»   » 'राम लखन' के रीमेक में क्यों नहीं है टाइगर?

'राम लखन' के रीमेक में क्यों नहीं है टाइगर?

Posted By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

फिल्म हीरोपंती से लोगों के दिलों में जगह बनाने वाले अभिनेता टाइगर श्रॉफ ने कहा है कि वो अपने पापा जैकी की किसी भी फिल्म की रीमेक में काम नहीं करेंगे क्योंकि वो अपनी तुलना अपने पापा से नहीं चाहते हैं।

टाइगर ने दो टूक शब्दों में कहा कि मैं और मेरे पापा दोनों बहुत अलग हैं इसलिए मैं उनकी निभाई किसी भी भूमिका को प्ले नहीं करूंगा। मालूम हो कि ऐसी खबर आयी थी कि निर्देशक रोहित शेट्टी, सुभाष घई की मेगाहिट फिल्म 'राम लखन' के रीमेक बनाने जा रहे हैं, जिसमें जैकी वाली भूमिका टाइगर करने वाले हैं , जिस पर टाइगर ने यह जवाब दिया।

आपको बता दें कि दूसरे शो मैन कहे जाने वाले सुभाष घई ने 1989 में मेगाहिट फिल्म 'राम लखन' बनायी थी जिसमें अभिनेता अनिल कपूर, जैकी श्रॉफ और अभिनेत्री माधुरी दीक्षित, डिंपल कपाड़िया ने काम किया था।

Pics: अभिनेता टाइगर श्रॉफ की तस्वीरें

टाइगर ने कहा, "मैं खुश हूं कि दर्शकों और प्रशंसकों ने मुझे सराहा। दर्शकों का प्यार पाना और अपनाया जाना सबसे खुशी का पल है।"

आईये डालते हैं टाइगर श्राफ की तस्वीरों पर एक झलक...

पापा की फिल्म की रीमेक में नहीं

पापा की फिल्म की रीमेक में नहीं

टाइगर श्रॉफ ने कहा है कि वो अपने पापा जैकी की किसी भी फिल्म की रीमेक में काम नहीं करेंगे क्योंकि वो अपनी तुलना अपने पापा से नहीं चाहते हैं।

विश्व ताइकवांडो मुख्यालय में सम्मानित

विश्व ताइकवांडो मुख्यालय में सम्मानित

अपनी पहली फिल्म 'हीरोपंती' में अपने स्टंट्स को लेकर मशहूर हुए अभिनेता टाइगर श्रॉफ को हाल ही में सियोल के कुक्कीवॉन विश्व ताइकवांडो मुख्यालय में सम्मानित किया गया है।

माता-पिता को निराश नहीं करना चाहता

माता-पिता को निराश नहीं करना चाहता

टाइगर ने कहा कि मैं अपने माता-पिता को निराश नहीं करना चाहता। मैं जो कर रहा हूं, उसके प्रति ईमानदार रहना मेरे लिए महत्वपूर्ण है।

फिर से साजिद-सबीर-टाइगर

फिर से साजिद-सबीर-टाइगर

टाइगर फिर फिर से निर्माता साजिद नाडियावाला और निर्देशक सबीर खान के साथ काम कर रहे हैं। तीनों ने साथ में हीरोपंती जैसी सफल फिल्म दी है।

पिता के छाया की जरूरत नहीं

पिता के छाया की जरूरत नहीं

टाइगर ने कहा कि दूसरी फिल्म भी उतनी ही महत्वपूर्ण है जितनी कि पहली फिल्म थी। लोगों ने पहली फिल्म मेरे पिता के कारण देखी थी। मैं अपने पिता की छाया में नहीं रहना चाहता।

English summary
One-film-old Tiger Shroff is sure about one thing, he doesn't want to step into his father's shoes for "Ram Lakhan" remake if at all it's offered to him.
Please Wait while comments are loading...