिखाई देने लगीं। मुंबई पुलिस लगातार इस मामले में रिया की मदद करती नज़र आई।

    परिवार पर मुंबई पुलिस का प्रेशर

    परिवार पर मुंबई पुलिस का प्रेशर

    सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील का कहना है कि परिवार पर मुंबई पुलिस ने लगातार प्रेशर बनाया कि वो इस केस में कुछ बड़े प्रोडक्शन हाउस के नाम लें। क्या वाकई पुलिस इस जांच को दिशाहीन कर कुछ समय के लिए बढ़ाकर इसे बंद करना चाहती थी?

    65 दिन तक जांच

    65 दिन तक जांच

    दिलचस्प ये है कि इतने तथ्य सामने आने के बावजूद मुंबई पुलिस अपनी सुसाइड थ्योरी पर कायम रही और लगभग 65 दिनों में इतने लोगों से पूछताछ के बावजूद मुंबई पुलिस ने किसी पर कोई FIR दर्ज नहीं की थी जिसके बाद मामला सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया।

    English summary
    Rhea Chakraborty has filed a case against Sushant Singh Rajput’s sister for giving him non prescribes drugs. SSR family lawyer claims it is an attempt to bring back Mumbai Police into picture.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X