For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    एक्टर ने कसा तंज- "सोनाक्षी सिन्हा जैसे लोगों को रामायण दोबारा जरूर देखना चाहिए, उन्हें फायदा होगा"

    |

    दूरर्दशन पर रामायण, महाभारत समेत 90 के दशक के कई सीरियलों की शुरुआत की गई है। जिसे लेकर फैंस बेहद उत्साहित हैं। लोगों का कहना है कि दूरदर्शन एक बार फिर टेलीविजन का स्वर्ण काल वापस लेकर आया है। वहीं, पुराने सीरियलों के री टेलीकास्ट पर शक्तिमान फेम अभिनेता मुकेश खन्ना का कहना है कि रामायण, महाभारत जैसे शोज के दोबारा दिखाए जाने से सोनाक्षी सिन्हा जैसे लोगों को मदद मिलेगी, जिन्हें पौराणिक कथाओं के बारे में कुछ पता नहीं है।

    ई टाइम्स से हुई बातचीत में मुकेश खन्ना ने एकता कपूर पर भी महाभारत को बिगाड़ने का आरोप लगाया। और कहा कि आज कल के सीरियलों ने लोगों के दिमाग को गंदा कर दिया है। रामायण, महाभारत जैसे शोज के साथ लोग एक बार फिर कुछ अच्छा सीख पाएंगे।

    उन्होंने कहा, जो दर्शक ये शोज उस वक्त नहीं देख पाए हैं, उनके लिए यह अच्छा मौका है। साथ ही यह सोनाक्षी सिन्‍हा जैसे लोगों के लिए भी मददगार होगा, जिन्‍हें हमारी पौराणि‍क कथाओं के बारे में कोई जानकारी नहीं है। उनके जैसे लोगों को यह भी नहीं पता है कि भगवान हनुमान किसके लिए संजीवनी लेकर आए थे।

    कंस किसका मामा?

    कंस किसका मामा?

    एक्टर ने कहा, कुछ दिनों पहले मैं एक वीडियो देख रहा था सोशल मीडिया पर.. जहां कुछ युवाओं से सवाल किया गया कि कंस किसका मामा था? और उनमें से किसी को भी जवाब नहीं पता था। किसी ने तो दुर्योधन कहा।

    भारतीय संस्‍कारों से भटक गई है पीढ़ी

    भारतीय संस्‍कारों से भटक गई है पीढ़ी

    आज की जेनरेशन दूसरी कई चीजों में ज्‍यादा उलझी हुई है। सास-बहू सीरियल्‍स, टिकटॉक वीडियोज, पश्‍च‍िमी सभ्‍यता, इन सब के कारण आज की पीढ़ी भारतीय संस्‍कारों से भटक गई है। इतिहास, पौराण‍िक कथाओं, आध्‍यात्‍म के लिए उनके पास समय नहीं है और ना ही वह इस ओर समय देना चाहते हैं।

    लोग अब इमोशनल नहीं

    लोग अब इमोशनल नहीं

    एक्टर ने कहा कि लोगों के पास अब टीवी के अलावा भी कई ऑप्शन हैं। लेकिन मैं मानता हूं कि ये सारी चीजों ने हमें प्रोग्रेसिव तो बना दिया है, लेकिन लोग अब इमोशनल नहीं रह गए हैं। ना बच्चे परिवार के साथ बैठते हैं, ना साथ समय गुजारते हैं। इन सीरियलों के दोबारा आने से हम वापस जड़ की ओर जाएंगे।

    दिमाग प्रदूषित कर दिया है

    दिमाग प्रदूषित कर दिया है

    उन्होंने आगे कहा- 'मुझे लगता है कि आज के सीरियलों ने लोगों के दिमाग को प्रदूष‍ित कर दिया है और अब समय है उसे सैनिटाइज करने का। मुझे नहीं लगता है कि आज के सीरियलों में जैसी महिलाओं को दिखाया जा रहा है, वो हमारे देश की हैं। आज के टीवी सीरियल्‍स ने डेली सोप्‍स की दुनिया का कत्‍ल कर दिया है। हमारे देश की महिलाएं कैसी हैं, वो जानने के लिए रामायण, महाभारत देंखे।

    मुझे पहले रामायण पसंद नहीं थी

    मुझे पहले रामायण पसंद नहीं थी

    मुकेश खन्ना ने कहा- मुझे पहले रामायण देखना पसंद नहीं था। मुझे महाभारत देखना पसंद है, क्‍योंकि उसमें एक गति है। अभी हाल ही मैंने रामायण देखना शुरू किया, उसमें हर सीन के बाद रवींद्र जैन का एक गाना, एक चौपाई है। अरुण गोविल ने क्‍या खूब काम किया है राम के रूप में। उन्‍होंने एक स्‍माइल पकड़ी और अंत तक नहीं छोड़ा।

    रिकॉर्डतोड़ टीआरपी

    रिकॉर्डतोड़ टीआरपी

    बता दें, रामायण और महाभारत के री-टेलीकास्ट ने रिकॉर्डतोड़ टीआरपी कमाई है। दोनों सीरियल आज भी सुपरहिट रहे हैं।

    महादान के बाद, अब शाहरुख खान ने कोरोना से लड़ने के लिए दिया अपना ऑफिस, फैंस ने कहा-सच्चा हिंदुस्तानीमहादान के बाद, अब शाहरुख खान ने कोरोना से लड़ने के लिए दिया अपना ऑफिस, फैंस ने कहा-सच्चा हिंदुस्तानी

    English summary
    The reruns of Ramayan and Mahabharat will help people like Sonakshi Sinha, who don't know anything about mythology, says Shaktimaan fame actor Mukesh Khanna.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X